प्राचीन काल के दौरान, होली के लिए रंग प्राप्त करने के लिए वनस्पति रंगों, फूलों और पौधों के उत्पादों का उपयोग किया जाता था। वे निश्चित रूप से उन रसायनों से अधिक सुरक्षित होते थे जो आज के होली के रंगों में मौजूद हैं। एक रिपोर्ट के अनुसार, इन रंगों में रंग, रसायन, अभ्रक के चमकदार कण और यहां तक कि सीसा, साथ ही पाउडर ग्लास, एसिड और क्षार होते हैं। पर्यावरण के लिए खतरा होने के अलावा, वे त्वचा और बालों पर प्रतिकूल प्रभाव डालते हैं। वे त्वचा और स्कैल्प को परेशान करते हैं, जिससे एलर्जी होती है।

केमिकल युक्त कलर एलर्जी चकत्ते या पिम्पल्स को बढ़ावा देते हैं। इन कलर्स के दुष्प्रभाव से त्वचा भी ड्राइनेस और लाल पैच से पीड़ित हो सकती है। ये पदार्थ स्कैल्प पर भी इकट्ठा होते हैं, जिससे स्कैल्प का सूखापन और खुजली होती है। ब्यूटी एक्सपर्ट शहनाज़ हुसैन बता रही हैं कुछ ऐसे तरीके जिनसे आप घर पर ही होली के लिए हर्बल कलर्स तो तैयार कर ही सकती हैं, साथ ही कुछ घरेलू नुस्खों से अपनी त्वचा और बालों का ख्याल भी रख सकती हैं।    

प्राकृतिक रंग बनाएं 

shahnaz holi colours

टेसू के फूल 

सिमर टेसू के फूल रात भर पानी में छोड़ दें। होली खेलने के लिए पानी का उपयोग करें। टेसू के फूल एक पीले रंग को छोड़ते हैं। जो एक हर्बल कलर की तरह काम करता है। 

मेंहदी पाउडर 

mehandi green colour

मेहंदी पाउडर को बेसन या मक्के के आटे (मक्के के आटे का होममेड हेयर मास्क) के साथ मिलाया जा सकता है और सूखे हरे रंग के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है।

अनार के छिलके 

लाल अनार के छिलके जब पानी में उबाले जाते हैं तो लाल रंग देता है। इसके पानी का इस्तेमाल लाल कलर के रूप में किया जा सकता है। 

हल्दी का इस्तेमाल

turmeric colour 

हल्दी को सूखे और गीले रंग दोनों के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है। सूखे रंग के लिए बेसन में हल्दी मिलाई जा सकती है। या इसे पानी में डालकर उबाला जा सकता है। रात भर छोड़ दें और फिर पीले रंग के रूप में इसका इस्तेमाल करें।

लाल चन्दन 

लाल चंदन पाउडर का उपयोग सूखे और गीले दोनों रंगों के रूप में किया जा सकता है।

चुकंदर का कलर 

beet root colour

चुकंदर को पानी में उबालें। यह एक उज्ज्वल मैजेंटा रंग छोड़ता है। पानी को ठंडा करें और इस्तेमाल करें या चुकंदर का रस निकालें इसमें थोड़ा पानी डालें और फिर इसका उपयोग करें।

त्वचा और बालों के लिए प्राकृतिक उपचार

तिल के तेल का इस्तेमाल 

sesame oil use

शरीर से रंगों को हटाने के लिए, तिल के तेल का उपयोग त्वचा पर मालिश करने के लिए किया जा सकता है। यह न केवल रंगों को हटाने में मदद करता है, बल्कि त्वचा को अतिरिक्त सुरक्षा देता है। तिल के बीज का तेल वास्तव में सूरज-क्षति का मुकाबला करने में मदद करता है। नहाते समय शरीर को लूफा या  कपड़े से धीरे-धीरे रगड़ें।

इसे जरूर पढ़ें: Holi 2021: त्‍वचा से होली का रंग छुड़ाने के लिए शहनाज हुसैन से जानें 7 बेस्‍ट होममेड उबटन

दही और हल्दी का प्रयोग 

curd honey turmeric

4 भाग दही में एक भाग शहद और थोड़ी हल्दी मिलाएं। होली के कुछ दिनों बाद तक रोजाना चेहरे, गर्दन और बांहों पर लगाएं। 20 मिनट बाद धो लें। यह त्वचा को उज्ज्वल करता है और इसे नरम और चिकना बनाता है।

Recommended Video

तिल के बीज 

तिल के बीज को कुचलकर रात भर पानी में भिगो दें। अगले दिन, इसे तनाव दें और चेहरे, गर्दन और बाहों को धोने के लिए दूधिया तरल का उपयोग करें। यह सनबर्न को शांत करने में मदद करता है। तिल के बीज में सूरज-सुरक्षात्मक गुण होते हैं।

एलो वेरा जेल

aloe vera gel 

त्वचा पर एलो वेरा जेल या रस लगाएं। यह त्वचा को नमी देता है और ड्राइनेस से राहत देता है। यह सूरज की जलन को भी शांत करता है। इसमें जिंक होता है, जो सूजन-रोधी होता है। एक चम्मच बेसन (बेसन), एक चम्मच दही और एक चम्मच एलोवेरा जेल लें। एक साथ मिलाएं और चेहरे पर लागू करें, इसे 20 मिनट के बाद धो लें। 

इसे जरूर पढ़ें: Shahnaz Husain Tips: स्किन टाइप के अनुसार कैसे वॉश करें चेहरा, जानें टिप्‍स

गेंदे के फूल का इस्तेमाल 

marie gold flower

मैरीगोल्ड या गेंदे का फूल त्वचा और खोपड़ी की जलन को शांत करने में मदद करता है, जो होली के बाद आम है। तीन कप गर्म पानी में एक मुट्ठी ताजे या सूखे गेंदे के फूल मिलाएं। इसे एक घंटे तक पानी में रहने दें। पानी को तनाव और ठंडा करें और इसका उपयोग चेहरे और बालों को धोने के लिए करें या गेंदे के फूल का एक कप लें उन्हें उंगलियों से कुचलें और 2 चम्मच जैतून का तेल डालें। अच्छी तरह ब्लेंड करें। मिश्रण को गर्म स्नान के पानी में मिलाएं।

इन सभी नुस्खों से होली के बाद आप बालों और त्वचा की खूबसूरती बढ़ा सकती हैं और घर पर ही हर्बल कलर बनाकर इस्तेमाल में ला सकती हैं। 

(फेमस ब्यूटी और हेयर केयर एक्सपर्ट्स शहनाज हुसैन 'शहनाज हुसैन ग्रुप' की चेयरपर्सन, फाउंडर और मैनेजिंग डायरेक्टर हैं। शहनाज हुसैन के कई हर्बल प्रोडक्‍ट्स आपको बाजार में आसानी से मिल जाएंगे। ब्‍यूटी के क्षेत्र में आयुर्वेद को बढ़ावा देने के लिए उन्‍हें कई अवॉर्ड्स से नवाजा भी जा चुका है।)

अगर आपको यह आर्टिकल अच्‍छा लगा हो तो इसे शेयर और लाइक जरूर करें। इसी तरह और भी शहनाज हुसैन की ब्‍यूटी टिप्‍स पढ़ने के लिए जुड़ी रहें हरजिंदगी से। 

Image credit: Freepik