सोसाइटी और वीमेन
  • Gayatree Verma
  • Her Zindagi Editorial25 Jan 2018, 17:41 IST

Thank god! हमलोग 21वीं सदी में हैं, नहीं तो 19वीं सदी के abortion के तरीकों का दर्द हमें भी पड़ जाता झेलना शायद

वो तो भगवान का शुक्र है कि हमलोग इस जमाने में रहते हैं। क्योंकि पहले जमाने में abortion के लिए ऐसे अमानवीय तरीके अपनाए जाते थे जिन्हें सुनकर आपकी रुह ...
Image Courtesy: Shutterstockdangerous methods of abortion article
  • Gayatree Verma
  • Her Zindagi Editorial25 Jan 2018, 17:41 IST

अब प्रदुषण कितना भी बढ़ जाए... जो कि आजकल बढ़ ही रहा है, विकास तो हमलोग कर ही रहे हैं। इस विकास का ही नतीजा है कि आज हम abortion कराने के लिए ऐसे तरीकों का इस्तेमाल कर पाते हैं जो काफी आसानी से हो जाते हैं और हमें तकलीफ भी नहीं देते। नहीं तो, 19वीं सदी तक लोग abortion कराने के लिए ऐसे अमानवीय तरीकों का इस्तेमाल करते थे जिनके बारे में जानकर ही आज हमारी रुह कांप जाती है। आज हम इस आर्टिकल में इन अमानवीय तरीकों के बारे में जानते हैं और भगवान का शुक्रिया अदा करते हैं।  

1Tansy ऑयल पीना

Image Courtesy: Organicfactsdangerous methods of abortion inside

इसका इस्तेमाल यूरोप से लेकर मध्य भारत की महिलाएं abortion के लिए करती थीं। ये ऑयल एक तरह की जंगली झाड़ियों को पीस कर निकाला जाता था। इस ऑयल से शरीर के अंदर के अंग सड़ने लगते हैं। गर्भवती महिलाएं इस ऑयल को अपने गर्भ को सड़ाने के लिए पीती थीं। इस ऑयल का इस्तेमाल ही किसी चीज को सड़ाने के लिए किया जाता है। 

Read More: इन एक्ट्रेसेस से रोल को बदले की गई थी सेक्स की डिमांड 

2Vagina में डाले जाते थे Leech

Image Courtesy: pbs.org dangerous methods of abortion inside

पहले abortion के बारे में किसी को मालूम नहीं था। मालूम था कि गर्भ में बच्चा पल रहा है जिसे खत्म कर आप इससे मुक्ति पा सकते हैं। इसलिए लोग कैसे भी इससे मुक्ति पाने का तरीका ढूंढते थे। इन तरीकों में सबसे पहला तरीका था- Vagina में Leech डालना। Leech गर्भ में जाकर, गर्भ में पल रहे बच्चे का खून चूस लेता है जिससे की बच्चा मर जाता है।

Read More: #ShutThePhoneUp: क्यों ये ad निजी पलों को मोबाइल पर रिकॉर्ड नहीं करने के लिए कह रहा है?

3तीखी मिर्च करते थे यूज़

Image Courtesy: YouTubedangerous methods of abortion inside

इसका तो नाम सुनते ही मुंह में मिर्च लग जाती है। ऐसे में आप सोच सकते हैं कि बच्चा गिराने के लिए जब इसका इस्तेमाल होता था तो कितना दर्द होता होगा। महिलायें गर्भ में पल रहे बच्चे को खत्म करने के लिए खूब सारी लाल मिर्ची खाती थीं। जिससे गर्भ बन ही नहीं पाता था। 

4खाते थे वॉशिंग सोडा भी

Image Courtesy: The Sprucedangerous methods of abortion inside

पुराने जमाने में महिलाएं गर्भपात कराने के लिए बेकिंग सोडा खाती थी। बेकिंग सोडा गर्म करता है। अब आफ सोच सकती हैं कि ये गर्भ को तो गिराता ही होगा लेकिन ये पेट का भी कितना नुकसान करता होगा। इसी तरह बेकिंग सोडा के ऑप्शन के तौर पर कुछ महिलाएं गनपाउडर भी खाती थीं। 

5सीढ़ियों से गिरना

Image Courtesy: John Robinson House Decordangerous methods of abortion inside

ऐसा एक्सीडेंटली होता है। लेकिन पहले महिलाएं इसे abortion कराने के लिए इस्तेमाल करती थीं। इससे कई बार महिलाओं की मौत भी हो जाती थी। जिनकी मौत नहीं होती उनके बाकी के हिस्सों को काफी नुकसान होता था। 

Read More: अगर महिलाओं के लिए पीरियड्स लीव्स हैं तो, मर्दों को भी कुछ छुट्टियाँ देनी चाहिए- कल्कि कोचलिन

Loading...
Loading...