• ENG
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search

ये हैं भारत की 8 प्रसिद्ध स्मारकें जिन्हें महिलाओं की याद में बनवाया गया है, आप भी जानें

भारत में ऐसे कई प्रसिद्ध स्मारक है, जिन्हें महिलाओं की याद में बनवाया गया है। आइए कुछ स्मारकों के बारे में जानते हैं।
author-profile
Published - 05 Aug 2022, 16:00 ISTUpdated - 05 Aug 2022, 19:03 IST
historical monuments built in memory of women

भारत का इतिहास विशाल है। भारत में मौजूद महल, इमारत, फोर्ट और मकबरा का इतिहास भी भारतीय इतिहास में मनाये रखता है। भारत के अलग-अलग राज्य और शहर में मौजूद मकबरा इतिहास में ज़रूर जिक्र किया जाता है। आज इस लेख में हम आपको उन मकबरे या समाधी स्थल के बारे में बताने जा रहे हैं जिन्हें महिलाओं की याद में बनवाया गया है। आइए जानते हैं।

1ताजमहल

tajmahal

विश्व के सात अजूबों में एक ताजमहल को इस लिस्ट में सबसे ऊपर नाम लिया जाए तो फिर कोई गलती नहीं होगी। जी हां, मुमताज की याद में बनवाया गया दुनिया का एकमात्र ऐसा महल है जिसे देखने के लिए हर रोज हजारों देशी और विदेशी सैलानी पहुंचते हैं। इसे मुगल सम्राट शाहजहां ने बनवाया था।

2मस्तानी की समाधि स्थल

mastani ki samadhi

महान पेशवा बाजीराव की समाधि के बारे में तो हर कोई जनता है लेकिन मस्तानी की समाधि स्थल के बारे में अधिक लोग नहीं जानते हैं। आपको बता दें कि महाराष्ट्र के पबल में आज भी मस्तानी की समाधि स्थल मौजूद है।

3रज़िया सुल्तान का मकबरा

jazia samadhi

किसी समय दिल्ली के तख़्त पर राज करने वाली एकमात्र महिला शासक रजिया सुल्तान का मकबरा पुरानी दिल्ली में मौजूद है। संकरी गलियों में होने के चलते मकबरे पर घूमने के लिए बहुत कम लोग जाते हैं। कहा जाता है कि उन्होंने 1236 ई० से 1240 ई० तक दिल्ली सल्तनत पर शासन किया था।

4बीबी का मकबरा

bibi ka makbara

महाराष्ट्र के औरंगाबाद में मौजूद बीबी का मकबरा एक मुग़ल कालीन मकबरा है। इस फेमस मकबरे का निर्माण मुगल सम्राट औरंगजेब ने लगभग 1660 के आसपास करावाया था। आपको बता दें कि इस मकबरा को मिनी ताजमहल भी कहा जाता है।

5जोधा बाई की समाधि

jodhabai ki chhatri

मुग़ल साम्राज्य की सबसे शक्तिशाली महिलाओं और अकबर की सबसे प्रिय पत्नी की समाधि भी एक ऐतिहासिक इमारत है। आगरा में मौजूद जोधा बाई की समाधि को जोधा बाई की छतरी भी कहा जाता है। इसे टॉम्ब ऑफ मरियम-उज-ज़मानी नाम से भी जाना जाता है।

6रानी लक्ष्मी बाई की समाधि

rani lakshmi bai samadhi

ब्रिटिश हुकूमत से लोहा लेने वाली रानी लक्ष्मी बाई की समाधि ग्वालियर में मौजूद है। यह समाधि फूल बाग में स्थित है। आज भी हर हजारों लोग इस समाधि का दर्शन करने के लिए पहुंचते हैं।

7पद्मावती समाधि स्थल

padmawati agni kund

चित्तौर का गौरवशाली इतिहास सिर्फ राजपूतों के लिए नहीं बल्कि पाठकों के लिए बेहद मायने रखता है। कहा जाता है कि जिस अग्नि कुंड में पद्मावती समाधि ली वो आज भी चित्तौरगढ़ में मौजूद है और लोग घूमने के लिए जाते रहते हैं।

8चंद बीबी का मकबरा

chand bibi ka makbara in hindi

एक राजकुमारी, एक रानी और मुग़ल बादशाह अकबर की सेना को जमकर टक्कर देने वाली चंद बीबी का मकबरा बीजापुर में मौजूद है। चंद बीबी का मकबरा को चांद खातून या चांद सुल्ताना के नाम से भी जाना जाता है। कहा जाता है कि मुगल शासक औरंगजेब ने बनाया था। हालांकि, कुछ लोगों का मत है कि यह औरंगजेब के पुत्र आदिल ने बनवाया था।

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।