• ENG
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search

ऐसे चेक करें अपने घर का वास्तु

आपके घर का वास्तु ठीक है या नहीं, इसे जानने के लिए आप इन तरीकों को अपना सकती हैं।
author-profile
  • Mitali Jain
  • Editorial
Published -09 Aug 2022, 10:36 ISTUpdated -12 Aug 2022, 15:29 IST
Next
Article
tips for vastu of house

आज के समय में हर व्यक्ति चाहता है कि उसके घर में वास्तु के अनुसार कोई दोष ना हो। दरअसल, जब घर में वास्तु दोष होता है तो इससे घर में नेगेटिविटी का संचार होता है। ऐसे में जरूरी होता है कि पहले घर के वास्तु को चेक किया जाए और अगर उसमें कोई दोष हो तो उसे दूर करने के उपाय किए जाएं। लेकिन अधिकतर लोगों की यह शिकायत होती है कि उन्हें अपने घर के वास्तु के बारे में कोई ज्ञान नहीं होता है। 

Expert dr anand bhardwaj quote on home vastu

ऐसे में उन्हें सबसे अच्छा उपाय लगता है कि वह किसी एक्सपर्ट की मदद लें। यकीनन एक एक्सपर्ट घर के वास्तु को चेक करने में आपकी मदद करेंगे। लेकिन कभी-कभी उनकी सर्विसेज लेना जेब पर भारी पड़ सकता है। इसलिए, पहले आप खुद ही अपने घर के वास्तु को चेक करने की कोशिश करें। घर के वास्तु को चेक करना काफी आसान है। तो चलिए आज इस लेख में वास्तुशास्त्री डॉ. आनंद भारद्वाज आपको बता रहे हैं कि आप घर के वास्तु को किस तरह चेक कर सकती हैं-

ऐसी हो उत्तर और पूर्व की दिशा

जब घर के वास्तु को चेक करने की बात होती है तो सबसे पहले आपको यह देखना चाहिए कि घर के उत्तर और पूर्व की दिशा खुली हो। उसका हवादार और सुंगधित होना आवश्यक है। साथ ही, इस दिशा में अच्छा प्रकाश भी आना चाहिए। जिन घरों में उत्तर व पूर्व की दिशा ऐसी होती है, उस घर का वास्तु स्वयं में बहुत अधिक सकारात्मक होता है।

इसे जरूर पढ़ें- Expert Tips : घर की सुख समृद्धि के लिए वास्तु के हिसाब से घर की किस दिशा में रखें ये 5 पौधे

ऐसी हो उत्तर-पश्चिम की दिशा

north west direction

वहीं, घर में उत्तर-पश्चिम दिशा अर्थात् वायु कोण में हमेशा ड्राइंग रूम ही बनाना चाहिए। उत्तर-दिशा में ऐसी चीजों को रखने की सलाह दी जाती है, जो हमेशा चलायमान हों। ऐसे में इसे अतिथि स्वागत कक्ष के लिए सबसे अच्छी दिशा मानी जाती है। हालांकि, आप ड्राइंग रूम के अलावा यहां पर कार या बाइक को भी खड़ा किया जा सकता है।

ऐसी हो किचन की दिशा

kitchen direction

किचन घर का एक जरूरी हिस्सा है और इसलिए इसकी दिशा को अवश्य चेक करना चाहिए। हमेशा कोशिश करें कि किचन दक्षिण पूर्व अर्थात् आग्नेय कोण में बनी हो। इस दिशा में बनी किचन में बनाया गया ना केवल स्वादिष्ट होता है, बल्कि इससे खाने में भी बरकत होती है। इतना ही नहीं, आग्नेय कोण में बनी किचन गृहिणियों के स्वास्थ्य पर भी सकारात्मक प्रभाव डालती है।

Recommended Video

खुला हो ब्रह्म स्थान

घर के सेंटर को ब्रह्म स्थान कहा जाता है। घर का ब्रह्म स्थान हमेशा खुला होना चाहिए। इस स्थान पर कोई भी भारी फर्नीचर जैसे डाइनिंग टेबल, सोफा या अन्य भारी वस्तु को बिल्कुल भी ना रखें।

बेडरूम की दिशा

bedroom direction

घर के बेडरूम की दिशा भी बेहद महत्वपूर्ण मानी जाती है। घर के मुखिया का बेडरूम दक्षिण-पश्चिम में होना सबसे अच्छा माना जाता है। वहीं, बड़े बेटे का बेडरूम दक्षिण दिशा के मध्य में होना चाहिए ताकि उसे ग्रोथ मिले और करियर में सफलता मिले।

छोटे बेटे का बेडरूम पश्चिम दिशा के मध्य में बनाएं। जिससे उसे बिजनेस में सफलता मिल सके। पढ़ाई के लिए भी पश्चिम दिशा अच्छी मानी जाती है। वहीं, बच्चों के लिए बेडरूम उत्तर-पश्चिम दिशा में बनवाना अच्छा माना जाता है। इससे उन्हें पढ़ाई में मदद मिलती है। हालांकि, कमरे में बच्चों की स्टडी टेबल पूर्व दिशा में होनी चाहिए।

इसे जरूर पढ़ें- Vastu Tips: घर के बेडरूम में रखती हैं अलमारी तो जरूर जानें वास्तु के ये टिप्स

तो अब आप भी इन तरीकों को अपनाकर अपने घर के वास्तु को चेक करें और अगर आपको कोई गड़बड़ नजर आए तो आप उस दिशा को ठीक करने के लिए कुछ उपाय भी कर सकती हैं। अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit- freepik 

बेहतर अनुभव करने के लिए HerZindagi मोबाइल ऐप डाउनलोड करें

Her Zindagi
Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।