• ENG
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search
author-profile
  • Gayatree Verma
  • Her Zindagi Editorial

कैसे लड़कियां पढ़ाई की रेस में लड़कों को पछाड़ रही हैं?

हर एक्जाम में लड़कियां टॉप कर रही हैं। इसलिए हमने थोड़ी सी रिसर्च कर ये जानने की कोशिश की है कि लड़कियों के टॉप करने का कारण क्या है?  
author-profile
  • Gayatree Verma
  • Her Zindagi Editorial
Published -06 Sep 2017, 14:45 ISTUpdated -13 Oct 2017, 12:18 IST
Exam big

UPSC का रिजल्ट हो चाहे CBSE का, या फिर किसी और एक्ज़ाम का... लड़कियां हर एक्ज़ाम में लड़कों को पछाड़ रही हैं। UPSC 2016 में टीना डाबी टॉपर रही थीं तो इस साल NANDINI K R ने टॉप किया है। CBSE के 12वीं के बोर्ड एक्जाम में भी इस साल एमिटी इंटरनेशनल स्‍कूल, नोएडा की रक्षा गोपाल ने 99.6 फीसदी मार्क्‍स के साथ टॉप किया है। वहीं सकेंड पोज़िशन पर 99.4 फीसदी मार्क्स के साथ भूमि सावंत रहीं। अगर आप आंकड़ों पर नज़र डालेंगे तो आपको पता चल जाएगा कि ये हर साल होता है। टॉपर्स की लिस्ट में लड़कियों की संख्या लड़कों के बराबर या उनसे अधिक होते हैं। आज हम इस पर ही रिसर्च करते हैं कि आखिर क्यों और कैसे लड़कियां, लड़कों को पछाड़ रही हैं। 

1किचन से करियर तक

kitchen study

लड़कियों की ट्रेनिंग किचन से ही शुरू हो जाती है। पहले लड़कियों को बोला जाता है, "आटा गूंथना सीख ले"। फिर उसके बाद रोटी बनाने की ट्रेनिंग दी जाती है। लड़कियां भी ऐसे ही एक-एक सब्जेक्ट को बारी-बारी से प्लानिंग के साथ पढ़ने लगती हैं। फिर जिस तरह से धीरे-धीरे के चक्कर में एक दिन रोटी गोल बन जाती है उसी तरह से एक्ज़ाम भी टॉप कर जाती हैं। इन शॉर्ट, इस धीरे-धीरे के चक्कर में किचन तो सेट होता ही है, करियर भी सेट हो जाता है।   

2रोक-टोक बनी Strength

exam preparation

रोक-टोक और लड़कियां। "यहां मत जाओ। वो मत करो। ये मत करो...।" तो लड़कियां कहीं नहीं जाती। कुछ नहीं करती और पढ़ने बैठ जाती है। और फिर हो जाती है पढ़ाई और कर लेती है एक्ज़ाम टॉप। इन शॉर्ट खुद पर होने वाली रोक-टोक को भी लड़कियां खुद के लिए यूज़ करने लगी हैं और अपना करियर बूस्ट कर रही हैं।

Read More: सुसाइड गेम से सावधान !! बच्चों को ना खेलने दें ब्लू व्हेल चैलेंज

3अच्छे लड़के के लिए पढ़ाई

girl study

आजकल घर का माहौल काफी टाइट है। मां-बाप लड़कियों के पढ़ाई में काफी ध्यान दे रहे हैं क्योंकि आजकल लड़कों को पढ़ी-लिखी लड़कियां चाहिए।Emoji तो लड़कियां भी कम नहीं है और जम कर पढ़ाई कर रही हैं। इस कारण भी बेटियां पढ़ाई में बेटों से आगे निकल रही हैं। 

4रिश्तेदारों को जवाब

family conversation

"अजी लड़की इतनी बड़ी हो गई है आपकी। शादी नहीं करवा रहे?" ये लाइन हर लड़की को और उसकी फैमिली को उनके रिश्तेदारों से सुनने के लिए मिल ही जाती है। ऐसी स्थिति में जवाब देने के लिए लड़कियों को पढ़ाया जाता है, ताकि बोल सके कि, "अभी तो बीए ... एमए कर रही है।"

Read More: भैरवी गोस्वामी ने कहा, ''actresses काम के लिए मर्दों के साथ सोती हैं, फिर 10 साल बाद रोती हैं''