• + Install App
  • ENG
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search
author-profile
  • Style Talk
  • Editorial, 06 Aug 2019, 17:19 IST

मॉइस्चराइजर इस्तेमाल करने से पहले जानें कुछ जरूरी बातें

लोगों को मॉइश्चराइजर से जुड़ी कई गलतफमियां होती है, जिस वजह से वे मॉइश्चराइजर का सही तरीके से इस्तेमाल नहीं कर पाते। आइए, आपको बताए मॉइश्चराइजर से जुड़...
author-profile
  • Style Talk
  • Editorial, 06 Aug 2019, 17:19 IST
Next
Article
moisturizer, beauty tips main

मॉइश्चराइजर केवल खूबसूरती के लिहाज से ही नहीं बल्कि त्वचा की सेहत के लिए भी बहुत अहम होता है। क्योंकि मॉइश्चराइजर व बॉडी लोशन रोजान ही इस्तेमाल में आने वाले  ब्यूटी प्रोडक्ट्स में से एक है। इसलिए जरुरी है कि अपनी त्वचा को नियमित रूप से मॉइश्‍चराइज़ करें और उन ग़लतफ़हमियों से बचें, जो आपकी त्वचा की ख़ूबसूरती छीन लेती हैं। हम सभी को स्किन को मॉइस्चराइज रखना बहुत जरूरी है। कई लोग मानते है सिर्फ ड्राई स्किन वालों के लिए मॉइस्चराइजर की जरूरत होती है लेकिन ऐसा नही है। मॉइस्चराइजर से हर तरह की स्किन हमेशा हैल्दी और हाइड्रेट बनी रहती है। क्योंकि स्किन में पानी की कमी मॉइश्चराइजर द्वारा ही पूरी होती है। 

इसे भी पढ़ें: ये 5 मसाले खाएं, स्किन की 5 प्रॉब्लम्स दूर भगाएं और ग्लोइंग स्किन पाएं

moisturizer, beauty tips INSIDE

Recommended Video


मिथ: सब मॉइश्‍चराइज़र्स एक ही तरह के होते हैं? 

फैक्ट: जी नहीं, सभी मॉइश्‍चराइज़र्स अलग होते हैं। आप लेबल को चेक करके अपनी ज़रूरत व स्किन टाइप के अनुसार मॉइश्‍चराइज़र चुन सकती हैं।

मिथ: अगर मॉइश्‍चराइज़र एसपीएफ युक्त है, तो सनप्रोटेक्शन की ज़रूरत नहीं होती ?

फैक्ट: ऐसा बिलकुल नहीं है, मॉइश्‍चराइज़र में भले ही एसपीएफ हो, लेकिन आपको सनस्क्रीन लगाना बहुत ज़रूरी होता  है।

मिथ: मॉइश्‍चराइज़िंग क्रीम जितनी गाढ़ी होगी, उतने ही अच्छी होती है?

moisturizer, beauty tips INSIDE

फैक्ट: लोशन्स लगभग हर स्किन टाइप के लिए ठीक होते हैं। पर अलग-अलग फॉर्मूलेशन्स अलग-अलग तरह की स्किन को सूट करते हैं थिक क्रीम्स बहुत ही ड्राई स्किन सूट करती हैं और ऑयली स्किन के लिए जेल्स सही होते हैं।  

मिथ: स़िर्फ ड्राई स्किनवालों को ही मॉइश्‍चराइज़र की ज़रूरत होती है?

फैक्ट: अक्सर महिलाएं यही सोचती है कि  मॉइश्‍चराइज़र की ज़रूरत स़िर्फ ड्राई स्किनवालों को ही होती है। जबकि ऐसा नहीं है। हमारी स्किन निरंतर डैमेज होती रहती है इसलिए  मॉइश्‍चराइज़र्स लगाना जरुरी होता है। मॉइश्‍चराइज़र्स स्किन को रिपेयर करने का काम करते हैं इसलिए नहाने के बाद मॉइश्‍चराइज़र जरूर लगाएं। 

इसे भी पढ़ें: शादी के बाद स्किन ग्लो पाने के लिए अपनाएं ये स्मार्ट टिप्स

मिथ: ऑयली स्किन वालों को  मॉइश्‍चराइज़र नहीं लगाना चाहिए?

फैक्ट:  ऐसा नहीं है , आप अपनी स्किन टाइप के अनुसार मॉइश्‍चराइज़र चुनें ।ऑयली स्किन के लिए सबसे अच्छा मॉइश्‍चराइज़र एलोवीरा वाला होता है ।

मिथ: शरीर के अलग-अलग हिस्सों के लिए अलग-अलग मॉइश्‍चराइज़र की ज़रूरत होती है.

moisturizer, beauty tips INSIDE

फैक्ट:  ऐसा बिलकुल भी नहीं है ।  आप एक ही मॉइश्‍चराइज़र को  पूरे शरीर पर लगा सकती हैं।  नहाने के बाद त्वचा हल्की गीली व नमीयुक्त होती है, इसलिए कोशिश  करें  कि  तभी मॉइश्‍चराइज़र लगाएं, इससे त्वचा हाइड्रेट रहेगी।

मिथ: दिन में सिर्फ एक ही बार मॉइश्‍चराइज़र लगाना ठीक रहता है ? 

फैक्ट:  जी नहीं, ऐसा बिलकुल नहीं है । आप दिन में कम से कम दो बार नहाने के बाद और सोने से पहले मॉइश्‍चराइज़र लगाएं । 

Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।