आमतौर पर, जब भी पिंपल्स की बात होती है तो लोग यही मानते हैं कि यह आपके चेहरे की ही खूबसूरती को छीनते हैं। जबकि ऐसा नहीं है। पिंपल्स आपके शरीर पर कहीं पर भी हो सकते हैं। हालांकि, यह चेहरे पर विजिबल होते हैं, इसलिए शायद हम अपनी बॉडी के अन्य पार्ट्स पर होने वाले पिंपल्स पर बहुत अधिक ध्यान नहीं देते। कई बार मुंहासे आपके बगल यानी अंडरआर्म पर भी हो सकते हैं। यह एक ऐसा एरिया है, जहां पर पिंपल्स भले ही विजिबल ना हों, लेकिन वह आपको बहुत अधिक परेशान कर सकते हैं। अंडर आर्म में पिंपल्स या मुंहासे होने पर व्यक्ति को सेंसेटिविटी, खुजली और स्किन में जलन का अहसास होता है। यह आपको लगातार इरिटेट कर सकता है।

अगर आपने भी कभी अंडरआर्म में मुंहासों को एक्सपीरियंस किया है तो आपको यकीनन पता होगा कि अंडरआर्म पर मुंहासे होते ही उनसे छुटकारा पाने की इच्छा कितनी प्रबल हो जाती है। हो सकता है कि आपने इनसे निजात पाने के लिए तरह-तरह के उपाय अपनाए हों। लेकिन इनसे मुक्ति पाने से पहले आपको इसके कारणों पर भी गौर करना चाहिए। तो चलिए आज इस लेख में हम आपको अंडरआर्म में होने वाले पिंपल्स के विभिनन कारणों के बारे में बता रहे हैं-

इसे जरूर पढ़ें: अंडरआर्म्स के कालेपन से परेशान महिलाएं अपनाएं ये आसान टिप्‍स

underarm pimples home treatment

इनग्रोन हेयर

हम सभी अपनी बॉडी के अनचाहे बालों से निजात पाने के लिए कई तरीकों को अपनाते हैं। लेकिन अगर आप अंडरआर्म के बालों से छुटकारा पाने के लिए रेजर का इस्तेमाल करते हैं और उसे हर डायरेक्शन में अप्लाई करते हैं। तो यह संभव है कि अंडरआर्म में इनग्रोन हेयर रह जाएं। इन इनग्रोन हेयर के कारण आर्मपिट बम्पस होना बेहद आम बात है। ऐसे में अगर आप अंडरआर्म हेयर रिमूवल करवा रहे हैं तो कोशिश करें कि आप इसे सही तरह से करें। आपकी एक छोटी सी मिसटेक आपको लंबे समय तक परेशान कर सकती हैं।

कॉन्टैक्ट डर्मेटाइटिस 

यह भी एक वजह है, जिसके कारण अंडरआर्म में पिंपल्स या दाने हो सकते हैं। मसलन, डिओडोरेंट लगाने या फिर डिटर्जेंट से कपड़े धोने और इसे पहनने के बाद अगर आपको अचानक अंडरआर्म में मुंहासे हो गए हैं, तो इसे एलर्जिक कॉन्टैक्ट डर्मेटाइटिस कहा जाता है। यह स्थिति तब पैदा होती है, जब आपकी स्किन ऐसे किसी पदार्थ या इंग्रीडिएंट के संपर्क में आती है जिससे उसे एलर्जी होती है।

फ्रिक्शन

अंडरआर्म पर पिंपल्स पर एक मुख्य वजह फ्रिक्शन भी हो सकती है। मसलन, जब आप एक टी-शर्ट पहनती हैं और वह बगल से काफी तंग होती है, तो इससे आपको अंडरआर्म पर पिंपल्स हो सकते हैं। अगर आप ध्यान नहीं देते हैं, तो लगातार रगड़ने से अंडरआर्म पर चोट, जलन और यहां तक कि संक्रमण भी हो सकता है। यह फ्रिक्शन कपड़ों के अलावा, परफ्यूम आदि के कारण भी हो सकता है। 

इसे जरूर पढ़ें: अंडरआर्म्स से आती है बदबू तो ऐसे पाएं छुटकारा

underarm pimples

हाइजीन का ख्याल ना रखना

जब बात अंडरआर्म्स की होती है, तो ऐसे बहुत से लोग होते हैं, जो उसके हाइजीन का सही तरह से ख्याल नहीं रखते। लेकिन अंडरआर्म का खराब हाइजीन लेवल भी पिंपल्स व दानों की वजह बनता है। मसलन, यदि आप अपने अंडरआर्म्स को ठीक से साफ नहीं कर रहे हैं या सीधे परफ्यूम या डिओडोरेंट स्प्रे कर रहे हैं, तो इससे जलन हो सकती है और फिर आपको पिंपल्स आदि हो सकते हैं।

रेजर बर्न्स 

अंडरआर्म्स पर वैक्सिंग करना एक अधिक सरल व दर्दमुक्त तरीका है और इसलिए अधिकतर महिलाएं अंडरआर्म्स को क्लीन करने के लिए शेविंग करना पसंद करती है। हालांकि, अंडरआर्म के बालों (अंडरआर्म्स के अनचाहे बाल हटाने के तरीके) को हटाने के लिए नियमित रूप से रेजर का उपयोग करने से फ्रिक्शन बढ़ता है और इससे आपको दाने हो सकते हैं। इसके अलावा, यदि आप एक पुराने या सुस्त रेजर का उपयोग कर रहे हैं, तो भी आपको अंडरआर्म पर पिंपल्स या दाने होने की संभावना अधिक रहती है।

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

 

Image Credit- Freepik