मानसून में कई सारे कीड़े-मकोड़े पनपने लगते हैं जो हमें काट लेते हैं। इसके अलावा मानसून में उमस भी काफी हो जाती है जिसके पसीना काफी निकलता है। इस पसीने के कारण चेहरे पर कई बार रैशेज़ भी हो जाते हैं। इसके अलावा चेहरे पर मच्छर और कीड़े-मकोड़ों के काटने से भी चेहरे पर फोड़े-फुंसी भी हो जाते हैं जो रैशेज़ का कारण बनते हैं। 

इन फोड़े-फुसियों और रैशेज़ से चेहरा दिखने में अच्छा नहीं लगता है। अगर आपके साथ भी ऐसा है तो चावल के फेसपैक का इस्तेमाल करें। 

चावल का फेसपैक

सामान्य तौर पर चावल का इस्तेमाल लोग खाने में ही करते हैं। लेकिन इसका इस्तेमाल आप खूबसूरती निखारने में भी कर सकती हैं, इस बात की जानकारी कम लोगों को ही होती है। चावल जितना आपके स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होता है उतना ही यह आपकी स्किन के लिए भी यूज़फुल होता है। (Read More: तैमूर को खाने में पसंद है चावल, ऐसे बनाएं जाते हैं उनके लिए स्पेशल चावल)

chawal face pack rice face pack for rashes inside

चावल से शरीर को तुरंत एनर्जी मिलती है और मुख्य तौर पर इसका इस्तेमाल विटामिन बी1 प्राप्त करने के लिए किया जाता है। जब चावल से इतने सारे फायदे हैं तो जरा सोचिए कि चावल का फेसपैक कितना ज्यादा प्रभावशाली होगा? 

जी हां, चावल का फेसपैक स्किन के लिए काफी हेल्दी होता है। पहले के जमाने में तो महिलाएं चावल के फेसपैक का ही इस्तेमाल चेहरे को गोरा और खूबसूरत बनाने के लिए करती थीं। वह तो आजकल लोगों ने मार्केट के प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करना शुरू कर दिया है। तो एक बार आप पुरानी चीजों पर भरोसा करें और चावल के आटे से बना फेसपैक इस्तेमाल करें। आइए जानते हैं कि कैसे बनाएं चावल का फेस पैक।

जरूरी चीजें

chawal face pack rice face pack for rashes fainal

इस तरह बनायें

  • इस फेस पैक को बनाने के लिए सबसे पहले आप एक कटोरी में 1 बड़ा चम्मच चावल का आटा लीजिए।
  • फिर उसमें 1 बड़ा चम्मच बेसन और नारियल तेल को मिलाएं। 
  • फिर इस पेस्ट को अच्छी तरह से मिलाएं और 20 मिनट के लिए चेहरे और गर्दन पर लगाएं। 
  • एक मुलायम और सुंदर त्वचा के लिए आप इसे 2-3 सप्ताह तक जरूर लगाएं।

इससे चेहरे के रैशेज़ ठीक हो जाएंगे। 

Recommended Video