आपने कभी इस बात पर ध्यान दिया है कि भगवान शिव के मंदिर हर कोने-कोने में हैं, इंडिया से लेकर विदेश में साउथ अफ्रीका, अमेरिका और ऑस्ट्रेलिया तक भगवान के ऐसे शिव मंदिर हैं जहां दर्शन करने के लिए हजारों भक्तों की भीड़ उमड़ती हैं। 

तो चलिए आपको बताते हैं भगवान शिव के विदेशों में स्थापित ऐसे मंदिर जहां उनके दर्शन करने के लिए देशी हो या फिर विदेशी सभी तरह के भक्त पहुंचते हैं। 

प्रम्बानन मंदिर (इंडोनेशिया) 

prambanan temple shiva temple in  foreign

प्रम्बानन मंदिर इंडोनेशिया के जावा नाम की जगह पर है। यह मंदिर 10वीं शताब्दी में बना था। यह शहर से 17 कि.मी की दूरी पर स्थित है। इंडोनेशिया में घूमने आने वाले लोग इस मंदिर में दर्शन करने जरूर जाते हैं। 

Read more: भगवान भोले यहां कहलाते हैं ‘जागृत महादेव’, 5 मिनट की ये कहानी रौंगटे खड़े कर देगी

कटासराज मंदिर (पाकिस्तान) 

pakistan Katasraj Temple shiva temple in  foreign

कटासराज मंदिर पाकिस्तान से 40 कि.मी. की दूरी पर है। यह कटस में एक पहाड़ी पर स्थित है। महाभारत काल में भी यह मंदिर था। पांडवों की इस मंदिर से कई कथाएं जुड़ी हैं। इस मंदिर का कटाक्ष कुंड भगवान शिव के आंसुओं से बना है। इस कुंड के निर्माण के पीछे एक कथा है। 

ऐसा कहा जाता है कि देवी सती की मृत्यु हो जाने पर भगवान शिव के आंसुओं से दो कुंड बन गए जिसमें से एक कुंड राजस्थान के पुष्कर में है और दूसरा कटासराज मंदिर में। 

मुन्नेस्वरम मंदिर (श्रीलंका) 

Munneswaram Temple shiva temple in  foreign

मुन्नेस्वरम मंदिर का इतिहास रामायण काल से सम्बंधित है। मान्यताओं के अनुसार, रावण को मारने के बाद भगवान श्री राम चन्द्र जी ने इसी जगह पर भगवान शिव की पूजा की थी। इस मंदिर में पांच मंदिर हैं, जिनमें से सबसे विशाल मंदिर भगवान शिव का है।  

मध्य कैलाश मंदिर (साउथ अफ्रीका) 

Madhya Kailash  Temple shiva temple in  foreign

अफ़्रीका या कालद्वीप, एशिया के बाद विश्व का सबसे बड़ा महाद्वीप है। दक्षिण अफ़्रीका, अफ्रीका के दक्षिणी छोर पर स्थित एक गणराज्य है। साउथ अफ्रीका में शिव का बहुत ही ज्यादा फेमस मध्य कैलाश मंदिर हैं जहां दर्शन के लिए कोसो दूर से लोग पहुंचते हैं। 

इसके अलावा नेपाल में पशुपतिनाथ मंदिर, ऑस्ट्रेलिया के मेलबोर्न में शिवा-विष्णु मंदिर, कैलिफोर्निया के लिवेरमोरे में शिवा विष्णु मंदिर भी बहुत ज्यादा फेमस हैं।