हम सभी एक हेल्दी लाइफस्टाइल जीना चाहते हैं और इसके लिए सबसे जरूरी है कि आप अपने खान-पान पर अधिक ध्यान दें। आपकी एक्सरसाइज से ज्यादा असर आपकी डाइट का हेल्थ पर होता है और इसलिए हेल्दी लिविंग के लिए आपकी फूड च्वॉइसेस काफी अहम् है। हालांकि, अक्सर यह देखने में आता है कि बहुत से लोगों के लिए किसी प्रॉपर डाइट को फॉलो करना मुश्किल होता है। शुरूआत में, अगर वह जोश-जोश में किसी डाइट को फॉलो करना शुरू भी करते हैं, तब भी कुछ दिन बाद वह उसे फॉलो नहीं कर पाते।

small changes that can make your food more healthy inside

इस स्थिति में मन में काफी निराशा होती है। हो सकता है कि आपके साथ भी अक्सर ऐसा होता हो। ऐसे में आप कोशिश करें कि आप किसी डाइट को फॉलो करने की जगह अपनी मौजूदा डाइट में ही कुछ बदलाव करें। डाइट में चेंजेस भी कुछ ऐसे हों, जो आपको महसूस भी ना हो और आपकी लाइफ अधिक हेल्दी बन जाए। तो चलिए आज इस लेख में सेंट्रल गवर्नमेंट हॉस्पिटल के ईएसआईसी अस्पताल की डायटीशियन रितु पुरी आपको कुछ ऐसे ही छोटे-छोटे बदलावों के बारे में बता रही हैं, जो आपकी लाइफ को हेल्दी बनाते हैं-

आटे में बेसन को करें शामिल

some small changes that can make your food more healthy inside

आमतौर पर देखने में आता है कि इंडियन डाइट में अधिकतर लोग सही मात्रा में प्रोटीन नहीं ले पाते हैं, जिसके कारण उनका आहार कभी भी बैलेंस्ड नहीं होता। इतना ही नहीं, इस वजह से उन्हें अपना वेट मेंटेन करने में भी समस्या होती है। ऐसे में अपनी डाइट में प्रोटीन की मात्रा को बढ़ाने का सबसे आसान तरीका है कि आप आटे में बेसन को मिक्स करके चपाती बनाएं। बेसन में प्रोटीन की मात्रा भरपूर होती है। चपाती बनाने के लिए आप दो मुट्ठी गेंहू के आटे में एक मुट्ठी बेसन का आटा मिक्स करें और फिर उस आटे को गूंथे।

Recommended Video

इसे भी पढ़ें: Expert Tips: जानें क्या है दांतों में होने वाली बीमारी पेरियोडोंटाइटिस, लक्षण और इससे बचाव के उपाय

एड करें मिड मील्स 

भले ही आप किसी डाइट को पूरी तरह से फॉलो नहीं कर पाती हैं, लेकिन फिर भी आपको इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि आप दिन में कम से कम पांच मील अवश्य लें। आप तीन मेन मील्स के बीच में दो मिड मील्स अवश्य लें। यह इसलिए भी जरूरी है कि जब आप छोटे-छोटे मील लेते हैं तो ऐसे में आप मेन मील में बहुत अधिक कैलोरी नहीं लेती हैं। इसके अलावा, बॉडी एक बार बहुत अधिक मात्रा में कैलोरी लेते हैं, तो इसे बॉडी डाइजेस्ट नहीं कर पाती हैं और इससे वह फैट के रूप में स्टोर हो जाती है। वहीं हर दो-तीन घंटे में कुछ खाने से बॉडी का मेटाबॉलिज्म भी सही तरह से काम करता है।  

इन चीजों को अवश्य करें शामिल

some small changes that can make your food more healthy inside

अक्सर देखने में आता है कि लोग अक्सर लंच में रोटी-सब्जी को शामिल करते हैं। यहां तक कि वह लंच में भी रोटी-सब्जी लेकर जाते हैं। अगर आप भी ऐसा करते हैं तो अपनी डाइट को अधिक हेल्दी बनाने के लिए आप मार्केट से 100 ग्राम दही के पैक को खरीदकर उसे भी अपने लंच में शामिल करें। इसी तरह, अगर आप डिनर में दाल -चावल खाते हैं तो यह भी एक बैलेंस्ड मील नहीं कहा जा सकता, क्योंकि इसमें फाइबर कंटेंट कम होता है। ऐसे में आप डिनर में साथ में कुछ सलाद लें। यह आपकी डाइट में अधिक फाइबर एड करेगा।

मिड मील्स पर दें ध्यान

मिड मील्स लेना आवश्यक है, लेकिन आप उसमें भी थोड़े-थोड़े चेंज करके उसे भी अधिक हेल्दी बना सकती हैं। इसके लिए आप मिड मार्निंग में मुट्ठी भर नट्स ले लें। इसके अलावा, शाम के समय आप अपनी पसंदीदा फल खा लें।

इसे भी पढ़ें: स्नैक या फिर डिनर में भी ले सकते हैं पूजा मखीजा का बताया गया 'स्पिनेच रैप', जानें रेसिपी

अन्य छोटी-छोटी बातें

some small changes that can make your food more healthy inside

ऐसी अन्य कई छोटी-छोटी बातें है, जो आपको अधिक बना सकती हैं। मसलन, 

अपने वाटर इनटेक पर विशेष रूप से ध्यान दें। हमेशा खुद को हाइड्रेट रखें। इसके लिए, आप दिन में कम से कम आठ से दस गिलास पानी पीएं। आप  भले ही कितना भी हेल्दी फूड खाएं, लेकिन अगर आपका वाटर इनटेक अच्छा नहीं है तो आपको कोई लाभ नहीं होगा।

वहीं, अपने ऑयल को हर महीने बदलते रहें। ऐसा कोई भी ऑयल नहीं है, जिसमें सारे पोषक तत्व हों। इसलिए अगर आप एक बार पीनट ऑयल ले रही हैं तो दूसरे महीने ऑलिव ऑयल या राइस ब्रैन ऑयल इस्तेमाल करें।  

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit:(@freepik)