भारत के सबसे प्राचीन मंदिर


Smriti Kiran
www.herzindagi.com

    भारत में कई प्राचीन मंदिर हैं, जो काफी फेमस हैं। इन्हें देखने दूर दूर से लोग आते हैं। इनकी सुंदरता देखने लायक है। आइए इनके बारे में जानते हैं।

    भगवान शिव को समर्पित बृहदेश्वर मंदिर को 1002 ईस्वी में राजाराज चोल ने बनवाया था। यह मंदिर द्रविड़ शैली का अनूठा उदाहरण है। इस मंदिर के शीर्ष की ऊंचाई 66 मीटर है।

कैलाश मंदिर, एलोरा

    महाराष्ट्र के औरंगाबाद में स्थित यह दो मंजिला मंदिर एक ही पत्थर को काटकर बनाया गया है। इसे राष्ट्रकूट वंश के शासकों ने बनवाया था। इसे बनाने में करीब 150 साल लगे और 7000 मजदूरों ने इस पर लगातार काम किय

चेन्नाकेशव मंदिर, कर्नाटक

    कर्नाटक के होयलस काल में बना यह मंदिर यगाची नदी के किनारे स्थित है। यह विजयनगर के शासकों द्वारा चोलों पर उनकी विजय को दर्शाने के लिए बनाया गया था। यह मंदिर विष्णु भगवान को समर्पित है।

तुंगनाथ मंदिर, उत्तराखंड

    उत्तराखंड के रुद्रप्रयाग जिले में स्थित यह मंदिर तुंगनाथ पर्वत पर स्थित है । यह भोलेनाथ के पंच केदारों में से एक है। यह समुद्र तल से करीब 3680 मीटर पर स्थित है। इस मंदिर में एक बार में केवल 10 लोग ही

आदि कुंभेश्वर, तमिलनाडु

    तमिलनाडु के कुंभकोणम को मंदिरों का नगर कहा जाता है। यह मंदिर विजयनगर काल में बना था। शिवलिंग के रूप में बना यह मंदिर भगवान कुंभेश्वर को समर्पित है। इसका पवित्र स्थान मंदिर के केंद्र में है।

ब्रह्मा मंदिर, राजस्थान

    राजस्थान के पुष्कर में स्थित इस मंदिर की संरचना 14वीं शताब्दी की है। यह मंदिर 2000 साल पुराना बताया जाता है। मंदिर के बीचों-बीच ब्रह्मा और उनकी दूसरी पत्नी गायत्री की मूर्ति हैं।

वरदराजा पेरुमल मंदिर, तमिलनाडु

    वरदराजा पेरुमल मंदिर कांचीपुरम शहर में स्थित है। माना जाता है कि मंदिर की छत पर बनी छिपकलियों की मूर्तियों के स्पर्श से जीवन के सारे पाप धुल जाते हैं।

सूर्य मंदिर, ओडिशा

    कोणार्क में स्थित सूर्य मंदिर को 1250 ईस्वी में राजा नरसिम्ह देव प्रथम ने बनवाया था। यह मंदिर यूनेस्को के विश्व धरोहर स्थलों में भी शामिल है। इसकी संरचना का एक बड़ा हिस्सा अब खंडहर के रूप में है।

दिलवाड़ा मंदिर, राजस्थान

    ये मंदिर माउंट आबू से करीब ढाई किमी दूर स्थित हैं। इनका निर्माण 11 वीं और 13 वीं शताब्दी के बीच हुआ था। ये मंदिर संगमरमर के अद्भुत उपयोग के लिए प्रसिद्ध है। ये दुनिया के सबसे सुंदर जैन तीर्थ स्थल में

पंचरत्न मंदिर, पश्चिम बंगाल

    यह मंदिर राजा रघुनाथ सिंह ने 1643 ईस्वी में बनवाया था। यह मंदिर एक छोटे से वर्गाकार चबूतरे पर बना हुआ है। मंदिर के चारों तरफ तीन मेहराबों वाले द्वार के साथ चारों तरफ घूमने के लिए एक बरामदा है।

विट्ठल मंदिर, कर्नाटक

    हम्पी में स्थित विट्ठल मंदिर पूरे परिसर के सभी मंदिरों में खूबसूरत है। यहां मशहूर म्युजिकल पिलर्स हैं जिनमें से अद्भुत ध्वनि निकलती है। अंग्रेज इस ध्वनि का रहस्य जानना चाहते थे। इसके लिए उन्होंने दो ख

ओरछा मंदिर, मध्य प्रदेश

    ओरछा मंदिर एक प्रसिद्ध पर्यटक स्थल है जो प्रसिद्ध खजुराहो मंदिर के पास है। शहर में चतुर्भुज मंदिर, लक्ष्मी मंदिर और राम राजा मंदिर है। ऊंचाई पर बने चतुर्भुज मंदिर का ऊंचा शिखर लोगों के आकर्षण का केंद्

    अगर आपको अध्यात्म से जुड़ी प्राचीन जगहों को देखने का शौक है, तो ऐसे जगहों पर जरूर जाएं। स्टोरी अच्छी लगी हो तो इसे शेयर करें। साथ ही ऐसी अन्य स्टोरी जानने के लिए जुड़े रहें herzindagi.com के साथ।