बालों का झड़ना आज के समय एक कॉमन हेयर प्रॉब्लम है। वैसे तो हेयर फॉल के लिए बाहरी प्रदूषण से लेकर गलत लाइफस्टाइल, खानपान, अत्यधिक तनाव व अन्य कई कारक जिम्मेदार होते हैं। लेकिन इस समस्या का समाधान किस तरह किया जाए,  इसके लेकर महिलाओं के मन में एक दुविधा ही रहती है। ऐसे में एंटी हेयर फॉल शैम्पू का इस्तेमाल करना काफी अच्छा माना जाता है। हो सकता है कि आपने भी हेयर फॉल प्रॉब्लम को मिनिमाइज करने के लिए एंटी हेयर फॉल शैम्पू को चुना हो, लेकिन आपको मनचाहे रिजल्ट ना मिले हों और इसलिए आप निराश हो गई हों। लेकिन क्या आपने कभी सोचा कि आपके साथ ऐसा क्यों हुआ। दरअसल, जिस तरह हर स्किन केयर प्रॉडक्ट हर टाइप की स्किन पर काम नहीं करता, ठीक उसी तरह एंटी हेयर फॉल शैम्पू का रिजल्ट हर महिला पर एक जैसा नहीं होता। इसलिए यह जरूरी है कि आप सही एंटी-हेयर फॉल शैम्पू का चयन करें। तो चलिए आज हम आपको बताते हैं कि एंटी-हेयर फॉल शैम्पू का चयन करते समय आपको किन-किन बातों का ख्याल रखना चाहिए-

समझें हेयर टाइप

 hair care tips and tricks inside

जिस तरह किसी भी स्किन केयर प्रॉडक्ट को चुनने से पहले आप अपनी स्किन टाइप पर फोकस करती हैं, ठीक उसी तरह यह जरूरी है कि आप अपने हेयर व स्कैल्प टाइप के बारे में भी पता लगाएं। इससे आपके लिए सही हेयर प्रॉडक्ट का चयन करना काफी आसान हो जाएगा। इसके लिए आप सबसे पहले अपने बालों की डेंसिटी को चेक करें, मसलन, वह थिन हैं या थिक या फिर मीडियम। इसके अलावा आपकी स्कैल्प से ऑयल का कितना स्त्राव होता है। क्या यह सामान्य है या फिर ऑयली या फिर ड्राई। इतना ही नहीं, आपको अपने बालों के पैटर्न मसलन, वह स्ट्रैट हैं या वेवी या फिर कर्ली, यह भी जरूर जानें।

इसे जरूर पढ़ें: सफेद बालों को रोकने के लिए जबरदस्त हैं ये आयुर्वेदिक नुस्‍खे, जल्द दिखेगा असर

पहचानें परेशानी

 hair care tips and tricks inside

आप हेयर फॉल से परेशान है, लेकिन एंटी-हेयर फॉल शैम्पू चुनने से पहले उसके कारणों का भी पता लगाएं। मसलन आपको यह समस्या रूसी, केमिकल हेयर ट्रीटमेंट, कमजोर रूट्स या फिर अन्य स्कैल्प प्रॉब्लम के कारण है। अगर आपके बाल कमजोर हैं और आसानी से टूटते हैंए तो जिंक, बायोटिन, कोलेजन, केराटिन आदि जैसे अवयवों की तलाश करें।

इसे जरूर पढ़ें: Hair Care Tips: ड्राई बालों में 5 तरह से करें टी-ट्री ऑयल का यूज

शैम्पू के पीएच स्तर को करें चेक

 hair care tips and tricks inside

जब आप एंटी हेयर फॉल शैम्पू खरीद रही हैं तो यह भी जरूरी है कि आप उसके पीएच स्तर को जरूर चेक करें। स्कैल्प का पीएच स्तर 4.5 से 5.5 के बीच है, जो एक हेल्दी बैलेंस होता है और कवक और बैक्टीरिया के विकास को रोकता है। इसलिए हमेशा उन शैंपू की तलाश करें जिनका पीएच स्तर आपके स्कैल्प के करीब हो,  इससे बालों को कोई क्षति नहीं होती है।

इनसे करें तौबा

 hair care tips and tricks inside

जब आप स्वयं के लिए एंटी हेयर फॉल शैम्पू चुन रही हैं तो एक बात का खासतौर पर ख्याल रखना चाहिए कि उसमें नेचुरल इंग्रीडिएंट मौजूद हों। कोशिश करें कि आप सल्फेट्स, अल्कोहल, पैराबेंस और अन्य कठोर सामग्री वाले शैम्पू से तौबा करें। यह आपके बालों से नमी को छीन सकते हैं और उन्हें नुकसान पहुंचा सकते हैं। इतना ही नहीं, इस तरह की सामग्री आपके बालों की हेयर फॉल की समस्या को और भी ज्यादा बढ़ा सकती है।

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit: freepik