दुल्हन का श्रृंगार मेहंदी के बिना अधूरा है, इसलिए शादी पक्की होने के बाद से ही लड़कियां मेहंदी की डिजाइन देखना शुरू कर देती हैं। मगर मेहंदी जब तक गहरी न रचे वह फीकी नजर आती है। मेहंदी के रंग को गाढ़ा करने के लिए बहुत सारे उपाय आप पहले भी पढ़ चुकी होंगी। हालांकि, बाजार में अब केमिकल वाली मेहंदी भी आती है जिसे केवल 1 घंटे हाथों पर रखने के बाद रिमूव कर दिया जाए तो वह अपने आप ही गाढ़े रंग की हो जाती है। मगर इस तरह की मेहंदी त्वचा के लिए नुकसानदायक हो सकती है। फिर बात अगर दुल्‍हन की हो तो हम केमिकल वाली मेहंदी लगाने का रिस्क भी नहीं ले सकते हैं। 

ऐसे में पारंपरिक अंदाज में मेहंदी को घर पर ही घोलते वक्‍त कुछ विशेष सामग्री उसमें मिलाई जाए तो मेहंदी का रंग हाथों पर गहरा आता है। इस बारे में हमने ब्‍यूटी एक्‍सपर्ट पूनम चुघ से बात की। वह कहती हैं, 'मेहंदी को घोलते वक्त एक साथ बहुत कुछ न मिलाएं। ऐसा करने पर उसके रंग पर असर पड़ सकता है। अगर आप कोई एक नुस्खा ट्राई कर रही हैं, तो वही प्रयोग में लाएं। मैं जब भी ब्राइडल मेहंदी तैयार करती हूं, तो इस बात का ध्यान रखती हूं कि उसका रंग अधिक गाढ़ा रचे और हाथ भी ड्राई न हो।'

पूनम ब्राइडल मेहंदी को घोलने का एक आसान तरीका भी बताती हैं- 

इसे जरूर पढ़ें- दुल्हन की मेहंदी डिजाइन में इस तरह शामिल करें उसकी 'लव स्टोरी'

tricks  to  make  bridal  mehndi  colour  more  dark

स्‍टेप-1 

सबसे पहले एक लोहे का बर्तन लें और इसमें मेहंदी का पाउडर ( 10 मिनट में हाथों पर लगाएं ये मेहंदी डिजाइन )डालें। मेहंदी हमेशा वही लें जो पैक्‍ड हो। खुली मेहंदी सील जाती है और उसका रंग भी गहरा नहीं आता है। बर्तन में मेहंदी को डालने से पहले एक छलनी से उसे छान लें। प्‍योर मेहंदी हमेशा थोड़ी मोटी होती है। इसे छानने के लिए इसलिए कहा जा रहा ताकि घुलने के बाद इसे जब कीप में डाला जाए तो डिजाइन लगाते वक्त मेहंदी का मोटा कण कीप में न फंसे । 

स्‍टेप-2 

अब आपको मेहंदी को घोलने की तैयारी करनी है। पूनम कहती हैं, 'चुकंदर का जूस या पाउडर भी आप मेहंदी में जरूर डालें। चुकंदर में नेचुरल डाई होती है, जो मेहंदी के रंग को गाढ़ा करती है। मैं जब भी मेहंदी घोलती हूं चुकंदर के रस का इस्तेमाल करती हूं।' चुकंदर के रस के अलावा आप मेहंदी में नीलगिरी का तेल भी डालें। नीलगिरी  का तेल खुशबूदार होता है और इससे मेहंदी का रंग बहुत गाढ़ा हो जाता है। अगर आप चाय का पानी या फिर कॉफी मिक्‍स करती हैं, तो हाथों में लगने वाली मेहंदी के लिए इस नुस्खे को न प्रयोग में लाएं। इस बारे में पूनम कहती हैं, 'जब बालों में मेहंदी लगाई जाती है तब चाय और कॉफी का पानी डाला जाता है और इससे रंग गाढ़ा नहीं होता है बल्कि बालों में हल्की शाइन आ जाती है।'

इसे जरूर पढ़ें- दुल्हन की बहन के हाथों में खूब जंचेंगे मेहंदी के ये डिजाइन

mehendi bride

स्‍टेप-3 

मेहंदी त्वचा को रूखा बनाती है, इसलिए रचने के बाद हाथ ड्राई महसूस होते हैं। अगर आप चाहती हैं कि हाथों में मेहंदी की वजह से ड्राईनेस न हो तो इसके लिए आपको मेहंदी में 1 छोटा चम्‍मच सरसों का तेल डालना चाहिए । पूनम कहती हैं, 'सरसों के तेल में मेलेनिन होता है, इसका काम ही होता है रंग को गाढ़ा बनाना। बालों में भी यदि सरसों का तेल लगाया जाए तो मेलेनिन प्रोडक्शन बढ़ जाता है और नए सफेद बाल उगने कम हो जाते हैं। इसी तरह मेहंदी में सरसों का तेल डालने से मेहंदी गहरे रंग ( हाथों में गाढ़ी मेहंदी रचाने के टिप्‍सकी रचती है और हाथ ड्राई भी नहीं होते हैं।'

tips  and  tricks  to  make  bridal  mehndi  colour  more  dark

स्‍टेप-4 

पूनम कहती हैं, 'जिनके हाथ में गरमाहट होती है, उनके हाथ में मेहंदी वैसे भी काली ही रचती है। मगर जिन लोगों के हाथ गर्म नहीं होते हैं, उन्हें मेहंदी रचाने में दिक्कत आ सकती है। इसलिए 2-3 घंटे बाद मेहंदी को रिमूव करें और रिमूव करने के तुरंत बाद चूने और सरसों के तेल का घोल बना कर इसे हाथों में लगा लें। चूने से मेहंदी का रंग बहुत गाढ़ा हो जाता है। मगर इस बात का ध्यान रखें कि इस घोल को एक बार ही लगाएं और बहुत ही कम मात्रा में लगाएं क्योंकि चूने से आपके हाथों के कटने का डर भी रहता है। अगर आप चुटकी भर चूने को 1/2 छोटा चम्‍मच सरसों के तेल में घोल कर इस्तेमाल करती हैं, तो आपको अच्छे रिजल्‍ट्स देखने को मिलेंगे।'

 

उम्मीद है कि आपको यह जानकारी बहुत पसंद आई होगी। इसी तरह और भी ब्यूटी हैक्स पढ़ने के लिए जुड़ी रहें हरजिंदगी से।  

Image Credit: Freepik