तकिया लेकर सोती हैं? तो आज से इस आदत को बदल दें, होंगे ये फायदे

By Pooja Sinha17 Jan 2018, 11:32 IST

सोने के लिए हमें तकिये की जरूरत होती हैं। कुछ महिलाएं तो ऐसी होती हैं जिन्‍हें तकिये के बिना नींद ही नहीं आती है। उन्‍हें तकिया लगाकर आराम महसूस होता है यहां तक कि कुछ महिलाओं को यह भी लगता है कि इसे लगाने से गर्दन और रीढ़ की हड्डी को आराम मिलता है। जी हां हम सभी को सिर के नीचे मुलायम तकिया लगाकर सोने की आदत हैं। लेकिन क्‍या आप जानती हैं कि तकिया लगाकर सोने की इस आदत से आपको रीढ़ संबंधी समस्याओं के अलावा कील-मुहांसों और झुर्रियों तक की problem हो सकती है। आइए जानें कि बिना तकिया लगाये सोने से आपको क्‍या-क्‍या फायदे हो सकते हैं।

झुर्रियों से बचाव

क्‍या आप जानती हैं कि आपका तकिया झुर्रियों का कारण भी हो सकता है। विशेषज्ञों के अनुसार तकिये पर सोने से चेहरे पर झुर्रियों की समस्‍या भी हो सकती है। अगर  आप नींद में अपना चेहरे को तकिये पर रखकर सोती हैं तो आपकी इस आदत से आपके चेहरे पर झुर्रियां हो सकती है। इस तरीके से सोने से आपके चेहरे पर घंटों तक दबाव बना रहता है जिससे blood circulation प्रभावित होता है, और चेहरे की समस्याएं उभरती हैं।

Watch more: क्या आपकी स्किन भी है थकी हुई? तो अब कीजिए ये मसाज जो रखेंगी आपकी स्किन को हेल्‍दी

मुंहासे दूर भगाएं

कई बार गंदे तकिया में मौजूद soil particles रात में नींद के दौरान हमारी skin पर लग जाते हैं। यही contaminated particle मुंहासों बनने का कारण होते हैं। इसलिए या तो तकिया ना लें या फिर इसे अपने चेहरे से दूर ही रखें। इसके सीधे संपर्क में आने से ना केवल चेहरे पर pimples बन जाते हैं, साथ ही skin के पोर्स भी बंद हो जाते हैं। क्योंकि तकिये की गंदगी ही इन पोर्स को बंद करने का कारण बनती है और अगर यह बंद हो जाएं तो चेहरे की त्वचा को सुचारू रूप से oxygen नहीं मिल पाता और आपका चेहरा मुरझाने लगता है।

sleeping without pillow health inside

Image Coutesy: Pxhere.com

पीठ दर्द होता है दूर 

अगर आप अक्सर पीठ, कमर या आसपास की मसल्‍स में pain महसूस करती हैं, तो बिना तकिये के सोना शुरू कर दीजिए। दरअसल यह समस्या रीढ़ की हड्डी के कारण होती है, जिसका प्रमुख कारण आपका सोने का तरीका है। बिना तकिये के सोने पर back bone बिल्कुल सीधी रहेगी और आपकी यह समस्या कम हो जाएगी। इसके अलावा आमतौर पर गर्दन और कधों के अलावा पिछले हिस्से में दर्द आपके तकिये के कारण होता है। बगैर तकिये के सोने पर इन अंगों में blood circulation बेहतर होगा और आप pain से निजात पा सकेंगी।

तनाव करें छुमंतर

कई बार गलत तकिये का इस्तेमाल आपको मानसिक समस्या भी दे सकता है। अगर आपका तकिया hard है तो यह आपके ब्रेन पर बेवजह दबाव बनाता है जिससे मानसिक विकार की संभावना बढ़ जाती है। विशेषज्ञों का मानना है कि बिना तकिये के सोने से आपको अच्‍छी नींद आती है और आप बेहतर और आरामदायक नींद ले पाती हैं, जिसका असर आपके मूड और हेल्‍थ पर पड़ता है।

Young दिखती हैं आप

कई बार तकिये के उपयोग से हमें अच्छी नींद नहीं आती। इसके वजह से हम थका-थका फील करती हैं। अगर आप बिना तकिये के सोएंगी तो आपको अच्छी नींद आएगी। साथ ही skin पर pressure नहीं बनेगा और आप अच्छा और जवां महसूस करेंगी।

यह सब जानने के बाद अब आप तकिया लगाकर सोएंगी या बिना तकिया लगाएं?

Credits

Producer: Prabhjot Kaur    

Editor: Atul Tripathi