• + Install App
  • ENG
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search
author-profile

यूक्रेन का चेर्नोबिल ही नहीं, इन 10 वीरान शहरों की कहानी भी है बहुत रोचक

दुनिया भर में ऐसे कई शहर हैं जहां सालों से कोई भी नहीं रह रहा, लेकिन इन ऐतिहासिक जगहों का इतिहास बेहद रोचक है। 
author-profile
 most abandoned towns

जब भी हम किसी खाली शहर की बात करते हैं तो याद आती है चर्नोबिल की। यूक्रेन का चेर्नोबिल दुनिया की सबसे बड़ी न्यूक्लियर त्रासदी का शिकार बना था और इस कारण उसे कुछ ही घंटों में खाली कर दिया गया था। दुनिया भर में ये शहर सिर्फ इसी कारण से प्रसिद्ध है और यूक्रेन में चेर्नोबिल टूरिज्म भी बहुत फेमस हो गया था। पूरी दुनिया की बात करें तो ऐसे कई शहर हैं जो किसी न किसी कारण से वीरान छोड़ दिए गए हैं। 

आज की इस स्टोरी में हम आपको उन्हीं वीरान शहरों के बारे में बताने जा रहे हैं और एक तरह से देखा जाए तो इन शहरों की गलियां अपने आप में इनकी प्रसिद्धि के दौर की कहानी कहती हैं। 

 

1हम्पी (Hampi)

.Hampi

देश- भारत

हमारे देश के चर्चित टूरिस्ट स्पॉट हम्पी को भी एक समय में खाली कर दिया गया था। ये विजयनगर साम्राज्य की राजधानी हुआ करता था, लेकिन 1565 में सुल्तान की सेना ने इसे तबाह कर दिया और उस युद्ध के दौरान यहां रहने वाले लोगों ने इसे खाली कर दिया। आज भी यहां पर महल, घर, सीढ़िया और खूबसूरत आर्किटेक्चर वैसे ही स्थापित है। 

हम्पी की तरह ही मांडू, कुलधरा, ओरछा भी भारत के खाली शहरों में शुमार हैं। 

2ओराडोर-सुर-ग्लेन (Oradour Sur Glane)

.Oradour Sur Glane

देश- फ्रांस

फ्रांस का एक छोटा सा शहर जो अपनी खूबसूरती के लिए जाना जाता था वो वर्ल्ड वॉर 2 के दौरान पूरी तरह से तबाह कर दिया गया था। 10 जून 1944 को फ्रांस के नॉर्मंडी में इस तरह का कत्लेआम हुआ था कि जंग खत्म होने के बाद तत्कालीन फ्रेंच प्रेसिडेंट चार्ल्स डी गाऊले ने ये ऐलान किया था कि ये शहर दोबारा कभी बसाया नहीं जाएगा और यहां के रहवासियों की याद में इसे ओपन एयर म्यूजियम की तरह रखा जाएगा। 

इसे जरूर पढ़ें- -60 डिग्री सेल्सियस तापमान वाला भारत का सबसे ठंडा शहर, टूरिस्ट के लिए है खास आकर्षण

 

3वाहरम पर्सी (Wharram Percy)

.Wharram Percy

देश- यूनाइटेड किंगडम 

ये शहर 9वीं या 10वीं सदी में बनाया गया था और इसे इंग्लैंड के बेस्ट मेडीवल विलेज में से एक कहा जा सकता है। ये करीब 500 सालों से खाली है और यहां पर घर और चर्च सभी मौजूद हैं। इसे नोबल पर्सी परिवार ने बनाया था और यहां के लोग धीरे-धीरे पलायन कर गए। सन 1500 तक ये शहर पूरी तरह से खाली हो गया था और अभी इसे इंग्लिश हेरिटेज साइट के तौर पर संरक्षित रखा गया है। 

4बेलशाइट (Belchite)

. Belchite

देश- स्पेन 

इस छोटे से गांव का इतिहास 75 एडी तक जाता है और इसमें खूबसूरत मेडिवल चर्च और इमारतें देखी जा सकती थीं। बेलचाइट में स्पैनिश सिविल वॉर 1936 से 1939 तक बहुत कत्लेआम हुआ था और उस समय चर्च तबाह कर दिए गए और रहवासियों को मार दिया। उसके बाद से ये जगह वीरान है। 

5क्राको (Craco)

. Craco

देश- इटली

ये शहर 1963 में खाली किया गया था क्योंकि यहां के भूस्खलन ने इसे बहुत ही खराब स्थिति में ला दिया था। ये शहर जिस जगह पर मौजूद है वहां बहुत भूकंप आते हैं। ये शहर एक चट्टान को काटकर बनाया गया था और इसका आर्किटेक्चर तारीफ के काबिल है। यहां यूनिवर्सिटी, महल, चर्च, चौराहे सब कुछ था। यहां 'जेम्स बॉन्ड, क्वांटम ऑफ सोलेस, पैशन ऑफ द क्राइस्ट' जैसी कई फिल्मों की शूटिंग भी हुई थी। 

