• + Install App
  • ENG
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search
author-profile
  • Gayatree Verma
  • Her Zindagi Editorial

क्या आपके लिए भी पुलाव और बिरयानी एक है? तो जान लें इन दोनों के बीच का difference

आपको भी लगता है पुलाव और बिरयानी एक होती है तो अपनी गलतफहमी आज ही दूर कर लें। 
Published -15 Sep 2017, 18:46 ISTUpdated -18 Oct 2017, 12:15 IST
author-profile
  • Gayatree Verma
  • Her Zindagi Editorial
  • Published -15 Sep 2017, 18:46 ISTUpdated -18 Oct 2017, 12:15 IST
Biryani or pulao big

आपको सबसे ज्यादा क्या पसंद है, बिरयानी या पुलाव? 

है भगवान... आपको इन दोनों में अंतर ही नहीं मालूम। ये क्या बच्चों की तरह बात कर रही हैं कि 'दोनों एक ही होते हैं।' दोनों में बहुत अंतर होता है। दोनों चीजें चावल से बनती हैं तो इसका मतलब ये नहीं कि दोनों एक ही हैं। दोनों के बनाने के तरीके से लेकर स्वाद तक में अंतर होता है। 

कोई नहीं। अगर दोनों में अंतर नहीं पता तो आज ही जान लें और फिर से ऐसा बोलने की गलती ना करें कि दोनों एक ही होते हैं। क्योंकि ये दोनों की ही बेइज्जती है ...। 

और हां... बूरा मानने की बात नहीं है। दोनों ही चावल की वेरायटी है इसलिए कम ही लोग इसमें difference बता पाते हैं। इसलिए हम आपको अपना समझ के इतनी खरी-खोटी सुना दिए हैं इससे पहले कि कोई और आपका मजाक उड़ा दे। अब आप इन दोनों में difference जान लें और बुद्धिमान बन जाएं। 

1दोनों के मसाले होते हैं अलग

Biryani or pulao

दोनों को बनाने के लिए जिन मसालों का इस्तेमाल किया जाता है जब वही अलग होते हैं तो ये दोनों कैसे एक हो सकते हैं? वैसे भी पुलाव तुर्की और भारतीय dish है जबकि बिरयानी मुगलों और नवाबों का खाना माना जाता है। इसलिए बिरयानी को बनाने में मुगलई मसालों का इस्तेमाल किया जाता है, जैसे जावित्री, दालचीनी, लौंग, इलायची, कर्णफूल, जायफल, शाही जीरा, केसर। वहीं पुलाव मसालों पर कम निर्भर रहता है। इसमें स्वाद के लिए तेजपत्ता, लौगं और इलायाची मिलाकर बना दिया जाता है। सफेद चावल को भी किसी भी रंग के साथ नहीं रंगा जाता है। 

2सबसे बेसिक चीज, आंच होती है अलग

Biryani or pulao

दोनों में सबसे बेसिक चीज आंच का ही difference होता है। मतलब कि दोनों को पकाने के लिए अलग-अलग आंच का इस्तेमाल किया जाता है। बिरयानी हमेशा कम आंच पर घंटों तक पकाई जाती है। जबकि पुलाव को मीडियम आंच पर पकाया जाता है। बिरयानी चाहे टेराकोटा, कच्चा लोहा या तांबे के बर्तन में बन रही हो, सुगंध को सुरक्षित रखने के लिए हमेशा बर्तन को सील बनाया जाता है।

3लेयरिंग भी होती है अलग

Biryani or pulao

आंच के बात दोनों में बेसिक difference लेयरिंग का भी होता है। बिरयानी कई लेयर्स में तैयार की जाती है। जैसे कि सबसे पहले प्याज मसाला एक तरफ भूंज लिया जाता है। फिर मांस अलग भूंज लिया जाता है। इसी तरह सब्जियां अलग भूंजी जाती हैं। फिर एक बर्तन में नॉनवेज की एक परत, सब्जियों की एक परत और तली हुई प्याज के लिए तीसरी परत रखी जाती है। वहीं पुलाव में सब्जियां, मांस, मसाले और चावल एक साथ भून कर उबाल दिये जाते हैं।

4चावल की तैयारी

Biryani or pulao

बिरयानी बनाने के लिए चावल को सबसे पहले अलग से उबाल कर तैयार किया जाता है। फिर उसके बाद मसाले, सबजियों और मांस की लेयरिंग तैयार कर पकाया जाता है। वहीं पुलाव बनाने के लिए चावल और सब्जियों को साथ में पकाया जाता है।

Read more: खाने से पहले Brown eggs और White eggs में जान लें ये Difference