आशा पारेख 60 के दशक की मशहूर हिरोइन हैं। जिन्होंने अपनी मासूमियत और एक्टिंग के दम पर बॉलीवुड इंडस्ट्री में एक अलग पहचान बनाई। उन्होंने अनेक जाने-माने मशहूर बॉलीवुड एक्टर, धर्मेद्र, जीतेन्द्र और राजेंद्र कुमार के साथ अनेक हिट फ़िल्में दीं। आशा की फिल्मों के गाने सालों तक लोगों के घर में बजते रहे। सभी जानते हैं कि आशा को उनका प्यार न मिलने की वजह से वो ताउम्र कुंवारी रहीं। लेकिन उनके जीवन से जुड़े अनेक ऐसे फैक्ट्स हैं जिनके बारे में शायद आपको मालूम नहीं होगा। आइए जानते हैं उनके जीवन से जुड़े फैक्ट्स के बारे में-

हो गयी थी रिजेक्ट 

facts about asha parekh life INSIDE

आशा पारेख को राजेंद्र कुमार की बिग हिट मूवी 'गूंज उठी शहनाई' के लिए कास्ट किया गया था। लेकिन 2 दिन की शूटिंग के बाद आशा को रिजेक्ट कर दिया गया। उनमें स्टार मटेरियल की कमी है ये कहते हुए उनकी जगह हिरोइन अमिता को यह रोल निभाने को मिला। यह मूवी बाद में एक हिट फिल्म साबित हुई।  

इसे भी पढ़ें: वेटरन एक्ट्रेस आशा पारेख ने "द हिट गर्ल" Book लॉन्च में जिक्र किया क्यों रही सिंगल

Recommended Video


इस मूवी में मिला लीड रोल 

आशा ने सबसे पहले लीड हिरोइन के रूप में नासिर हुसैन की मूवी' दिल देके देखो' में काम किया। जिसमें उनके अपोजिट शम्मी कपूर ने मेन हीरो का रोल प्ले किया। इस फिल्म के लिए फेमस हिरोइन साधना को भी कंसीडर किया जा रहा था। लेकिन बाद में आशा को ही इस मूवी के लिए साइन किया गया। यह मूवी आशा के 17वें जन्मदिन पर रिलीज हुई थी।   

इस हीरो ने छोड़ दी थी शराब 

facts about asha parekh life INSIDE

हिट फिल्म 'आये दिन बहार के' की शूटिंग के दौरान जब आशा ने धर्मेंद्र के मुंह से आने वाली शराब की बदबू की शिकायत की। तो धर्मेंद्र ने उनकी शिकायत के बाद प्याज खाकर सेट पर आना शुरू कर दिया। लेकिन अभी भी आशा की शिकायत यूं ही बनी रही। जिसको ध्यान में रखते हुए धर्मेंद्र ने शराब पीनी बिल्कुल बंद कर दी और दोनों  अच्छे दोस्त बन गए।

पहली महिला चेयर पर्सन 

आशा पारेख पहली भारतीय हिरोइन थीं जिनको 1998 में Central Board of Film Certification का चेयर पर्सन बनाया गया। उन्होंने इस पोस्ट के लिए 2001 तक 4 साल काम किया। आशा एक मंझी हुई अदाकारा थी। उन्होंने अनेक हीरो के साथ मूवी की लेकिन कभी भी दिलीप कुमार के अपोजिट काम नहीं किया।  

इसे भी पढ़ें: 70s में भी दिखना चाहती हैं स्टाइलिश तो बॉलीवुड की एवरग्रीन ब्यूटी आशा पारिख से लें फैशन टिप्स

ठुकरा दिया था ऑफर 

facts about asha parekh life INSIDE

'आराधना' फिल्म में वंदना की भूमिका निभाने के लिए पहले आशा को इस रोल के लिए चुना गया था। लेकिन आशा एक ओल्ड लेडी का रोल प्ले नहीं करना चाहती थीं। जिसके बाद शर्मिला टैगोर ने इस रोल को निभाया और अपनी बेहतरीन अदाकारी के लिए फिल्मफेयर अवॉर्ड भी जीता।  

उम्मीद है आपको आशा जी से जुड़े ये फैक्ट्स पढ़कर मज़ा आया होगा। हम फिर से हाज़िर होंगे किसी अन्य कलाकार के जीवनके अनसुने किस्से लेकर। तब तक नारी के जीवन से जुड़े पहलुओं के लिए पढ़ते रहिए HerZindagi.Com    

Image Credit:(@mathrubhumi)