इंदौर भारत का एक ऐसा शहर है, जहां पर टूरिस्ट दूर-दूर से घूमने आते हैं। एतिहासिक दृष्टि से भी इंदौर का अपना एक अलग महत्व है। यहां पर आप राजवाड़ा पैलेस, भव्य लाल बाग पैलेस और वाटर पार्क जैसी कुछ बेहतरीन जगहें देखी जा सकती हैं। वैसे इंदौर ही नहीं, उसके आसपास भी कुछ बेहतरीन हिल स्टेशन मौजूद हैं, जहां पर जाकर आप खूबसूरत घाटियों, झीलों और हरियाली का आनंद उठा सकती हैं। अगर आप इंदौर में वीकेंड प्लान कर रही हैं तो इसके आसपास मौजूद हिल्स स्टेशन का भी नजारा अवश्य देखें। इससे जीवन की भागदौड़ और शहरी जीवन के तनाव से दूर आपको खुद को भीतर से तरोताजा होने का मौका मिलेगा। इतना ही नहीं, यहां पर जाकर आप खुद को प्रकृति के बेहद करीब पाएंगी। तो चलिए जानते हैं इंदौर के पास मौजूद कुछ बेहद खूबसूरत हिल स्टेशन के बारे में-

इसे  भी पढ़ेें : Travel Tips: इन 5 खूबसूरत राजस्थानी हवेली होटल में जाना आपको भी आएगा पसंद

लोनावला

Hill Stations  Near  Indorei inside

इंदौर से 464 किमी की दूरी पर स्थित लोनावला एक बेहद खूबसूरत हिल स्टेशन व टूरिस्ट स्पॉट है। यहां पर कई झीलें जैसे लोनावला झील, तिगौती झील, मानसून झील और वाल्वन झील मौजूद हैं। यहां पर मौजूद खूबसूरत झीलों के कारण ही लोनावला को पश्चिम भारत में झीलों की नगरी कहा जाता है। वहीं रेवुड पार्क की खूबसूरती भी देखने लायक है। वैसे यहां पर आपको इतिहास की झलक पेश करते गढ़ जैसे तिकोना किला, लौहगढ़ फोर्ट और तुंग किला भी देखने को मिलेंगे।

इसे  भी पढ़ेें :पहाड़ों की सैर से लेकर लोकल मार्केट के बीचों बीच तक, दार्जीलिंग की ये मनमोहक ट्रेन यात्रा दिल जीत लेगी!

महाबलेश्वर

Hill Stations  Near  Indorei inside

वीकेंड पर छुट्टी बिताने के लिए महाबलेश्वर से बेहतर जगह आपको शायद ही मिले। यहां पर आपको हरियाली, पहाड़ व अद्भुत प्राकृतिक नजारा देखने को मिलेगा। इसके अलावा महाबलेश्वर जिस चीज के लिए मशहूर है, वह है स्ट्रॉबेरी की खेती। अगर आप महाबलेश्वर जा रही हैं तो एलीफेंट हेड पॉइंट, चाइनामैन फॉल, आर्थर सीट, वेन्ना झील, महाबलेश्वर मंदिर, एल्फिन्स्टन पॉइंट, प्रतापगढ़ किला ट्रेक, बैबिंगटन पॉइंट जैसी कई बेहतरीन नजारों का लुत्फ उठा सकती हैं।

मांडू

Hill Stations  Near  Indorei nside

इंदौर से लगभग 97 किमी की दूरी पर स्थिति मांडू एकमात्र ऐसा हिल स्टेशन है जो कि एक गढ़ शहर भी है। प्राचीन शिलालेखों के अनुसार, मांडू 6 वीं शताब्दी में एक संपन्न शहर था। 633 मीटर की ऊंचाई पर स्थित, मांडू विंध्य रेंज पर स्थित है। मांडू इतिहास को सबसे रोमांचक तरीके से चित्रित करता है। इसके अद्भुत स्मारक भव्यता के जीवंत उदाहरण हैं। रूपमती के मंडप, रीवा कुंड, जामी मस्जिद, हिंडोला महल, बाज बहादुर का महल और श्री मंडवागाव तीर्थ जैसे कई वास्तुशिल्पकलाओं को आप यहां देख सकती हैं।