यूं तो हर महिला की इच्छा होती है कि उसकी स्किन लंबे समय तक जवां बनी रहें और बुढ़ापे में भी उसके चेहरे से यूं ही नूर झलकता रहे। लेकिन आज के समय में बढ़ता तनाव, गलत खानपान, लाइफस्टाइल में बदलाव, प्रदूषण व सन एक्सपोजर जैसी कई चीजें स्किन को समय से पहले ही बूढ़ा बना देती हैं।

इसलिए यह जरूरी है कि आप स्किन पर उम्र बढ़ने के संकेतों को बिल्कुल भी नजरअंदाज ना करें और अगर आपको कोई भी संकेत नजर आए तो अपनी स्किन का अतिरिक्त ख्याल रखना शुरू कर दें। अब सवाल यह उठता है कि किसी महिला को इस बात का पता कैसे चलेगा कि उसकी स्किन प्री-मेच्योर एजिंग की तरफ बढ़ रही है।

यह पहचानना बेहद ही आसान है। दरअसल, इसका संकेत खुद हमारी स्किन ही देती है, बस आपको थोड़ा सतर्क होने की आवश्यकता है। तो चलिए आज हम आपको उन संकेतों के बारे में बता रहे हैं, जो आपकी स्किन की प्री-मेच्योर एजिंग की जानकारी देते हैं-

फाइन लाइन्स व रिंकल्स

premature ageing signs fine lines wrinkles

आमतौर पर 40 की उम्र पार कर जाने के बाद महिला को अपने चेहरे पर महीन रेखाएं और झुर्रियां दिखाई देने लगती हैं। लेकिन अगर आपको तीस के बाद ही यह संकेत नजर आने लगे हैं तो इसका अर्थ है कि अत्यधिक सन एक्सपोजर के कारण आपकी स्किन की उम्र कम होने लगी है।

इसे जरूर पढ़ें- Home Remedies: ये 5 घरेलू उपचार दूर करेंगे आपके माथे की झुर्रियां

क्या करें

इस स्थिति में सबसे बेहतर उपाय है कि आप सूरज की हानिकारक किरणों से अपनी स्किन की रक्षा करें। इसके लिए चाहे गर्मी हो या सर्दी, सनस्क्रीन को अपनी स्किन केयर रूटीन का हिस्सा बनाएं।

डल स्किन

premature ageing signs dull skin

स्किन की डलनेस भी आपको यह बताती है कि अब उसकी उम्र बढ़ने लगी है। दरअसल, जब स्किन एजिंग की तरफ बढ़ती है तो वह एक्सफोलिएट नहीं होती। परिणामस्वरूप स्किन पर डेड स्किन सेल्स जमा होने लगती है और उसकी प्राकृतिक चमक कहीं खो जाती है। यह त्वचा की सतह पर एक पतली कैलस की तरह है।

Recommended Video

क्या करें

स्किन की डलनेस खत्म करके उसे एक बार फिर से जवां बनाने का सबसे अच्छा उपाय है कि आप सप्ताह में कम से कम दो बार स्किन को एक्सफोलिएट जरूर करें। यह आपकी स्किन की खोई हुई चमक को वापिस लौटाएगा। आप अपनी स्किन के अनुसार स्क्रब को चुन सकती हैं।

होठों का पतला होना

premature ageing signs thinning lips

आपने कभी नोटिस किया हो कि जब स्किन की उम्र बढ़ने लगती है तो होंठ पतले होने लगते हैं। इसलिए होंठों की देखभाल स्किनकेयर की तरह ही महत्वपूर्ण है क्योंकि आपके होंठ उम्र के साथ समय के साथ ढल जाते हैं। यह कोलेजन उत्पादन की कमी और सूरज की क्षति और धूम्रपान जैसे कारकों के कारण होता है। 

इसे जरूर पढ़ें- Beautiful Eyes: ये 4 फेसपैक लगाएंगी तो आंखों के आस-पास झुर्रियां हो जाएंगी गायब

क्या करें

होंठों की सही तरह से केयर करने और एजिंग के साइन को कम करने के लिए, सबसे पहले, धूम्रपान छोड़ें (यदि आप करती हैं)। इसके अलावा आप अपने होंठों की सही तरह से देखभाल करें। इसके लिए आप एक एसपीएफ युक्त हाइड्रेटिंग लिप बाम का उपयोग कर सकती हैं। वहीं, लिप्स की डेड स्किन सेल्स को दूर करने के लिए आप उसे हल्का एक्सफोलिएट भी अवश्य करें।

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।