हिन्दू धर्म में अमावस्या तिथि का विशेष महत्त्व है। इस दिन पूरे श्रद्धा भाव से ईश्वर का ध्यान करने के साथ पितरों को भी याद करके उनके सम्मान में तर्पण करना और दान -पुण्य करना लाभकारी माना जाता है। खासतौर पर सोमवार के दिन पड़ने वाली अमावस्या को जिसे सोमवती अमावस्या भी कहा जाता है, उसका विशेष महत्त्व है और इस दिन जहां एक तरफ दान और पवित्र नदी में स्नान करके पुण्य फलों को प्राप्ति होती है वहीं कुछ ऐसे काम हैं जिन्हें करना पूरी तरह से वर्जित होता है।

नई दिल्ली के जाने माने पंडित, एस्ट्रोलॉजी, कर्मकांड,पितृदोष और वास्तु विशेषज्ञ प्रशांत मिश्रा जी बता रहे हैं कि घर की सुख समृद्धि बनाए रखने के लिए और घर को धान्य से पूर्ण करने के लिए यहां बताए कामों से पूरी तरह बचना चाहिए। 

तामसिक भोजन न करें 

tamsik bhojan

सोमवती अमावस्या तिथि के दिन तामसिक भोजन भूल कर भी न करें। इस दिन मांस मदिरा के साथ लहसुन प्याज के सेवन से भी बचना चाहिए। कहा जाता है कि इस दिन तामसिक भोजन करने से ईश्वर के साथ पितरों का भी अपमान होता है। इस दिन मदिरा का सेवन भूलकर भी न करें ऐसा करना घर में होने वाली धन हानि का कारण बन सकता है। 

इसे जरूर पढ़ें:Expert Tips: घर की सुख समृद्धि के लिए बुधवार को ऐसे करें गणपति पूजन

लड़ाई झगड़ा न करें  

avoid fighting

सोमवती अमावस्या के दिन किसी भी तरह के लड़ाई झगड़े से बचना चाहिए खास तौर पर घर की सुख समृद्धि बनाए रखने के लिए पति पत्नी को आपस में लड़ाई नहीं करनी चाहिए। मान्यता है कि इस दिन लड़ाई झगड़ा करने से घर में आर्थिक स्थिति खराब होने के साथ सुख शांति का भी नाश होता है।

बाल और नाखून ना काटें 

amavasya hair cut

मान्यता अनुसार सोमवती अमावस्या के दिन बाल और नाखून नहीं काटने चाहिए।  ऐसा करने से धन हानि होती है यहां तक कि इस दिन बच्चों के नाखून काटने से भी बचना चाहिए चाहिए।

Recommended Video

कपड़े ना धोएं

सोमवती अमावस्या के दिन भूलकर भी कपड़े नहीं धोने चाहिए कपड़े धोने से घर की आर्थिक स्थिति खराब होती है। खासतोर पर कपड़े धोते समय साबुन का इस्तेमाल  नहीं करना चाहिए। 

सरसों के तेल का इस्तेमाल ना करें

avoid mustard oil

शास्त्रों में बताई मान्यता के अनुसार सोमवती अमावस्या के दिन सरसों का तेल किसी भी रूप में इस्तेमाल करना पूरी तरह से वर्जित होता है।  इस दिन सरसों के तेल से शरीर की मालिश करने या फिर खाने में सरसों का तेल इस्तेमाल करने से धन हानि होती है।

बुजुर्गों का अपमान ना करें

old age ppl

वैसे तो किसी भी दिन बुजुर्गों का अपमान करना आपकी सुख समृद्धि की हानि का कारण हो सकता है। लेकिन सोमवती अमावस्या के दिन भूलकर भी बुजुर्गों का अपमान नहीं करना चाहिए ऐसा करने से घर की सुख शांति नष्ट होती है और घर में कलह क्लेश भी बढ़ता है।

इसे जरूर पढ़ें:Santoshi Mata Vrat: शुक्रवार को रखें संतोषी माता का व्रत, घर में आएगी सुख-समृद्धि

देर तक ना सोएं 

late sleeping amavasya

सोमवती अमावस्या के दिन प्रातः जल्दी उठकर ईश्वर का ध्यान करना चाहिए साथ ही मित्रों को भी याद करना चाहिए। इस दिन भूलकर भी देर तक ना सोएं ऐसा करने से शरीर में रोग रोग आते हैं और आर्थिक स्थिति खराब होती है।

सोमवती अमावस्या के दिन क्या करें 

deep=dan

  • इस दिन प्रातः जल्दी उठकर पवित्र नदी या गंगा जल से स्नान करें। 
  • पितरों को तर्पण करें और उनके नाम का दीपक प्रज्ज्वलित करें। '
  • काली गाय को रोटी खिलाएं जिससे घर में सुख समृद्धि का वास होता है। 
  • दीप दान करना और पवित्र नदी में दीपक प्रज्ज्वलित करें। 
  • गरीबों को अपनी सामर्थ्य अनुसार दान दें अवश्य कल्याण होगा। 

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit: freepik