हर कोई चाहता है कि उसके पास से अच्‍छी महक आए। अच्‍छी खुशबू आने से खुद को फ्रेश तो लगता ही है साथ ही कॉन्‍फीडेंस भी महसूस होता है। ऐसे में डियोडरेंट लगाना अब बहुत आम हो गया है। मगर, डियोडरेंट खरीदने से पहले कुछ बातों का ध्‍यान रखना बेहद जरूरी है। क्‍योंकि खराब डियोडरेंट आपकी स्किन और सेहत दोनों पर खराब असर डालता है। तो चलिए जानते हैं कि किसी तरह आप अपने लिए एक अच्‍छा डियोडरेंट चुन सकती हैं। 

इसे जरूर पढ़ें:कम बजट के ये परफ्यूम दिनभर आपको रखेंगे फ्रैश

Tips how to purchase good deodorant

इंग्रीडियंट्स चेक करें 

डियोडरेंट लेने की जब बात आती है तो ज्‍यादातर लोग केवल उसकी महक अच्‍छी लगने पर ही उसे ले लेते हैं। मगर, यह बहुत ही गलत तरीका है। डियोडरेंट लेने से पहले उसके इंग्रीडियंट्स को जरूर चेक करें। कई डियोडरेंट में बेहद हार्मफुल कैमिकल्‍स पड़े होते हैं जो आपकी स्किन मे जल और खुजली पैदा कर देते हैं। आपकी स्किन कैसी है पहले इस बारे में जाने और फिर उसी के हिसाब से डियोडरेंट खरीदें। 

इसे जरूर पढ़ें:अगर देर तर बिखेरनी है खुशबू तो परफ़्यूम ख़रीदने से पहले इन बातों का रखें ख़्याल

नॉन ऐल्‍कोहॉलिक डियोडरेंट लगाएं 

बैक्‍टीरियल ग्रोथ की वजह से शरीर से आने वाली बैड स्‍मैल को दूर करने के लिए डियोडरेंट का यूज किया जाता है। मगर, जब भी डियोडरेंट लें उससे पहले यह देख लें कि वह नॉन ऐल्‍कोहॉलिक होना चाहिए। बहुत सारे डियोडरेंट्स में एलूमीनियम कंपाउंड होता है। यह त्‍वचा के लिए अच्‍छा नहीं होता। इस तरह के डियोडरेंट्स त्‍वचा को ड्राए बना देते हैं(ड्राई स्किन से मिनटों में छुटकारा दिलाते हैं ये 3 स्‍टेप्‍स)। खासतौर पर इस तरह के डियोडरेंट्स अंडरआर्म्‍स पर लगाने से वह इंफैक्‍शन हो जाता है। 

Tips how to purchase good deodorant

लेने से पहले करें टेस्‍ट 

लगभग सारे डियोडरेंट्स में 6-15 प्रतिशत फ्रेगरेंस ऑयल और 80 प्रतिशत एल्‍कोहॉल होता है। मगर अच्‍छे ब्रांड के डियोडरेंट्स में 15 से 25 प्रतिशत फ्रेगरेंस ऑयल होता है। अगर आप चीप डियोडरेंट लेंगे तो आपको उससे लिचेनॉइड रिएक्‍शन, पैची पिगमेंटेशन और ब्रीदिंग प्रॉब्‍लम हो सकती है। इसलिए जब भी कोई डियोडरेंट लें तो पहले उसे अंडरआर्म्‍स पर स्‍प्रे करके देखें। अगर स्‍प्रे करने के बाद आपके सिर में पेन नहीं हो रहा और अंडरआर्म्‍स में खुजली नहीं होती है, तब ही उस डियोडरेंट को खरीदें। (अंडरआर्म्स के बाल हटाने से पहले जान लें ये 5 जरूरी बातें)

क्‍या है आपकी जरूरत 

अगर आपको बहुत पसीना आता है तो आप कितना भी अच्‍छा डियोडरेंट खरीद लें वह आपके काम का नहीं होता क्‍योंकि ज्‍यादा पसीना आने पर आपको ऐंटीपरस्पिरेंट यूज करना चाहिए। इससे आपको पसीना कम आएगा। अगर आपको पसीना ज्‍यादा नहीं आता तो (7 टिप्‍स अपनाएं और अंडरआर्म्‍स की बदबू को कहें goodbye) आप डियोडरेंट यूज कर सकती हैं।