मॉनसून में ठंडा-ठंडा मौसम और बारिश की फुहारें हर किसी को तरोताजा कर देती हैं। लेकिन इस मौसम में खूबसूरती मेंटेन करना थोड़ा मुश्किल हो जाता है। हालांकि इस मौसम में गर्मी की तपिश से थोड़ी राहत भले ही महसूस होती है, लेकिन उमस बढ़ जाने से अलग तरह की मुश्किलों का सामना करना पड़ता है। इस मौसम में पसीना आने पर जल्दी सूखना नहीं है। इसीलिए इस मौसम में गर्मी लगने पर बहुत बेचैनी महसूस होती है। मॉनसून में बालों की खूबसूरती बरकरार रखना अपने आप में काफी चैलेंजिंग होता है। बालों में पसीना आने की वजह से गंदी स्मैल आने लगती है। इस मौसम में हेयर वॉश करने पर बालों के जल्दी नहीं सूखने की समस्या का भी सामना करना पड़ता है। ऐसी स्थितियों में भी बालों में पसीना आने लगता है और बदबू आने लगती है। अगर आप इस तरह की गंदी स्मैल से परेशान हो गई हैं और इस मौसम में अपने बालों को पसीने से आनी वाली दुर्गंध से बचाना चाहती हैं तो इसके लिए आप कुछ आसान टिप्स अपना सकती हैं-

बालों में लगाएं Apple cider vinegar

hair care use apple cider vinegar inside

Apple cider vinegar यानी सेब के कुदरती तत्वों से भरपूर सिरका हेल्थ के लिए रामबाण माना जाता है। बहुत सी महिलाएं Apple cider vinegar को बालों में कंडिशनर के तौर पर भी इस्तेमाल करती हैं, क्या आप जानती हैं कि यह आपके बालों से स्मैल दूर करने में भी असरदार है? बालों को शैंपू करने के बाद अगर आप एक ढक्कन Apple cider vinegar आधा मग पानी में घोलकर बालों पर डालती हैं तो इससे बालों से आने वाली स्मेल से छुटकारा मिलेगा और बाल शाइनी भी नजर आएंगे।  

इसे जरूर पढ़ें: झड़ते बालों में नई जान डालने के लिए ट्राई करें ये सस्ता और असरदार हेयर पैक 

Lemon Juice

hair care tips use lemon juice inside

नींबू का रस बालों और स्किन के लिए बहुत अच्छा माना जाता है। इससे बालों की दुर्गंध भी दूर हो जाती है और बाल पूरी तरह से साफ-सुथरे भी हो जाते हैं। आपको यह जानकर खुशी होगी कि नींबू के इस्तेमाल से बाल तरोताजा महसूस होते हैं। नींबू लगाने पर बहुत सी महिलाओं को इचिंग फील होती है, ऐसे में नींबू का फायदा पाने के लिए आप इसे दही या एशेंयियल ऑयल जैसे कि रोजमैरी या लैवेंडर में मिलाकर लगा सकती हैं। इससे दिनभर बालों से तरोताजा खुशबू आती रहेगी। 

इसे जरूर पढ़ें: प्रियंका चोपड़ा के खूबसूरत और मजबूत बालों का ये है राज

ड्राई शैंपू

hair care use dry shampoo inside

बालों को गीला करने पर मॉनसून में समस्या बढ़ती है। ऐसे में बालों को बिना गीला किए आप ऑफिस या किसी पार्टी के लिए तैयार होना चाहती हैं तो ड्राई शैंपू का यूज कर सकती हैं। ऐसे शैंपू बालों को ड्राई रहते हुए क्लीन करते हैं और आपको फ्रेश लुक देते हैं। 

बॉडी मिस्ट

बहुत सी महिलाएं खुद को तरोताजा रखने के लिए बॉडी मिस्ट का स्प्रे करना पसंद करती हैं। अगर आपके बालों में पसीना आ जाए या आपको स्मैल फील हो तो आप बालों में इस बॉडी मिस्ट का भी स्प्रे कर सकती हैं। इससे आपके बाल सॉफ्ट और सिल्की नजर आएंगे। 

गुलाब जल

gulab jal ke fayde hair care ke liye

ज्यादातर महिलाएं अपनी त्वचा की देखभाल के लिए अपने पास गुलाब जल रखती हैं। आप चाहें तो इसी गुलाब जल का स्प्रे आप अपनी बालों में भी कर सकती हैं। इससे दिनभर बालों से भीनी-भीनी खुशबू आती रहेगी और बालों की सॉफ्टनेस भी बनी रहेगी

लिव-इन कंडिशनर

सामान्य कंडिशनर यूज करने के बाद उन्हें पानी से धोने की जरूरत पड़ती है, लेकिन अगर आप लिव-इन कंडिशनर अपने बालों पर लगाती हैं तो इन्हें वॉश करने की जरूरत नहीं होती। इस तरह के कंडिशनर आप ऑफिस या किसी स्पेशल फंक्शन के लिए तैयारी करते वक्त भी लगा सकती हैं। 

घर पर बनाएं हेयर परफ्यूम

अगर आप अपने बालों को खुशबूदार बनाए रखने के लिए घर पर हेयर परफ्यूम बनाना चाहती हैं तो यह काम आसानी से कर सकती हैं। इसके लिए आपको चाहिए एसेंशियल ऑयल या खुशबू वाला ऑयल और गुलाब जल। आधा कप पानी में 6-10 बूंद एसेंशियल ऑयल डालें और मिला लें। इसे बाद इसे स्प्रे बॉटल में भर लें। जब भी इसे यूज करना हो तो पहले अच्छी तरह से मिला लें। अपने साफ बालों पर इसे स्प्रे करें और आपके बाल दिखें बिल्कुल परफेक्ट

बालों को धुलने के बाद खुला रहने दें

अक्सर महिलाएं बाल धुलने के बाद उन्हें बांध लेती हैं। बहुत की महिलाएं ऑफिस जाने के लिए ऐसा करती हैं तो वहीं बहुत सी महिलाएं किचन में काम करने के लिए बालों को बांध लेती हैं ताकि उन्हें शरीर पर पसीना ना आए। लेकिन इससे मुश्किल ये होती है कि बाल भीतर से सूख नहीं पाते और उनमें दुर्गंध आती है। इस मौसम में बालों का गीला रहना हेल्थ के लिहाज से भी सही नहीं है, क्योंकि पसीने और गीलेपन की वजह से बालों में बैक्टीरिया पनप सकता है। अगर आप चाहती हैं कि बाल साफ-सुथरे और हेल्दी रहें और आपको किसी तरह की हेयर प्रॉब्लम का भी सामना नहीं करना पड़े तो बालों के सूख जाने तक उन्हें खुला रखें और इसके बाद ही बांधें।