फैशन की दुनिया तेजी से बदलती है, लेकिन कुछ ट्रेंड्स ऐसे भी हैं, जो समय के साथ नहीं बदलते हैं। इन्हीं में से एक ट्रेंड रत्न पहनना है, जिसे एक्‍सपर्ट रूप से और उत्तम मिनरल्‍स से तैयार किया जाता है। अलग-अलग रंगों और शेप में आने वाले रत्न सुंदर होने के साथ हीलिंग गुणों से भरपूर होते हैं। इसलिए हम आपको हर हफ्ते रत्नों से जुड़े फायदों की जानकारी देते हैं। आज हम आपको नीलम रत्न के बारे में बता रहे हैं।  

नीलम सबसे महत्‍वपूर्ण रत्नों में से एक माना जाता है। कई धर्मों में, पत्थर का नीला रंग स्वर्ग का प्रतिनिधित्व करने के लिए जाना जाता है। कहा जाता है कि नीलम धारण करने से विद्या, मानसिक स्थिरता और आध्यात्मिक उपचार मिलता है। कुछ अध्ययनों से यह भी पता चलता है कि नीलम पहनने से व्यक्ति को आत्म-चेतना के गहरे स्तर तक पहुंचने और जीवन के प्रति अधिक सकारात्मक दृष्टिकोण प्राप्त करने में मदद मिल सकती है।

इस आर्टिकल के माध्‍यम से GemPundit के फाउंडर और जेमस्टोन एक्सपर्ट नितिन यादव हमें बताएंगे कि कैसे नीलम रत्न शारीरिक, मानसिक और आध्यात्मिक तौर पर हमसे जुड़ सकता है और किन लोगों को फायदा पहुंचा सकता है। अगर आप भी इस तरह की जानकारी चाहती हैं तो इस आर्टिकल को जरूर पढ़ें। 

नीलम रत्न के फायदे

health benefits of wearing blue sapphire

नीलम को समृद्धि और ज्ञान के स्‍टोन के रूप में भी जाना जाता है, क्योंकि यह अक्सर वफादारी, दोस्ती, आध्यात्मिक विकास, आशावाद और संतुलन से जुड़ा होता है। हालांकि, यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि विभिन्न नीलम विशिष्ट विशेषताओं के साथ आते हैं और इस प्रकार पहनने वाले को विभिन्न तरीकों से प्रभावित करते हैं। काले, नीले, हरे, इंडिगो, सफेद और गुलाबी जैसे नीलम हृदय, मुकुट, आधार और गले के चक्र सहित कई चक्रों को सक्रिय कर सकते हैं। नीलम विशेष रूप से रॉयल्टी से जुड़ा है और प्रमुख रूप से आशीर्वाद, उपहार आकर्षित करने और विचारशील और जिम्मेदार व्यवहार को पुनर्जीवित करने के लिए जाना जाता है।

इसे जरूर पढ़ें:कौन पहन सकता है Jade Stone और क्या हैं इसके फायदे, एक्सपर्ट से जानें

सामान्य तौर पर नीलम रत्न को शांति के लिए जिम्मेदार ठहराया जाता है, क्योंकि यह पहनने वाले को उसके सपनों और इच्छाओं को पूरा करने में सहायता करता है। यह तनाव, चिंता, डिप्रेशन और अवांछित नकारात्मक विचारों से छुटकारा पाने में भी मदद करता है। अपने शानदार मानसिक और आध्यात्मिक उपचार गुणों के अलावा, नीलम ब्‍लड डिसऑर्डर्स को ठीक करने की प्रक्रिया को तेज करने, अत्यधिक ब्‍लीडिंग का मुकाबला करने, सेलुलर डिसऑर्डर्स और नसों की दीवारों को मजबूत करने के लिए जाना जाता है।

नीलम किसे पहनना चाहिए?

sapphire stone benefits

नीलम रत्न आध्यात्मिक विकास, आत्म-प्रशंसा, मित्रता और प्रेम के लिए जिम्मेदार होता है। हालांकि, किसी विशेषज्ञ से सलाह लेने के बाद ही नीलम रत्न धारण करने की सलाह दी जाती है। नीलम रत्न तभी सर्वोत्तम परिणाम देता है, जब उसे पहनने वाले की जन्म कुंडली की सावधानीपूर्वक जांच के बाद पहनाया जाए।

इसे जरूर पढ़ें: धन लाभ और सुख समृद्धि के लिए रविवार के दिन जरूर करें एस्ट्रो के ये 7 उपाय 

यदि आपके मन में भी नीलम रत्न धारण करने से संबंधित कोई सवाल है, तो हमें फेसबुक पर कमेंट करके जरूर पूछें। हमारे एक्‍सपर्ट उनका उत्तर देने का प्रयास करेंगे। अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी हो तो इसे शेयर जरूर करें और ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।