रेल की यात्रा कितनी भी सुखद क्यों न लेकिन कई बार आपको रेलवे स्टेशन पर कुछ सुकून के पल ढूढ़ने की जरूरत पड़ती है। इन्हीं पलों की तलाश में अक्सर यात्री रेल यात्रा के बाद आराम का कोई ठिकाना ढूढ़ने लगते हैं। लेकिन क्या स्टेशन पर आपको कभी फाइव स्टार होटल जैसी सुविधा मिल पाती है? अगर आपको लगता है कि रेलवे स्टेशन के आस -पास ठहरने और आराम की कोई अच्छी सुविधा उपलब्ध नहीं होती है तो आपका सोचना गलत हो सकता है।

जी हां, भारतीय रेलवे ने यात्रियों की सुविधा के लिए देश में पहले बार पॉड होटल की सुविधा लॉन्च की है। आपको बता दें, ये पॉड होटल मुंबई सेंट्रल होटल पर मौजूद हैं और इसमें यात्रियों के लिए बहुत सी सुविधाएं दी जा रही हैं। आइए जानें हाल ही में लॉन्च हुए पॉड रूम से जुड़ी कुछ ख़ास बातें। 

कैसे हैं ये पॉड रूम 

pod room mumbai

मेजेनाइन फ्लोर के साथ लगभग 3000 वर्ग फुट के क्षेत्र में फैला पॉड होटल, मुंबई सेंट्रल में स्टेशन की इमारत की पहली मंजिल पर स्थित है और इसमें 48 कैप्सूल जैसे कमरे हैं जिनमें क्लासिक पॉड्स, प्राइवेट पॉड्स और महिलाओं के लिए अलग पॉड शामिल किये गए हैं। पॉड होटल में रात भर किफायती दामों पर रुकने के लिए कई छोटे बिस्तर के आकार के कैप्सूल हैं। इसके सभी कमरे यात्रियों की सुविधा के लिए बनाए गए हैं। पॉड होटल में तीन श्रेणियां शामिल हैं- जिसमें 30 क्लासिक पॉड, केवल 7 महिलाएं, 10 निजी पॉड और एक दिव्यांग यात्रियों के लिए हैं।

इसे जरूर पढ़ें:तत्काल में लेना है या करवानी है डुप्लिकेट टिकट, जानें भारतीय रेलवे के काम के 6 नियम

होंगी कई आधुनिक सुविधाएं 

क्लासिक पॉड्स और लेडीज ओनली पॉड्स आराम से एक गेस्ट के लिए उपयुक्त होंगे जबकि प्राइवेट पॉड में कमरे के भीतर एक प्राइवेट स्पेस भी होगा। दिव्यांग यात्रियों लिए बनाए गए पॉड्स में दो गेस्ट आराम से रह सकते हैं और इसके अंदर व्हील चेयर की सुविधा भी है। इन सभी कमरों में यात्री तुलनात्मक रूप से सस्ती दरों पर सभी आधुनिक सुविधाओं का लाभ उठा सकते हैं।(6 ट्रिप प्लानर ऐप्स)

क्या होगा पॉड रूम का किराया 

pod room fair

इस सुविधा का लाभ उठाने और पॉड होटल में रुकने के लिए यात्रियों की 12 घंटे के लिए 999 रुपए और 24 घंटे के लिए 1,999 रुपये का भुगतान करना होगा। वहीं 12 घंटे के लिए एक निजी पॉड के लिए, उन्हें 1,249 रुपये का भुगतान करना होगा और 24 घंटे के लिए इसकी कीमत 2,499 रुपये होगी।

इसे जरूर पढ़ें:सस्ती प्लेन टिकट बुक करने के कुछ आसान हैक्स

होगी वाई फाई की सुविधा 

मुंबई सेंट्रल स्टेशन में बने पॉड होटल के भीतर यात्री मुफ्त वाई-फाई का भी लाभ उठा सकते हैं और होटल परिसर में सामान्य क्षेत्र में वाशरूम, सामान और शॉवर रूम का उपयोग कर सकते हैं। उनके पास होटल में एयर कंडीशनर पॉड कैप्सूल के अंदर टीवी, मोबाइल चार्जिंग प्वाइंट और रीडिंग लाइट की सुविधा भी होगी। इसके अलावा पॉड रूम्स में इंटीरियर लाइट, मोबाइल चार्जिंग, स्मोक डिटेक्टर और डीएनडी इंडिकेटर की सुविधा भी मौजूद होगी।  

Recommended Video

तस्वीरें हुईं सोशल मीडिया पर वायरल 

मिनिस्ट्री ऑफ़ रेलवे ने इस पॉड होटल की तस्वीरें ट्विटर पर शेयर की हैं। आप भी देख सकते हैं इसकी खूबसूरत तस्वीरें। 

क्या होते हैं पॉड होटल 

what are pod room

पॉड होटल सबसे पहले जापान में विकसित किए गए थे। एक पॉड यानी कैप्सूल होटल जापान में विकसित एक प्रकार का होटल है जिसमें कई छोटे बिस्तर के आकार के कमरे होते हैं जिन्हें कैप्सूल के रूप में जाना जाता है। पॉड होटल उन मेहमानों के लिए सस्ते, बुनियादी आवास प्रदान करते हैं जिनकी आवश्यकता ज्यादा नहीं होती है या जो अधिक महंगे होटलों का खर्च नहीं उठा सकते हैं। दुनिया का पहला पॉड होटल 1979 में खुला और इसका नाम कैप्सूल इन ओसाका था, जो जापान के ओसाका के उमेदा जिले में स्थित था और किशो कुरोकावा द्वारा डिजाइन किया गया था। मुंबई सेंट्रल में तैयार किया गया पॉड होटल भारत का पहला पॉड होटल है जो यात्रियों को कई तरह की सुविधाएं उचित दामों पर उपलब्ध कराएगा।(इन ट्रैवल हैक्स की मदद से सफर को बनाएं आसान)

अगर आपको भी ये लेख पढ़ने के बाद इस पॉड होटल सुविधा का लाभ उठाना है तो आप मुंबई यात्रा की प्लानिंग बना सकते हैं। अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit: twitter.com @Ministry of Railways