चेहरे को फ्लॉलेस लुक देने के लिए कंसीलर बहुत काम आता है। अगर आप सही कंसीलर चुन रही हैं और उसे लगाने का सही तरीका जानती हैं, तो यह आपके ब्यूटी गेम के लेवल को कितना अप कर सकता है, क्या आप जानती हैं? यह आपको एक फ्लॉलेस कवरेज देता है, लेकिन अगर आपने इसे सही तरह से नहीं लगाया है, तो यह आपके मेकअप को केकी लुक दे सकता है।

कई लड़कियों को इसे चुनते वक्त कंफ्यूजन होती है। इसे कब लगाना चाहिए, इसके बारे में भी क्लीयर जानकारी नहीं होती है, इसलिए हम आपके लिए कंसीलर चूज करने से लेकर लगाने तक के टिप्स के बारे में बताने जा रहे हैं। तो चलिए जानें कि आपकी स्किन टोन के हिसाब से सही कंसीलर कैसे चुनना चाहिए।

कंसीलर चूज करने का थंब रूल

choose concealer correctly

कंसीलर शेड चुनने के लिए आप अपने फाउंडेशन शेड की मदद ले सकती हैं। कई ब्यूटी एक्सपर्ट्स यह सलाह देते हैं कि हर किसी के पास कंसीलर के दो शेड जरूर होने चाहिए- एक लाइट शेड और एक डार्क शेड। इसकी वजह यह कि डेली सन एक्सपोजर में आने से हमारी त्वचा का टोन हर समय थोड़ा सा बदल जाता है। 

ध्यान रखें कि अलग स्किन कंसर्न के लिए अलग-अलग रंग और टेक्सचर वाले कंसीलर लगाने चाहिए। अपनी कूल, वॉर्म, न्यूट्रल और बेज स्किन टोन पर ध्यान रखें और फिर फाउंडेशन से थोड़ा सा हल्का शेड इस्तेमाल करें।

अलग कंसर्न के लिए अलग अलग कंसीलर

डार्क सर्कल के लिए

अगर आपको डार्क सर्कल छुपाने हैं तो आप वॉर्म शेड्स को चुन सकती हैं। इसके लिए सबसे पहले पीच-टोन्ड कंसीलर को लगाएं और फिर अपने स्किन टोन और फाउंडेशन से मैच करती एक लेयर और लगाएं। यह आंखों के नीचे के डिस्कलरेशन को ईवन कर स्किन को ब्राइट दिखाएगा।

पिंपल्स छुपाने के लिए

concealer for pimples

पिंपल्स को छुपाने के लिए, आप थिक, ड्राई कंसिस्टेंसी का क्रीम कंसीलर का इस्तेमाल कर सकते हैं। पिंपल और उसकी रेडनेस छुपाने के लिए पहले ग्रीन रंग के कलर करेक्टिंग कंसीलर को लगाएं और उसके बाद अपने फाउंडेशन और क्रीम कंसीलर का उपयोग करें।

हाइपरपिगमेंटेशन मिनिमाइज करने के लिए

अगर आपके चेहरे पर डार्क पैचेज और स्पॉट्स हैं तो इसके लिए आपको पीच अंडरटोन वाला कलर करेक्टर का इस्तेमाल करना चाहिए। इसके बाद अपनी त्वचा की टोन से मेल खाने वाले कंसीलर शेड का इस्तेमाल करें। इससे चेहरे पर हाइपरपिगमेंटेशन हल्के होने में मदद मिलेगी।

हाइलाइटिंग और कॉन्टूरिंग

हाइलाइटिंग और कॉन्टूरिंग के लिए क्रीम और लिक्विड कंसीलर अच्छे होते हैं। वो मैट और थोड़े से इल्यूमिनेटिंग होते हैं और उन्हें फाउंडेशन के साथ आसानी से ब्लेंड किया जा सकता है, ताकि आपको नेचुरल लुक वाला कॉम्प्लेक्शन मिले। बहुत ज्यादा शिमर हाइलाइटर (जानें कैसे हाईलाइटर के बिना भी चेहरे को करें हाईलाइट) लगाने से बचें।

इसे भी पढ़ें :चेहरे पर कंसीलर लगाते समय रखें इन बातों का ध्‍यान, मेकअप नहीं होगा खराब

कंसीलर हैक्स

concealer hacks

फ्लॉलेस बेस बनाने के लिए आपको आपको कंसीलर लगाने का तरीका और ट्रिक्स पता होने चाहिए। ये हैक्स अगर आप जान लेंगी, तो आप कंसीलर लगाने में प्रो हो जाएंगी।

ट्रायंगल कंसीलर ट्रिक

अपनी आंखों के नीचे के एरिया में कंसीलर को डॉट करने और स्वाइप करने की बजाय, अपने कंसीलर को ट्रायंगल शेप में लगाएं। इसे एक छोटे कंसीलर ब्रश या मेकअप स्पंज से ब्लेंड करें। यह उस एरिया को पूरी तरह से छुपाने में मदद करेगा और आपके चेहरे को लिफ्ट करेगा।

इसे भी पढ़ें :मेकअप करते हुए कंसीलर को सिर्फ एक नहीं, कई तरीकों से इस्तेमाल कर सकती हैं आप

टिश्यू से ब्लॉट करें

कई बार कंसीलर जल्दी-जल्दी में ठीक से ब्लेंड नहीं हो पाता या फिर कुछ देर में ही मेकअप केकी दिखने लगता है, इसलिए एक टिश्यू को बीच से फाड़कर एक्सेस मेकअप (फ्लॉलेस मेकअप के लिए इन टिप्स और ट्रिक्स का रखें ध्यान) को ब्लॉट करें। आप देखेंगे कि एक्सेस मेकअप जो आंखों के नीचे खराब लग रहा था, वो बैलेंस हो जाएगा।

Recommended Video

नेचुरल लाइट में ही लगाएं कंसीलर

concealer in natural lights

खराब लाइटिंग में अक्सर आप कंसीलर लगाने में गलती कर सकती हैं। आर्टिफिशियल लाइट्स में टोन से मैच करता हुआ कंसीलर में कंफ्यूजन होती है। इसलिए कंसीलर लगाने के लिए नेचुरल लाइट की तरफ आएं और तब कंसीलर लगाएं। रात को कंसीलर लगाते वक्त के लिए आपके मिरर के पास अच्छी-खासी रौशनी होनी चाहिए।

अब आपको कंसीलर के बारे में काफी ज्ञान मिल ही चुका है, तो अब आप बेझिझक अपने लिए सही कंसीलर चुन सकती हैं। यह लेख आपको कैसा लगा हमें जरूर बताएं। ब्यूटी से जुड़े ऐसे आर्टिकल पढ़ने के लिए विजिट करें हरजिंदगी।

Image Credit: freepik