कोरोना वायरस के कारण हर संस्थान लगातार अपने एम्प्लॉईज़ की छंटनी कर रहे हैं और हर कोई इसी डर के साये में जी रहा है कि न जाने कब उसकी नौकरी चली जाए। पर कई ऐसे भी लोग हैं जिन्होंने नौकरी जाने के बाद अपना नया काम शुरू किया और सबके सामने उदाहरण प्रस्तुत किया। ऐसे ही लोगों में से है दिल्ली का ये कपल जिसमें पति की नौकरी लॉक डाउन में चली गयी, लेकिन पत्नी ने हार नहीं मानी और बिरयानी बनाने की कला को अपने बिज़नेस और आमदनी के स्रोत के रूप में इस्तेमाल किया।

कोरोना वायरस के चलते जहां लगभग हर हफ्ते किसी न किसी क्षेत्र से हजारों कर्मचारियों को बिना वेतन के छुट्टी देने, नौकरियों से निकालने, वेतन में भारी कटौती की खबरें लगातार सुनी व देखी जा रही हैं ,वहीं यह जोड़ा अपनी इच्छा, समर्पण और नवीनता के साथ दुनिया के लिए एक प्रेरणा बन कर सामने आया है। आइए जानें इनके बारे में -

दिल्ली का जोड़ा 

biryani business ()

आपको बता दें कि दिल्ली का एक ऐसा  जोड़ा है, जिसने लॉकडाउन के दौरान पति की नौकरी जाने के बाद बिरयानी बेचना शुरू कर दिया था। जी हां, रोहित सरदाना दिल्ली में एक कॉस्मेटिक कंपनी के साथ काम करते थे। लेकिन लॉकडाउन के दौरान उनकी नौकरी चली गई। उन्होंने नई नौकरी खोजने के लिए बहुत संघर्ष किया लेकिन कोरोना के कठिन समय में नौकरी भला कहाँ मिलती। ऐसे में उनकी पत्नी ने उनका पूरा सहयोग किया। 

Recommended Video

पत्नी ने दिया साथ 

रोहित कहते हैं कि ऐसे समय पर मेरी पत्नी रजनी ने मेरा साथ दिया। रजनी ने अपने परिवार का समर्थन करने के लिए एक नया बिज़नेस  शुरू करने के बारे में सोचा । पत्नी को विचार आया कि क्यों न हम बिरयानी बनाएं और लोगों को उसका स्वाद चखाएं जिससे कुछ आमदनी हो। पत्नी की बात रोहित को ठीक लगी और फिर दोनों इस काम में लग गये। 

कार को बनाया स्टॉल 

biryani business ()

रोहित कहते हैं कि सड़क पर बिरयानी बेचने के लिए अपनी कार में एक छोटी सी व्यवस्था की। हम घर से बिरयानी बनाकर लाते हैं और कार में रखते हैं। जब भी कोई ग्राहक बिरयानी खाने आता है उसे हम सर्व करते हैं। 

इसे जरूर पढ़ें:Anniversary Celebration: महिलाओं के सम्मान के लिए समर्पित कई लाइव सेशन के साथ HZ ने मनाई अपनी तीसरी एनिवर्सरी

तैयारी में लगता है समय 

biryani business ()

रोहित की पत्नी रंजना कहतीं हैं कि बिरयानी बनाने के लिए हम सुबह  5: 30 बजे उठते हैं क्योंकि बिरयानी तैयार करने में 4 घंटे का समय लगता है। उनकी कड़ी मेहनत धीरे-धीरे रंग लाने लगी है और आमदनी भी होने लगी है। 

इसे जरूर पढ़ें: वकील को चाहिए खास दुल्हन जिसे सोशल मीडिया की लत न हो

ये तो रही बात रोहित की, जिन्होंने लॉक डाउन  के दौरान नौकरी चले जानें के बाद अपने परिवार का पेट पालने के लिए पत्नी के साथ बिरयानी का काम शुरू कर दिया। लेकिन कुछ ऐसे भी लोग हैं जो बहुत जल्द ही बेरोजगारी की मार से हार मान लेते हैं और कोई गलत कदम उठा सकते हैं। ऐसे लोगों को इस जोड़े से प्रेरणा लेने की जरूरत है। 

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

images : brut india