आपके घर की डॉक्‍टर है सफेद हल्‍दी, होंगे ढ़ेर सारे फायदे

By Pooja Sinha03 Jan 2018, 17:43 IST

आपको हेल्‍दी बनाने से लेकर खूबसूरत बनाने तक हल्‍दी के बहुत सारे फायदे हैं, यह बात आप सभी जानती हैं लेकिन क्‍या आप सफेद हल्‍दी के बारे में जानती हैं, शायद नहीं। आपको लग रहा होगा कि हम क्‍या कह रहे हैं हल्‍दी तो हमेशा पीली होती है। लेकिन यह सच हैं हल्‍दी पीली ही नहीं बल्कि सफेद भी होती है। आज हम आपको सफेद हल्‍दी के बारे में बता रहे हैं जिसे महिलाएं आंबा या आमा हल्‍दी के नाम से भी जानते हैं। ज्‍यादातर यह भारत और इंडोनेशिया में पाई जाती है। 

जी हां सफेद रंग की हल्‍दी भी होती है। हालांकि इस हल्‍दी का इस्‍तेमाल मसालों में नहीं किया जा सकता लेकिन इसके फायदे पीली हल्‍दी की तरह ही हैं। आंबा हल्‍दी के पेड़ भी हल्‍दी की तरह ही होते हैं। दोनों में अंतर सिर्फ इतना है कि आंबा हल्‍दी के पत्‍ते लंबे तथा नुकीले होते हैं और आंबा हल्‍दी की गांठ बड़ी और भीतर से लाल होती है लेकिन साधारण हल्‍दी की गांठ छोटी और पीली होती है। सफेद या अंबा हल्‍दी ठंडी, पित्‍तशामक, गैस भगाने वाले, पाचन को दुरुस्‍त रखने वाली, भूख बढ़ाने वाली, पथरी को तोड़ने वाली, यूरीन की रुकावट को दूर करने वाली होती है। सुगांधित होने के कारण इसे चटनी आदि बनाने में इस्‍तेमाल किया जाता है या आप चाहे तो इसे काटकर सिर्फ नमक के पानी में रखकर भी खा सकती हैं।

पाचन को दुरुस्‍त रखें

सफेद हल्‍दी के सेवन से आप पेट की गैस से निजात पा सकती हैं। यहीं नहीं इसे खाने से अपच, ऐंठन, भूख ना लगना, पेट में कीड़े, पेट फूलना, अनियमित मल त्याग, और अल्सर जैसी बीमारियां भी ठीक हो जाती हैं। सफेद हल्दी की जड़ को पेट में बन रही एसिडिटी को खत्म करने में कारगर माना गया है। इसीलिए यह पेट के अल्सर को भी होने से रोकती है।

Read more: त्रिफला में शामिल ये 3 फल देते हैं आपको ये 7 जबरदस्त फायदे

White turmeric wellness Inside

एंटी टाक्सिक

सफेद हल्दी में गुण होते हैं जिससे यह बॉडी में जहर फैलने नहीं देता है। यहां तक कि सांप अगर काट ले तो उसमें सफेद हल्दी का प्रयोग करना चाहिए।

सूजन कम करें

सफेद हल्दी में एंटी इन्फ्लेमेंटरी गुण के चलते सूजन, घाव और त्वचा रोग का इलाज करने में हेल्‍प मिलती है। सफेद हल्दी में किसी भी तरह के इंफेक्‍शन को रोकने की क्षमता होती है जैसी कि अगर किसी व्यक्ति को बुखार हो रहा है तो उसे सफेद हल्दी खिलाएं इससे उसका बुखार उतर जाता है।

Painkiller भी है हल्‍दी

क्‍या आप जानती हैं कि एस्पिरिन से ज्यादा कारगर है। जी हां इसमें एंटी इन्फ्लेमेंटरी और दर्द निवारक गुण के अलावा Curcumin नामक तत्व पाया जाता है जिससे दर्द में आराम मिलता है। यही नहीं इससे पेट की ऐंठन को भी दूर किया जा सकता है।

सांस संबंधी समस्याओं के लिए रामबाण

आयुर्वेद में, कफ दोष को कई सारी बीमारियों का कारण बताया गया है। अगर किसी महिला की बॉडी में कफ की शिकायत रहती है तो उसे लंग सम्बंधित बीमारी होगी। क्योंकि बॉडी में कफ जमा होने से सांस लेने में परेशानी होती है जिससे सर्दी खांसी और अस्थमा की शिकायत रहती है। और सफेद हल्‍दी कफ दोषों को दूर करने में मददगार होती है। 

ब्लड शुगर लेवल कम करें

सफेद हल्दी खाने से बॉडी का ब्लड शुगर लेवल कम रहता है। और यह बात कई अध्ययनों से भी साबित हो चुकी है।

White turmeric wellness Inside

कैंसर से बचाव

जैसे की आप जानती हैं कि सफेद हल्दी में Curcumin नाम का तत्‍व पाया जाता है जो सिर और गले के कैंसर का इलाज ज्यादा असरकारक हो जाता है। सफेद हल्दी में पाए जाने वाले तत्व करक्यूमिन से 'आंत के कैंसर' से पीड़ितों को राहत मिलती है। जब आंत का कैंसर पूरी तरह फैल जाता है तो इसका इलाज काफी मुश्किल हो जाता है, क्योंकि कीमोथेरेपी का बुरा असर होता है। सफेद हल्दी कीमोथेरेपी के बुरे असर को कम करने में हेल्‍प करती है।

महिलाओं के लिए औषधि

सफेद हल्दी से महिलाओं को होने वाली कई समस्यों का इलाज किया जा सकता है जैसे लुकोरिया, पीरियड्स पेन दर्द, पीरियड्स का अनियमित होना।

तो देर किस बात की आज से ही अपनी डाइट सफेद हल्‍दी में शामिल करें।

Credits

Producer: Prabhjot Kaur   
Editor: Atul Tripathi