क्या आपके स्टाइलिश स्लीवलेस कपड़े बहुत लंबे समय से स्टोरेज में ही हैं, क्या आप अपनी डार्क अंडरआर्म्स के कारण ऐसे कपड़े किसी ख़ास अवसर में भी पहन नहीं पाती हैं,क्योंकि आपको अंडरआर्म्स को छिपाना पड़ता है। आप सभी चाहती होंगी कि आपकी अंडरआर्म्स हमेशा साफ़ रहें लेकिन आपकी कुछ आदतें इसे जरूरत से ज्यादा काला बना देती हैं और इन्हें फुल स्लीव्स में छिपाने के अलावा आपके पास कोई और ऑप्शन नहीं होता है। हम यहां बताने जा रहे हैं आपकी कुछ ऐसी आदतों के बारे में जिनकी वजह से आपके अंडर आर्म्स काले हो जाते हैं। 

रेजर को नियमित रूप से न बदलना

dark underarms () 

आपकी अंडरआर्म की त्वचा बहुत संवेदनशील होती है और रेजर का एक ही ब्लेड बार-बार त्वचा में एक ही जगह रगड़ने से त्वचा में जलन और कालापन होना स्वाभाविक है। इसके अलावा पुराने रेज़र में बैक्टीरिया बहुत ज्यादा पनपते हैं। पुराने रेज़र सभी प्रकार के गंदे कीटाणुओं के लिए एक सर्वोत्तम स्थान होते हैं। इसलिए आपके एक ही रेज़र का इस्तेमाल कई बार अंडरआर्म्स में करने से त्वचा काली हो जाती है।   

इसे जरूर पढ़ें:अंडरआर्म्स के बाल साफ करते समय ध्यान रखेंगी ये 5 बातें तो कभी काली नहीं होगी स्किन

वैक्सिंग ये पहले अंडरआर्म्स ठीक से साफ़ न करना 

जब आप अंडर आर्म्स को बिना अच्छी तरह से साफ़ किए या बिना धुले हुए उस पर वैक्सिंग करवा लेती हैं, तब खुले हुए रोम छिद्रों में गंदगी  प्रवेश कर जाती है और अंडरआर्म्स में संक्रमण का खतरा बढ़ जाता है। गंदगी त्वचा में प्रवेश करने की वजह से अंडरआर्म्स काले हो जाते हैं (वैक्सिंग के बाद त्वचा को काला होने से ऐसे बचाएं )। हमेशा जब भी आप वैक्सिंग करा रही हों तब पहले ठीक से साफ़ कर लें। 

एक्ससरसाइज़ के बाद शॉवर न लेना 

dark underarms ()

आमतौर पर लड़कियां एक्ससरसाइज़ करने के बाद शॉवर लेती हैं जिससे फ्रेशनेस आती है। लेकिन कुछ लोग ज्यादा बिजी होने की वजह से एक्ससरसाइज़ करने के बाद शॉवर नहीं ले पाते हैं और अंडरआर्म्स में ज्यादा देर पसीना होने की वजह से कालापन हो जाता है। 

इसे जरूर पढ़ें:अंडरआर्म्स के बाल साफ करते समय ध्यान रखेंगी ये 5 बातें तो कभी काली नहीं होगी स्किन


हार्ड साबुन का इस्तेमाल 

नहाते समय हार्ड साबुन का इस्तेमाल करने से त्वचा की नमी खो जाती है और वो त्वचा को ड्राई बना देता है। अंडरआर्म्स की त्वचा जरूरत से ज्यादा डेलिकेट होती है इसलिए इसमें हार्ड साबुन का इस्तेमाल करने से ये काली हो जाती है। नहाते समय हमेशा ध्यान रखें कि किसी माइल्ड सोप का ही इस्तेमाल करें जिससे इसका बुरा असर आपकी त्वचा के सेंसटिव भागों में न पड़े।  इसका सबसे अच्छा उपाय यह है कि आप क्रीम वाले माइल्ड सोप का इस्तेमाल करें, जो कि लाइट होते हैं और इनमें मॉइश्चराइजिंग के गुण भी होते हैं। इन्हें. लगाने से त्वचा की नमी खोती नहीं है और त्वचा मुलायम भी रहती है। ऐसा करने से अंडरआर्म्स की त्वचा काली नहीं होगी। 

खराब ब्रांड के डिओडरंट का इस्तेमाल

dark underarms ()

वैसे तो आप डिओ का इस्तेमाल पसीने की बदबू हटाने के लिए करती हैं लेकिन डिओ के इस्तेमाल से बैक्टीरियल इंफेक्शन का खतरा भी बढ़ जाता है । बाजार में मिलने वाले सभी डिओ त्वचा के लिए सुरक्षित नहीं होते हैं। बहुत से खराब ब्रांड के डिओ ऐसे होते हैं जिनकी तेज फ्रेग्रेन्स बनाए रखने के लिए इनमें हानिकारक केमिकल्स का इस्तेमाल होता है (इन डिओडरंट का करें इस्तेमाल )। इस तरह का डिओ इस्तेमाल करने से अंडरआर्म्स में कालेपन की समस्या हो सकती है। इसलिए जब भी डिओ खरीदें, कोशिश करें कि या तो वो नैचुरल हो, माइल्ड हो और अच्छे ब्रांड का हो । 

कपड़ों में ज्यादा देर तक पसीना रहना 

dark underarms ()

बहुत देर तक एक ही कपड़े कैरी करने से अंडरआर्म्स में कालेपन की समस्या हो जाती है। आमतौर पर पसीना शरीर के ऐसे हिस्सों में इकठ्ठा होता है जहाँ आपका ज्यादा जल्दी नहीं जाता है। ऐसी ही जगहों में से एक है अंडर आर्म्स ,यहां बहुत देर तक पसीना इकठ्ठा होने से त्वचा के कालेपन की समस्या हो जाती है और आपको अपने स्लीवलेस कपड़ों से परहेज़ करना पड़ता है। 

आपकी ये आदतें आपकी अंडरआर्म्स में कालेपन की समस्या को जन्म देती हैं। तो देर किस बात की आज ही बदल दीजिये इन आदतों को और अपनी अलमीरा से अपने फेवरेट स्लीवलेस ऑउटफिट वापस निकाल लीजिये। 

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ। 

 

Image Credit:free pik