• ENG
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search

क्या आप जानते हैं तकिए के नीचे मोबाइल रखकर सोने से क्या हो सकता है?

क्या आप भी अपनी तकिया के नीचे मोबाइल रख कर सोते हैं? अगर हां तो जानिए कि इसे क्यों नहीं रखना चाहिए और ये क्या-क्या कर सकता है। 
author-profile
Published -21 Sep 2022, 17:18 ISTUpdated -21 Sep 2022, 17:19 IST
Next
Article
Why you should not sleep with phone

सुबह उठने के बाद आप सबसे पहले क्या करते हैं? रात को बिस्तर पर लेटकर आंख बंद करने से पहले आप क्या करते हैं? नहीं-नहीं मैं वल्गर नहीं हो रही हूं बल्कि मैं तो वो काम पूछ रही हूं कि आप करते क्या हैं? चलिए मैं बताती हूं। आप सुबह उठने के बाद सबसे पहले मोबाइल देखते हैं और रात में बिस्तर पर लेटकर आंख बंद करने से पहले भी आप यही करते हैं। यकीनन ये बहुत ही अजीब बात है कि हम मोबाइल को इतने करीब रखते हैं कि उसे हर वक्त देखते हैं। 

अधिकतर लोगों की ये आदत होती है कि वो अपने फोन को तकिए के नीचे रख देते हैं और फिर चैन की नींद लेते हैं। रात में एक बार भी फोन बजा तो हम झट से उसे देख लेते हैं। पर क्या आप जानते हैं कि ये कितना नुकसानदेह साबित हो सकता है?

इस बारे में कई रिसर्च की गई हैं जो कहती हैं कि मोबाइल तकिए के नीचे रखकर सोना ना सिर्फ खतरनाक होता है बल्कि इससे आपकी नींद में भी खलल पड़ता है। World Health Organization ने भी 2011 में इसके बारे में एक लेख में बताया था कि ये गलत है। तो चलिए आज इसके बारे में ही बात करते हैं कि ऐसा क्यों है। 

इसे जरूर पढ़ें- जानिए क्यों, सोने के 1 घंटे पहले बंद कर देना चाहिए फोन का इस्तेमाल...

तकिए के नीचे फोन रखकर सोने से जुड़े मिथक

इससे पहले कि हम इसके नुकसान के बारे में बताएं सबसे पहले आपको इससे जुड़े मिथकों की जानकारी दे देते हैं। 

फोन को तकिए के नीचे रखने से होते हैं ब्रेन सेल्स डैमेज

ये पूरी तरह से गलत है। फोन को तकिए के नीचे रखने से ब्रेन सेल्स डैमेज नहीं होते हैं और इससे जुड़े कोई भी साइंटिफिक प्रूफ नहीं हैं। किसी रिसर्च में भी ये नहीं कहा गया है कि ये ब्रेन सेल्स को ही डैमेज कर देगा। इस मिथक पर भरोसा ना करें। 

phone not to be kept under pillow

ये बालों को नुकसान पहुंचाता है

जी हां, ये मिथक भी इंटरनेट पर आप पढ़ सकते हैं कि अगर आप फोन तकिए के नीचे रखकर सोएंगे तो इससे बालों को नुकसान होगा। इसका भी कोई साइंटिफिक प्रूफ नहीं है कि फोन आपके बालों को नुकसान पहुंचाता है। (क्यों खराब होते हैं बाल

क्यों तकिए के नीचे नहीं रखना चाहिए फोन?

फोन को तकिए के नीचे रखकर सोने से बहुत सारे नुकसान हो सकते हैं। इसे लेकर वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन ने भी कई शोध किए हैं। साइंस के हिसाब से इन कारणों से आपको अपने फोन को तकिए के नीचे नहीं रखना चाहिए। 

बच्चों के लिए ज्यादा नुकसानदेह है मोबाइल तकिए के नीचे रखना

2011 में वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन ने अपने शोध में लिखा था कि मोबाइल तकिए के नीचे रखकर सोने से रेडियो फ्रीक्वेंसी हमेशा आपके पास रहती है जो नींद में भी खलल पैदा कर सकती है और इसका खतरनाक रेडिएशन भी दिक्कत पैदा कर सकता है। ऐसे में एडल्ट्स की तुलना में बच्चों के स्कैल्प और स्कल ज्यादा पतले होते हैं और उन्हें रेडिएशन से ज्यादा नुकसान पहुंचता है। (नींद में खलल पड़ने के कारण)

नींद होती है डिस्टर्ब

वैसे तो इसकी जानकारी कई हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन देते हैं, लेकिन इसे तो शायद आपने पर्सनली भी देखा होगा। यकीनन फोन की एक रिंग से ही नींद डिस्टर्ब हो जाती है। पर साइंस कहती है कि ये सिर्फ एक ही दिन की नींद की बात नहीं है बल्कि ये तो आपका स्लीप पैटर्न ही डिस्टर्ब कर सकता है। दरअसल, इसकी रेडियो फ्रीक्वेंसी स्लीप पैटर्न को कुछ इस तरह चेंज कर सकती है कि आपको नींद आने पर भी थका-थका महसूस हो सकता है। 

फोन में लग सकती है आग

जी हां, इसे तकिए के नीचे रखकर सोने का सबसे बड़ा नुकसान ही यही है कि फोन गर्म होता है और तकिए के नीचे रखने के बाद इसमें आग लगने का खतरा बना रहता है। कई लोग तो इसे पास में चार्जिंग पर लगाकर सो जाते हैं और इसके बाद बैटरी में आग लगने का खतरा बढ़ जाता है। तकिए के नीचे रखा फोन और भी ज्यादा गर्म होने लगता है और ऐसे कई केस हो चुके हैं जहां इनमें बहुत आसानी से आग लग जाती है। (फोन चार्ज करते समय होने वाली गलतियां)

phone under pillow fire

इसे जरूर पढ़ें- फोन को क्यों नहीं करना चाहिए 100 परसेंट चार्ज? जानें  

ब्लू लाइट से होता है नुकसान 

जब हम फोन तकिए के नीचे रखकर सोते हैं तो अधिकतर इसकी ब्लू लाइट से परेशान होते हैं। दरअसल, जब भी ये वाइब्रेट होता है या फिर इसकी टोन बजती है तो हम इसे देख ही लेते हैं और ऐसे में बार-बार अंधेरे में फोन की ब्लू लाइट देखने की वजह से हमारी आंखों को नुकसान होता है।  

अब शायद आपको समझ में आ ही गया होगा कि फोन को तकिया के नीचे रखकर क्यों नहीं सोना चाहिए। अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी है तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से। 

बेहतर अनुभव करने के लिए HerZindagi मोबाइल ऐप डाउनलोड करें

Her Zindagi
Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।