6कोलमनस्कोप (Kolmanskop)

. Kolmanskop

 देश- नामीबिया 

नामीबियन रेगिस्तान के बीच में मौजूद ये शहर काफी यूनिक है। 1900 के दशक में यहां कई जर्मन माइनर्स आकर बस गए थे। ऐसा माना जाता था कि यहां दुनिया के सबसे कीमती हीरे मौजूद हैं। यहां पर अल्मेनिएक स्टाइल गांव बनाया है। 1912 में तो यहां पर 1 मिलियन कैरेट या दुनिया का 11.7% डायमंड प्रोडक्शन यहां होता था।  

वर्ल्ड वॉर 1 के दौरान यहां पर डायमंड माइनिंग कम हुई और इसे आखिर 1954 में खाली कर दिया गया। 

 

इसे जरूर पढ़ें- तस्वीरों में देखिए दुनिया के 10 सबसे भव्य मंदिरों की एक झलक, भारत नहीं इस देश में है सबसे बड़ा मंदिर

 

7हाशिमा आईलैंड (Hashima Island)

. Hashima Island

देश- जापान

नागासाकी के करीब मौजूद हाशिमा आईलैंड 1887 में बनाया गया था और इसे मित्सुबिशी ग्रुप ने बनाया था। यहां कई मिलियन डॉलर का निवेश किया गया था और इसे बैटलशिप आइलैंड कहा गया था। इस जगह 5000 लोग रहा करते थे और 1960 में यहां कोयले की खदानें खाली होने लगीं। कोयले की खदानों के कारण ही इसे बनाया गया था। इसके बाद इसे खाली कर दिया गया और अब ये यूनेस्को वर्ल्ड हेरिटेज साइट बना दिया गया है। 

8प्यारामीडेन (Pyramiden)

.Pyramiden

देश- नॉर्वे 

प्यारामीडेन नॉर्वेजियन जगह पर मौजूद एक रशियन शहर है। ये एक घोस्ट टाउन है और स्वालबार्ड की राजधानी भी है। स्वालबार्ड नॉर्थ पोल से पहले आखिरी रेसिडेंशियल एरिया माना जाता है। ये शहर 20वीं सदी में स्वीडन द्वारा बनाया गया था और फिर इसे 1927 में सोवियत यूनियन को बेच दिया गया था। यहां पर स्कूल, स्पोर्ट्स कोर्ट, लाइब्रेरी, थिएटर आदि सब कुछ मौजूद था। हालांकि, 1990 में सोवियत यूनियन के भंग होने के बाद इस प्रोजेक्ट को खत्म कर दिया गया था और सभी को ऐसे में ये शहर छोड़कर जाना पड़ा। 

 

9प्रिप्यात (Pripyat)

. Pripyat

देश- यूक्रेन

हो सकता है कि आपको इस शहर का नाम न पता हो, लेकिन आपने इसके बारे में सुना जरूर हो। प्रिप्यात असल में चेर्नोबिल न्यूक्लियर रिएक्टर के कारण ज्यादा फेमस है। 1970 में सोवियत सरकार द्वारा इसे यूक्रेन के बॉर्डर पर बनाया गया था। इसमें लगभग 50,000 लोग रहा करते थे और उसमें से अधिकतर चेर्नोबिल न्यूक्लियर पावर प्लांट में काम करते थे। इस शहर को चेर्नोबिल न्यूक्लियर रिएक्टर हादसे के बाद से ही खाली कर दिया गया था। लोग अभी भी इसे चेर्नोबिल के नाम से ही जानते हैं और यहां पर आप सामान को उसी तरह से पड़ा देख सकते हैं जैसे 1986 में था जब रिएक्टर में ब्लास्ट हुआ था। 

10वोरकुता (Vorkuta)

. Vorkuta

देश- रशिया 

रशिया का वोरकुता आर्कटिक सर्कल के पास मौजूद है और ये बेहद ठंडी जगह है। यहां पर एक कोल माइन हुआ करती थी और यहां पर कैदियों से बहुत खराब तरीके से काम लिया जाता था। 1930 से 1960 के दशक के बीच यहां पर अमानवीय व्यवहार भी किए जाते थे और फिर जब सोवियत यूनियन का संगठन खत्म हुआ तो माइन का काम भी ठप पड़ गया। अब ये शहर बर्फ में दबा हुआ है और समय की मार झेल रहा है। 

इनके अलावा भी कई ऐसे शहर दुनियाभर में मौजूद हैं जो किसी न किसी कारण से खाली हो गए। अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी है तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।