• + Install App
  • ENG
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search
author-profile
  • Shilpa
  • Editorial, 16 Mar 2022, 21:25 IST

क्या बार-बार हेयर केराटिन और हेयर स्मूदनिंग ट्रीटमेंट लेने से खराब हो जाते हैं बाल? पढ़िए यहां

सिल्की और स्ट्रेट बालों के लिए हेयर केराटिन और स्मूदनिंग ट्रीटमेंट काफी पॉपुलर है। लेकिन क्या आप जानते हैं बार- बार हेयर ट्रीटमेंट लेने से बाल डैमेज ह...
author-profile
  • Shilpa
  • Editorial, 16 Mar 2022, 21:25 IST
Next
Article
is repeating hair keratin treatment and smoothing bad

समय के साथ-साथ स्टाइल स्टेटमेंट में भी काफी बदलाव आया है। इन दिनों शाइनी और स्ट्रेट बालों का फैशन है। सीधे और सिल्की बालों के लिए महिलाएं हेयर ट्रीटमेंट जैसे हेयर केराटिन, हेयर स्मूदनिंग का सहारा ले रही हैं। हेयर ट्रीटमेंट लेने के बाद बालों में मनचाहा रिजल्ट देखने को मिलता है, लेकिन यह रिजल्ट कुछ समय के लिए होता है। ऐसे में महिलाएं एक या दो बार नहीं बल्कि बार-बार हेयर केराटिन और हेयर स्मूदनिंग ट्रीटमेंट लेती हैं। लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि बार -बार केमिकल ट्रीटमेंट लेने से बालों पर क्या प्रभाव पड़ता है? हेयर स्मूदनिंग करना बालों के विकास के लिए अच्छा है या नहीं? इस लेख में हम आपको बताएंगे कि  हर साल हेयर स्मूदनिंग और हेयर केराटिन रिपीट करना बेहतर ऑप्शन है या नहीं।  

हेयर स्मूदनिंग ट्रीटमेंट क्या है?

is hair smoothing treatment bad

आज के समय में सीधे और सिल्की बाल बहुत ही कम लोगों के होते हैं।  हेयर स्मूदनिंग ट्रीटमेंट फ्रिजी बालों को सीधा और सिल्की करने के लिए होता है। इस ट्रीटमेंट में केमिकल द्वारा बालों को स्ट्रेट किया जाता है। इस ट्रीटमेंट में फ्रिजी और डैमेज बालों को सीधा और सिल्की किया जाता है। हेयर स्मूदनिंग ट्रीटमेंट लेने के बाद बाल एक से डेढ़ साल तक स्ट्रेट रहते हैं।

एक साल में कितनी बार हेयर स्मूदनिंग ट्रीटमेंट लेना चाहिए?

इस ट्रीटमेंट में केमिकल का इस्तेमाल किया जाता है ऐसे में बाल सीधे और सिल्की तो हो जाते हैं लेकिन केमिकल का प्रभाव बालों पर पड़ता है। बालों की उचित देखभाल के लिए साल भर में एक बार ही हेयर स्मूदनिंग ट्रीटमेंट लेना बेहतर माना जाता है। हेयर स्मूदनिंग ट्रीटमेंट रिपीट करने से हेयर क्यूटिकल्स डैमेज हो जाते हैं, जिसका असर बालों की ग्रोथ पर पड़ता है।

इसे जरूर पढ़ें: होली के दौरान त्‍वचा को दें खास देखभाल, खूबसूरती नहीं होगी कम

क्या बार -बार हेयर स्मूदनिंग करने से बाल डैमेज होते हैं?

hair keratin

हेयर स्मूदनिंग ट्रीटमेंट में बालों को अमीनो एसिड की परत से कवर किया जाता है, जिससे बालों को प्रोटेक्शन मिलता है साथ ही बालों की फ्रिजीनेस भी कम होती है। इस ट्रीटमेंट के दौरान हाई हीट पर बालों को स्ट्रेट किया जाता है, जिसकी वजह से बाल पतले और डैमेज हो जाते हैं। अगर आप बार बार हेयर स्मूदनिंग ट्रीटमेंट लेती हैं तो आपके बाल डल और रफ हो सकते हैं।

इसे जरूर पढ़ें: चेहरे पर साइड के अनचाहे बालों को घरेलू नुस्खों की मदद से करें रिमूव

Recommended Video

हेयर केराटिन ट्रीटमेंट क्या है

हेयर केराटिन ट्रीटमेंट इन दिनों काफी पॉपुलर है। इस ट्रीटमेंट में बालों को नकली प्रोटीन दिया जाता है, जिससे बालों को पोषण मिलता है। केराटिन ट्रीटमेंट में बालों को स्ट्रेट नहीं किया जाता है इस ट्रीटमेंट में बाल हल्के वेवी होते हैं। यह ट्रीटमेंट लगभग 3 से 4 महीने तक चलता है। फ्रिजी और डल बालों के लिए यह ट्रीटमेंट काफी अच्छा माना जाता है।

क्या साल भर में हेयर केराटिन ट्रीटमेंट रिपीट करवाना चाहिए

hair care

हेयर केराटिन ट्रीटमेंट का असर बालों में 3 से 4 महीने तक रहता है, तो आप इस ट्रीटमेंट को सालभर में दो बार करवा सकते हैं। भले ही हेयर केराटिन में बालों को पोषण दिया जाता है लेकिन बार -बार केराटिन ट्रीटमेंट लेने से बाल रफ और बेजान हो सकते हैं।

बालों की देखभाल के लिए बार बार किसी भी तरह का ट्रीटमेंट नहीं लेना चाहिए। आपको यह आर्टिकल कैसा लगा? हमें फेसबुक पर कमेंट करके जरूर बताएं। ब्यूटी से जुड़ी ऐसी ही और जानकारी के लिए हर‍जिंदगी से जुड़े रहें।  

 

Image Credit : freepik   

                                        

Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।