अगर इतिहास के पन्नों को पलटा जाए तो कई खूबसूरत रानियों और महारानियों का व्याख्यान मिलता है। मगर, कभी आपने सोचा है कि वह इतनी खूबसूरत कैसे होती थीं। उस वक्त तो न ब्यूटी पार्लर हुआ करते थे और न ही बाजार में ब्यूटी प्रोडक्ट्स मिला करते थे। ऐसे में रानियां अपनी खूबसूरती को बरकरार रखने के लिए नैचुरल चीजों को सहारा लेती थीं। इनमें फूल, मसाले और पेड़ पौधों की पत्तियां उनके सौंदर्य प्रसाधन हुआ करते थे। इसके अलावा वह कई तरह के बॉडी स्पा और मसाज भी लिया करती थीं जो उन्हें यूथफुल स्किन देते थे। इनमें से थी एक कैंडल वैक्स मसाज। जी हां, मोमबत्ती के वैक्स को पिघला कर मसाज करना एक प्राचीन तरीका है एजिंग मार्क्स और स्ट्रेच मार्क्स को दूर करने का।

 वैसे आप भी बॉडी मसाज के इस प्राचीन तरीके को आजमा सकती हैं। आपको किसी भी अच्छे ब्यूटी पार्लर में कैंडल हॉट वैक्स मसाज मिल जाएगी। हां, यह थोड़ी महंगी होती है। मगर, यह बहुत ही असरदार भी होती हैं। चलिए जानते हैं इस मसाज में क्या होता है खास और इसे करवाने के क्या-क्या फायदे होते हैं। 

 इसे जरूर पढ़ें: Hair Massage Tips: घने बालों के साथ ये 7 फायदे पहुंचाएगी ‘ गर्म तेल की चम्पी’

anti wrinkle face massager

कैसे होती है कैंडल मसाज 

मसाज का यह तरीका काफी पुराना है। इसमें कैंडल को जला कर पहले उसके मोम को पिघलाया जाता है। इसके लिए कैंडल को एक ऐसे बर्तन में रखा जाता है जिसमे वैक्स पिघलकर इक्ट्ठा हो और धार के साथ शरीर पर गिरे। यह वैक्स इतना गरम होता है कि शरीर पर धार के साथ गिरने पर ज्यादा गरम नहीं लगता बल्कि इसकी गरमाहट अच्छी लगती हैं। जब वैक्स बॉडी पर गिरता है तो उसे तुरंत ही बॉडी पर फैला दिया जाता है। इसके साथ ही वैक्स को स्क्रब करते हुए बॉडी से हटाया जाता है। 

कैंडल हॉट वैक्स बॉडी मसाज डेड स्किन को हटाती है और त्वचा को मॉइस्चराइज करती हैं। वैक्स के बाद बॉडी को गरम पानी के तौलिए से बांध दिया जाता है। इसके बाद बॉडी में ब्राइटनिंग पैक लगाया जाता है। वैक्स के साथ जोजोबा ऑयल, कोको बटर और विटामिनव ई ऑयल भी मिलाया जाता है। यह बॉडी को नरिश करता है। एजिंग मार्क्स और स्ट्रेच मार्क्स भी कैंडल हॉट वैक्स मसाज से हल्के पड़ जाते हैं। 

इसे जरूर पढ़ें: डिलीवरी के बाद मसाज करने से वजन और स्‍ट्रेच मार्क्‍स दोनों होते हैं गायब

best face lift massage

क्या होते हैं लाभ 

  • यह त्वचा में कसाव लाता है। इससे झुर्रिया और स्किन का ढीलापन दूर हो जाता है। इस बात का ध्यान रखें कि इस थेरेपी को खुद से लेने की कोशिश करें। इस मसाज को एक्सपर्ट से ही करवाएं। वरना आप जल भी सकती हैं। 
  • इस मसाज से आपके ब्लड सर्कुलेशन पर भी असर पड़ता है। यह आपके शरीर में रक्त के संचार को सुधारती हैं। इससे आपकी त्वचा में कसाव और ग्लो आता है। इसके साथ ही शरीर के दूसरे रोग भी ठीक हो जाते हैं। 
  • पेग्नेंसी के समय शरीर के फूलने की वजह से त्वचा पर स्ट्रेच मार्क्स पड़ने लगते हैं। मगर, आप अगर 3 महीने में एक बाद कैंडल वैक्स मसाज करती हैं तो आपके स्ट्रेच मार्क्स लाइट हो सकते हैं। 
  • अगर आपको बेदाग गोरापन और चमकती हुई त्वचा चाहिए तो भी आप कैंडल मसाज करवा सकती हैं क्योंकि यह मसाज आपकी डेड स्किन को हटाती है और चहेरे पर ग्लो लाती है।