स्वास्थ्य सलाह
  • Pooja Sinha
  • Her Zindagi Editorial | 31 Oct 2017, 18:31 IST

ये 5 हर्ब्‍स ओवेरियन कैंसर को आप तक पहुंचने ही नहीं देंगे

अगर आप कुछ हर्ब्‍स को अपनी daily routine में शामिल कर लेगी तो ओवेरियन कैंसर जैसी खतरनाक बीमारी के चंगुल में कभी फंस ही नहीं पायेगी।
Pinterestherbs for ovarian cancer main
  • Pooja Sinha
  • Her Zindagi Editorial | 31 Oct 2017, 18:31 IST

महिलाओं में भी ब्रेस्ट, सर्वाइकल और ओवेरियन कैंसर के मामले दिन-ब-दिन बढ़ते जा रहे हैं। ब्रेस्ट और सर्वाइकल कैंसर के बारे में तो महिलाओं को जागरूक किया जा रहा हैं लेकिन ओवेरियन कैंसर के बारे में महिलाओं को बहुत कम जानकारी हैं जबकि महिलाओं में ओवेरियन एक गंभीर समस्या है। वैसे तो ओवेरियन कैंसर किसी भी उम्र में हो सकता है लेकिन ज्यादातर 50 साल से ज्यादा उम्र की महिलाएं ही इसकी शिकार होती है। हेल्‍थ के प्रति लापरवाही के कारण 60 प्रतिशत महिलाओं को इस बीमारी की जानकारी बहुत देर से होती है। अगर इस बीमारी को गंभीरता से ना लिया जाए तो इससे कई महिलाओं की जान का खतरा हो सकता है। अगर महिलाएं समय-समय पर अपना चेकअप करवाती रहें तो समय रहते इस गंभीर बीमारी का इलाज शुरू किया जा सकता है। इसके अलावा अगर आप कुछ हर्ब्‍स को अपनी दिनचर्या में शामिल कर लेगी तो ओवेरियन कैंसर जैसी खतरनाक बीमारी के चंगुल में कभी फंस ही नहीं पायेगी। जी हां स्‍वामी परामानंद प्राकृतिक चिकित्‍सालय योग एवं अनुसंधान केन्‍द्र की आयुर्वेदिक डॉक्‍टर Durga Arod हमें ऐसे की कुछ हर्ब्‍स के बारे में बता रही हैं।

1अमृत है नारियल पानी

Image Courtesy: Shutterstock.comherbs for ovarian cancer

ओवेरियन कैंसर से बचने के लिए अपनी डाइट में नारियल पानी को शामिल करें। जी हां नारियल पानी महिलाओं की हेल्‍थ के लिए अच्‍छा माना जाता है। इससे बॉडी में पानी की कमी तो पूरी होती ही हैं साथ ही इसमें विटामिन, मिनरल, इलेक्ट्रोलाइट्स, एंजाइम्स, अमिनो एसिड और साइटोकाइन भरपूर मात्रा में होने के कारण इसे अमृत जल भी कहा जाता हैं। आयुर्वेदिक डॉक्‍टर Durga Arod के अनुसार ''नारियल पानी में सेलनियम और एंटी आॉक्सीडेंट गुण मौजूद होते हैं, जो कैंसर से लड़ने में हेल्‍प करते हैं।''

Read more: ब्रेस्‍ट कैंसर को मात देते हैं किचन में मौजूद ये 5 हर्ब्‍स

2संजीवनी का बूटी है वीट ग्रास जूस

Image Courtesy: Shutterstock.comherbs for ovarian cancer

प्रकृति ने हमें हेल्‍दी, एनर्जी से भरपूर, निरोगी और लंबी उम्र तक जीवित रहने के लिए अनेक प्रकार के हर्ब्‍स दिये हैं। ऐसी ही एक संजीवनी का बूटी है वीट ग्रास। वीट ग्रास जूस कई रोगों के साथ-साथ कैंसर से लड़ने की क्षमता रखता है। वीट ग्रास जूस में सभी विटामिन्स जैसे विटामिन ए, बी1, 2, 3, 5, 6, 8, 12 और 17 (लेट्रियल), सी, ई तथा के भरपूर मात्रा में होते हैं। इसमें केल्शियम, मैग्नीशियम, आयोडीन, सेलेनियम, आयरन, जिंक और अन्य कई मिनरल होते हैं। लेट्रियल या विटामिन बी-17 एंटी-कैंसरस है। इसलिए अपनी डाइट में वीट ग्रास जूस को शामिल कर आप ओवेरियन कैंसर से बच सकती हैं।

