जन्‍माष्‍टमी का त्‍योहार नजदीक ही है। इस त्‍योहार पर हर घर में भगवान श्री कृष्‍ण का जन्‍म उत्‍सव मनाया जाता है और उनके बाल स्वरूप लड्डू गोपाल की पूजा की जाती है। इस दिन वह सभी कार्य किए जाते हैं, जो श्री कृष्ण को प्रिय होते हैं। ऐसी ही एक चीज है, जो श्री कृष्ण को इतनी प्रिय है कि उसके बिना वह प्रसाद भी ग्रहण नहीं करते हैं। दरअसल, हम बात कर रहे हैं तुलसी की पत्ती की। 

तुलसी श्री कृष्ण को उतनी ही प्रिय है, जितनी की राधा रानी। इसलिए जन्‍माष्‍टमी पर तुलसी के विशेष उपाय करके आप भगवान श्री कृष्ण का आशीर्वाद पा सकते हैं। खासतौर पर जिन लोगों के विवाह में बाधा आ रही है, उन लोगों के लिए जन्‍माष्‍टमी के दिन तुलसी के विशेष उपाय बताए गए हैं। 

इस विषय पर हमारी बात भोपाल के ज्योतिषाचार्य एवं हस्तरेखार्विंद विशेषज्ञ शास्त्री विनोद सोनी पोद्दार से हुई। पंडित जी ने हमें बताया, 'विवाह में आ रही अड़चनों को दूर करने के लिए आप तुलसी के कुछ विशेष उपाय जन्‍माष्‍टमी के दिन कर सकते हैं। क्योंकि इससे श्री कृष्ण प्रसन्न होंगे और शादी में आ रही बाधाएं भी दूर होंगी।' कुछ उपाय पंडित जी ने हमें बताएं भी हैं। 

इसे जरूर पढ़ें: Expert Tips: तुलसी के पत्‍तों को तोड़ने से पहले इन 6 बातों का रखें ख्‍याल

tulsi  parikrama  for  marriage

नियमित दीपक जलाएं 

तुलसी को देवी लक्ष्‍मी का ही एक स्वरूप माना गया है। पंडित जी कहते हैं, 'नियमित रूप से आपको तुलसी जी के पौधे की पूजा करनी चाहिए। अगर लंबे वक्त से आपकी शादी में बाधा आ रही है, तो नियमित आपको चमेली के तेल का दीपक तुलसी के पौधे के पास रखना चाहिए। इस दौरान ध्‍यान रखें कि दीपक पौधे के इतने नजदीक न हो कि पत्तियां जलने लगें।' आप गाय के दूध से तैयार घी का भी दीपक तुलसी के पौधे के नीचे रख सकते हैं, इससे भी विवाह में आ रही बाधाएं दूर होंगी। 

यह चीजें करें अर्पित 

विवाह योग कन्या यदि हर शुक्रवार के दिन देवी तुलसी को सुहाग की सामग्री जैसे- सिंदूर, बिंदी, आलता, लाल दुपट्टा आदि अर्पित करती है, तो इस उपाय को अपनाने पर भी विवाह में आ रही बाधाएं दूर होती हैं। पंडित जी कहते हैं, 'जन्‍माष्‍टमी के दिन भी आप देवी तुलसी को श्रृंगार का सामान चढ़ा सकती हैं। इससे भी शादी में आ रही अड़चन दूर हो जाएगी।'

इसे जरूर पढ़ें: Expert Tips: देवी लक्ष्‍मी की कृपा चाहती हैं तो सही दिशा में रखें तुलसी का पौधा

tulsi  mantra  for  good  life  partner

तुलसी की परिक्रमा 

जन्‍माष्‍टमी के दिन आप तुलसी की 108 बार परिक्रमा करें। इस दौरान आप तुलसी चालीसा का पाठ करें। यदि आप ऐसा करते हैं, तो शादी में आ रही सभी बाधाएं दूर होने लगती हैं और आपको मनचाहा साथी भी मिल जाता है। 

तुलसी के पौधे पर जल चढ़ाएं 

अगर आपके किसी भी काम में रुकावट आ रही है, तो आपको रोज सुबह तुलसी के पौधे पर जल जरूर चढ़ाना चाहिए। इसके साथ ही, आपको 'महाप्रसाद जननी, सर्व सौभाग्यवर्धिनी, आधि व्याधि हरा नित्यं, तुलसी त्वं नमोस्तुते।।' मंत्र का जाप करना चाहिए। ऐसा करने से जीवन के अलग-अलग क्षेत्र में आ रही बाधाओं के साथ, शादी में आ रही बाधाएं भी दूर हो जाएंगी।  

Recommended Video

शादी में आ रही बाधाओं को दूर करने के लिए आपको इन उपायों को तो आजमा कर देखना ही चाहिए, साथ ही पंडित जी को अपनी कुंडली भी जरूर दिखानी चाहिए। इससे आपको पता चलेगा कि कहीं किसी ग्रह दोष के कारण, तो आपके विवाह में बाधा नहीं आ रही। 

यह जानकारी आपको पसंद आई हो, तो इस आर्टिकल को शेयर और लाइक करें। इसी तरह और भी धर्म एवं ज्योतिष शास्त्र से जुड़े आर्टिकल पढ़ने के लिए देखती रहें हरजिंदगी।