• ENG
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search

इन चार स्थितियों में भूल से भी ना करें अंडर आर्म वैक्सिंग

ऐसी कुछ सिचुएशन होती हैं, जब अंडरआर्म वैक्सिंग ना करवाने की सलाह दी जाती है। जानिए इस लेख में।
author-profile
  • Mitali Jain
  • Editorial
Published -16 Jun 2022, 14:30 ISTUpdated -16 Jun 2022, 14:02 IST
Next
Article
waxing tips

गर्मियों के मौसम में महिलाएं अपनी स्किन का अधिक ख्याल रखती हैं। चूंकि इस मौसम में वह ऑफ शोल्डर से ट्यूब स्टाइल व स्लीवलेस आउटफिट पहनना पसंद करती हैं, इसलिए अंडरआर्म वैक्सिंग करवाना उनके लिए बेहद आवश्यक हो जाता है। इस तरह के आउटफिट में आपका स्टाइल तभी अच्छा लगता है, जब आपके अंडरआर्म एकदम क्लीन हों।

expert quotes

यूं तो आप भी इस मौसम में बार-बार अंडरआर्म वैक्सिंग करवाती होंगी, लेकिन फिर भी कुछ ऐसी कंडीशंस होती हैं, जब महिलाओं को अंडरआर्म ना करवाने की सलाह दी जाती है। दरअसल, अंडरआर्म की स्किन काफी सेंसेटिव होती है और इसलिए इस एरिया पर वैक्सिंग करवाते समय आपको पर्याप्त सावधानी बरतने की आवश्यकता होती है। तो चलिए आज इस लेख में आरवीएमयूए एकेडमी की फाउंडर, सेलिब्रिटी मेकअप आर्टिस्ट और स्किन केयर एक्सपर्ट रिया वशिष्ट आपको बता रही हैं कि किन स्थितियों में आपको अंडरआर्म वैक्सिंग नहीं करवानी चाहिए-

इचिंग या बहुत पसीना आने पर ना करवाएं वैक्सिंग

eaching

अगर आपको गर्मी के मौसम में अंडरआर्म पर लगातार इचिंग की समस्या हो रही है या फिर आपको बहुत अधिक पसीना आ रहा है तो ऐसे में आपको अंडरआर्म वैक्सिंग नहीं करवानी चाहिए। दरअसल, इस समय पर अगर वैक्सिंग की जाती है तो इससे अंडरआर्म की ना केवल इचीनेस बढ़ जाती है, बल्कि इससे ब्लड आने की संभावना भी बढ़ जाती है। कुछ महिलाओं को तो वैक्सिंग के बाद अंडरआर्म में पस होने की समस्या का भी सामना करना पड़ सकता है।

प्रेग्नेंसी में ना करवाएं वैक्सिंग

अगर आप प्रेग्नेंसी की दूसरी तिमाही के आखिरी फेज़ में या फिर तीसरी तिमाही चल रही है, तो भी वैक्सिंग करवाने से बचना चाहिए। इस सिचुएशन में महिलाओं के लिए रेज़र का इस्तेमाल करना ज्यादा बेहतर माना जाता है। दरअसल, इस दौरान शरीर के भीतर कई तरह के हार्मोनल बदलाव हो रहे होते हैं और अंडरआर्म एरिया काफी सेंसेटिव होता है। जिसके कारण वैक्सिंग करवाना काफी दर्दनाक हो सकता है। इतना ही नहीं, कभी-कभी वैक्सिंग गलत तरीके से हो जाती है या फिर वैक्सिंग स्ट्रिप को अगर बहुत जोर से खींचा जाता है, तो इससे महिलाओं को अंडरआर्म के फूलने की समस्या होने की संभावना काफी हद तक बढ़ जाती है।

इसे जरूर पढ़ें- काले अंडरआर्म्स के लिए ये टिप्स हो सकते हैं फायदेमंद

Recommended Video


पिंपल्स होने पर भी ना करवाएं वैक्सिंग

अगर आपको अंडरआर्म फोड़े-फुंसी या फिर पिंपल्स आदि हो रहे हैं, तो इस स्थिति में वैक्सिंग को पूरी तरह से अवॉयड करना चाहिए। अंडरआर्म में पिंपल्स आदि होने पर ना केवल वैक्सिंग करवाना काफी दर्दनाक हो जाता है, बल्कि इससे उनके छिलने की संभावना भी काफी हद तक बढ़ जाती है। जिससे आपको बाद में काफी समस्या हो सकती है।

इनग्रोन हेयर होने पर ना करवाएं वैक्सिंग

unwanted hairs

अगर आपने अंडरआर्म पर रेज़र का इस्तेमाल किया है और अभी आपके अंडरआर्म हेयर काफी छोटे हैं या फिर वह इनग्रोन हेयर हैं तो इस स्थिति में अंडरआर्म वैक्सिंग करवाने से कोई फायदा नहीं होने वाला। इस स्थिति में आपको थोड़ा इंतजार करना चाहिए और अपने इनग्रोन हेयर की ग्रोथ होने देनी चाहिए। आपको यह सुनिश्चित करना चाहिए कि आपके अंडरआर्म हेयर कम से कम इतने बड़े अवश्य हों कि वह आपकी वैक्सिंग स्ट्रिप में आसानी से आ जाएं, ताकि उन्हें बेहद आसानी से क्लीन किया जा सके। अगर बाल बहुत छोटे होंगे तो आपको स्ट्रिप का इस्तेमाल कई बार करना पड़ेगा, लेकिन फिर भी हेयर पूरी तरह से रिमूव नहीं हो पाएंगे।

इसे जरूर पढ़ें- हाथ और पैरों की खूबसूरती को खराब कर रहे हैं इनग्रोन हेयर? छुटकारा पाने के लिए ट्राई करें ये स्क्रब


तो अब अगर आप भी ऐसी किसी स्थिति का सामना कर रही हैं, तो कुछ समय के लिए अंडरआर्म वैक्सिंग को अवॉयड ही करें। अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकीअपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।  

Image Credit- freepik

Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।