एक सवाल आपसे, अपने अपने जीवन में कितने बार सूर्य को उसके केंद्र से उगते हुए देखा होगा? शायद आपका जवाब होगा, एक, दो या दर्जनों बार देखा है। लेकिन, क्या आपको मालूम है पिछले 328 दिनों से क्रिस्टीना कोच हर रोज सूरज को उसके केंद्र से उगते और डूबते हुए देख रही थी। जी हैं, महिला अंतरिक्ष यात्री क्रिस्टीना पिछले 328 दिनों से अंतरिक्ष में रह कर गुरुवार को धरती पर अन्य साथी के साथ सुरक्षित वापिस लौट आई है।

इसे भी पढ़ें: Kalpana Chawla Death Anniversary: पढ़ने में कमजोर थीं कल्पना, फिर भी आसमान छूने के थे हौसले 

christina koch returns to earth after days in space inside

अंतरिक्ष में सबसे अधिक समय गुजारने का रिकॉर्ड अपने नाम करने वाली अमेरिकी अंतरिक्ष, नासा की महिला अंतरिक्ष यात्री क्रिस्टीना कोच गुरुवार को सुरक्षित वापिस धरती पर लैंड कर लिया है। ख़बरों के मुताबिक अमेरिका अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने इसकी पुष्टि भी कर दिया है कि क्रिस्टीना स-कुसल वापिस आ गई है।

Recommended Video

क्रिस्टीना कोच के साथ इस मिशन पर यूरोपीय अंतरिक्ष एजेंसी की यात्री लूका परमितानो और रूस के अंतरिक्ष यात्री एलेक्जेंडर भी सुरक्षित घराती पर वापिस लौट आए हैं। खबरों के मुताबिक भरतीय समय अनुसार 2:40 मिनट पर तीनो अंतरिक्ष यात्री कजाकिस्तान के शहर में इनका यान सुरक्षित उतरा गया है।

christina koch returns to earth after days in space inside

क्रिस्टीना कोच, लूका परमितानो और अंतरिक्ष यात्री एलेक्जेंडर 14 मार्च 2019 को मिशन के लिए उडान भरा था। इस दौरान तीनों ने अंतरिक्ष में रह कर कई वैज्ञानिक प्रयोगों और मिशन को सफलता पूर्वक प्राप्त किया है। वही क्रिस्टीना कोच ऐसी पहली महिला बन गई है जो इतने दिनों तक अंतरिक्ष में समय बिताया है। क्रिस्टीना से पहले अमेरिकी अंतरिक्ष यात्री पेगी विटसन के नाम थे जिन्होंने अंतरिक्ष ने सबसे अधिक समय बिताया था। पेगी विटसन ने अंतरिक्ष में 288 दिन तक अंतराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन में रही थी।

christina koch returns to earth after days in space inside

क्रिस्टीना कोच आज इसी लिए सभी चर्चित है की उनका ये पहला मिशन था और उन्होंने सफलता पूर्वक प्राप्त किया है। क्रिस्टीना कोच ने मिशन के दौरान लगभग छ अंतरिक्ष स्टेशन से बहर निकल कर वैज्ञानिक शोध किया और उसमे सफलता भी पाई। इस दौरान क्रिस्टीना कोच ने 328 दिनों में लगभग 13.9 करोड़ किलोमीटर की यात्रा की हैं।

इसे भी पढ़ें: ये लेडी डॉक्टर बेटी के जन्म होने पर नहीं लेती कोई भी फीस, नर्सिंग होम में बंटवाती हैं मिठाईयां 

christina koch returns to earth after days in spaceinside

आपके जानकारी के लिए बता दे कि अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा आने वाले 2024 तक महिलाओं को चाँद पर भी भेजने की तैयारी कर रहा हैं। वही आने वाले दिनों में भरत भी बहुत जल्द अंतरिक्ष में महिला यात्री को अंतरिक्ष में भेजने वाला हैं। बाला देवी विदेशी फुटबॉल क्लब में खेलने वाली पहली भारतीय महिला बनी