3विटामिन सी से भरपूर संतरे का जूस

Image Courtesy: Shutterstock.comherbs for ovarian cancer

संतरे के जूस में विटामिन सी बहुत अधिक मात्रा में पाया जाता है और विटामिन सी एक एंटी-ऑक्‍सीडेंट की भूमिका निभाता है। आयुर्वेदिक डॉक्‍टर Durga Arod बताती हैं कि संतरे का जूस सेल्‍स को कैंसर से होने वाले नुकसान से बचाता है और ट्यूमर के विकास पर रोक लगता है। संतरे के रस में विटामिन सी के साथ-साथ एंटी-ऑक्सीडेंट hesperidin भी है, जो ट्यूमर के विकास को कम करने और कैंसर सेल्‍स को खत्म करने में हेल्‍प करता है। साथ ही कैंसर रोगी के बॉडी को इतनी ताकत दे देते हैं कि उसे बीमारी से लड़ने में आसानी हो जाती है।''

4लाख दुखों की एक दवा है हल्‍दी

Image Courtesy: Shutterstock.comherbs for ovarian cancer

आयुर्वेदिक डॉक्‍टर Durga Arod के अनुसार ''हल्‍दी लाख दुखों की एक अकेली दवा है।'' भारत में हल्‍दी का इस्‍तेमाल मसाले, ब्‍यूटी और मेडिसीन के तौर पर किया जाता है। लेकिन, क्‍या आप जानते हैं कि कैंसर के इलाज में भी हल्‍दी बेहद कारगर औषधि होती है। हल्दी में जल, प्रोटीन, फैट, मिनरल, फाइबर, मैंगनीज, पोटेशियम, कार्बोहाइड्रेट, कैल्शियम, फास्फोरस, आयरन, ओमेगा 3 और ओमेगा 6 फैटी एसिड, विटामिन ए, विटामिन बी, विटामिन सी और कैलोरी बहुत अधिक पाई जाती है। हल्‍दी में पाया जाने वाला करक्यूमिन कैंसर के इलाज में बेहद मददगार है। हल्दी कैंसर के bacterial infection को कम करने में help करती है। अपनी डाइट में हल्‍दी वाले दूध को शामिल कर आप ओवेरियन कैंसर होने के खतरे को काफी हद तक कम कर सकती है।

5 कुदरती आयुर्वेदिक गुणों वाली तुलसी

Image Courtesy: Shutterstock.comherbs for ovarian cancer inside image

तुलसी एक ऐसा हर्ब है। जिसके काढ़ा बनाकर सेवन करने से सर्दी-जुकाम और सिरदर्द से तुरंत आराम मिल जाता हैं। लेकिन क्या आप जानती हैं कि तुलसी से कैंसर जैसी कई बीमारी से भी बचाव हो सकता हैं। आयुर्वेदिक डॉक्‍टर Durga Arod कहती हैं कि ''तुलसी में कुदरती आयुर्वेदिक गुण पाए जाते हैं। साथ ही इसमें कैंसर रोकने वाले महत्वपूर्ण एंटी इंफ्लेमेटरी और एंटी-ऑक्‍सीडेंट गुण पाए जाते हैं जो आपकी इम्‍यूनिटी को बढ़ाते है। इसलिए इसका सेवन रोज करें। रोजाना सुबह इसके 5 पत्‍ते खाने से आप ओवेरियन कैंसर से बचा जा सकता है।''

Read more: लंग कैंसर का काल हैं ये 5 आयुर्वेदिक herbs

Loading...
Loading...