भारत में विभिन्न संस्कृतियों का समवेश होने के साथ-साथ आस्था का भी बहुत बड़ा केंद्र है। इसलिए, यही कारण है कि यहां हिन्दू देवी-देवताओं के कई छोटे, विशाल और ऐतिहासिक मंदिर स्थित हैं। भारत में हर गली-मुहल्ले में आपको मंदिर देखने को मिल जाएंगे। इसके अलावा, आपने दिल्ली में स्थित अक्षरधाम मंदिर के बारे में सुना होगा और शायद देखा भी होगा। लेकिन क्या आपको मालूम है कि गुजरात में भी एक अक्षरधाम मंदिर है? यह उतना ही खूबसूरत है, जितना दिल्ली में मौजूद अक्षरधाम मंदिर है। तो चलिए आज हम आपको इस लेख के माध्यम से गुजरात में स्थित अक्षरधाम मंदिर के बारे में बताने वाले हैं, जिसके बारे में जानना आपके लिए ज्ञानवर्धक होने के साथ-साथ रोचक भी होगा। 

क्या है इतिहास? 

akshardham temple

गुजरात में स्थित अक्षरधाम मंदिर का निर्माण भगवान स्वामीनारायण ने लगभग 19 वीं ईस्वी में करवाया था। यह गुजरात का सबसे लोकप्रिय और सबसे खूबसूरत मंदिरों में से एक है। इसके अलावा, यह भारत का पहला अक्षरधाम मंदिर है, जो गुजरात राज्य के गांधीनगर शहर में स्थित है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इसके बाद ही दिल्ली में अक्षरधाम मंदिर का निर्माण किया गया था। (जाएं दिल्ली के इन 6 मंदिरों में दर्शन करने)

कैसी है वास्तुकला? 

gujarat akshardham

अक्षरधाम मंदिर काफी विस्तृत जगह पर फैला हुआ है। इस मंदिर की ऊंचाई 32 मीटर, लम्बाई 73 मीटर और चौड़ाई 39 मीटर है। कहा जाता है कि इस मंदिर के निर्माण में कहीं भी इस्पात या सीमेंट का इस्तेमाल नहीं किया गया है। क्योंकि इस मंदिर का निर्माण 6000 गुलाबी बलुआ पत्थरों से किया गया है। (देश के सबसे अमीर मंदिर

इसके अलावा, यह भी कहा जाता है कि इस मंदिर को पूरा बनने में लगभग 5 साल लगे थे। साथ ही, इस मंदिर की संरचना लगभग 11000 कारीगरों ने मिलकर खड़ी की थी। आपको बता दें कि यह पूरा मंदिर 5 प्रमुख भागों में बांटा हुआ है, यहां कई खूबसूरत मूर्तियां भी रखी हुई हैं। अगर आप गुजरात में हैं, तो इस मंदिर को जरूर देखने जाएं। यहां आपको देखने के लिए बहुत कुछ मिलेगा।

इसे ज़रूर पढ़ें- राजस्थान की वो हवेली जिसे डिज़ाइन करने में लग गए थे करीब 30 साल

क्या है खास?

gujarat akshardham temple ()

अक्षरधाम मंदिर गुजरात के सबसे खूबसूरत मंदिरों में से एक है, जो पूरे भारत में अपनी विशाल वास्तुकला के लिए प्रसिद्ध है। अक्षरधाम मंदिर में पूजा करने के अलावा आप गुजरात की संस्कृति और व्यंजनों का भी लुत्फ उठा सकते हैं। यह शहर अपनी हस्तशिल्प कलाओं के लिए भी जाना जाता है। हालांकि, गुजरात में और भी कई विशाल मंदिर और शिल्प वास्तुकला के लिए जाना जाता है। लेकिन यहां मौजूद सभी मंदिरों में अक्षरधाम मंदिर सबसे ज्यादा प्रसिद्ध है। यह व्यापक रूप से अपनी खूबसूरत पत्थर की वास्तुकला के लिए जाना जाता है। इसलिए यह भारत का सबसे बड़ा मंदिर है।  

Recommended Video

अक्षरधाम मंदिर घूमने का सही समय

अक्षरधाम मंदिर घूमने का सबसे अच्छा समय अक्टूबर और मार्च के बीच है क्योंकि इस दौरान मौसम बहुत अच्छा होता है। 

कैसे पहुंचें अक्षरधाम मंदिर? 

अक्षरधाम मंदिर गुजरात के गांधीनगर शहर में स्थित है। आप गुजरात ट्रेन या बस से आसानी से पहुंच सकते हैं। फिर यहां से गांधीनगर के लिए ऑटो या टैक्सी ले सकते हैं। 

इसे ज़रूर पढ़ें- भारत में मौजूद इन 9 प्रसिद्ध गुफाओं के बारे में कितना जानते हैं आप, हर एक की कहानी है दिलचस्प

जब भी आप गुजरात की तरफ आएं, तो एक बार अक्षरधाम मंदिर जरूर घूमें। यकीनन यह जगह आपको बहुत पसंद आएगी। आपको लेख पसंद आया हो तो इसे शेयर और लाइक ज़रूर करें, साथ ही, ऐसी अन्य जानकारी पाने के लिए जुड़े रहें हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit- (@Freepik and Google)