हमारे देश में अक्सर गर्ल चाइल्ड को पढ़ाने और उन्हें आगे बढ़ाने की बात कही जाती है। महिला सशक्तीकरण की दिशा में हो रहे प्रयासों की भी अक्सर चर्चा होती है। लेकिन जब देश की लड़कियां अपने टैलेंट से स्कूल और पेरेंट्स का नाम रोशन करती हैं, कुछ नया कर दिखाने का जज्बा जाहिर करती हैं, तो उसे देखकर हर किसी को खुशी महसूस होती है। आज के वीडियो में हम आपको ऐसी प्रतिभाशाली लड़कियों के बारे में बताने जा रहे हैं। नोएडा के एमिटी इंटरनेशनल की इन प्रतिभाशाली लड़कियों पर इनकी स्कूल टीचर्स को नाज है। दिलचस्प बात ये है कि इन लड़कियों में एक सीईओ, एक चीफ टैक्निकल ऑफिसर है और एक मार्केटिंग टीम है, जो मिलकर एक नये प्रोजेक्ट पर काम कर रहे हैं। इन लड़कियों ने एक ऐप डेवलप किया है, जो अनाथ और बुजुर्गों के साथ कनेक्ट बढ़ाने का काम कर रहा है। आइए जानते हैं कि इन इंस्पायरिंग गर्ल्स ने क्या कहा

अनन्या ग्रोवर, जो मैत्री ऐप की सीईओ हैं, बताती हैं, 'हम सीनियर सिटिजन्स और अनाथ बच्चों के लिए कुछ करना चाहते थे, क्योंकि ये मुख्य धारा से खुद को अलग महसूस करता है। इनकी मदद करके हम इन्हें मुख्य धारा से जोड़ने का प्रयास कर रहे हैं। हमने इस ऐप को 19 जुलाई को लॉन्च किया है।'

वसुंधरा सुधिंदर, जो मैत्री ऐप की चीफ डिजाइन और कम्यूनिकेशन ऑफिसर हैं, बताती हैं, 'मैंने ऐप की कलर स्कीम के बारे में सुझाव दिए। दरअसल हर रंग का अलग अर्थ है। हमने ऐप को अच्छा बनाने के लिए कई बार डिस्कशन किए और इसी का नतीजा है कि हमने अपनी तरफ से एक नेक मकसद के लिए यह ऐप लॉन्च किया है।'