सुष्मिता सेन के बारे में आज कौन नहीं जानता। वो एक ऐसी शख्सियत हैं जिसने अपने टैलेंट के बल पर दुनिया जीत ली। पहले मिस इंडिया और बाद में मिस यूनिवर्स बनकर उन्होंने ये साबित कर दिया कि सही मायनों में वो हैं ब्यूटी विद ब्रेन। ये तो जगजाहिर है कि सुष्मिता सेन और ऐश्वर्या राय के बीच मिस इंडिया 1994 के कॉम्पटीशन में टाई हुआ था और इंडियन टेक्सटाइल हेरिटेज के जवाब में सुष्मिता ने खादी के महत्व को समझाया था। लेकिन क्या आप जानते हैं कि मिस यूनिवर्स के कॉम्पटीशन के समय सुष्मिता सेन के साथ काफी कुछ हुआ था जो नहीं होना था। और इस कॉम्पटीशन में मिस फिलीपीन्स ने उनकी मदद की थी।

सबसे पहले खोया पासपोर्ट-

सुष्मिता सेन ने अपने एक इंटरव्यू में बताया था कि कैसे उनका पासपोर्ट कॉम्पटीशन से ऐन पहले खो गया था। उनका पासपोर्ट मॉडल और मिस इंडिया ऑर्गेनाइजर में से एक अनुपमा चोपड़ा के पास था। जिस वक्त उन्हें फिलिपीन्स के लिए निकलना था उस वक्त उनका पासपोर्ट कहीं भी नहीं मिल रहा था। उनसे ये तक कहा गया कि वो मिस वर्ल्ड कॉम्पटीशन के लिए जाएं (जो नवंबर में था) क्योंकि उसमें समय है और मिस यूनिवर्स के लिए ऐश्वर्या को भेज दिया जाए। तब तक उनके पासपोर्ट की समस्या हल हो जाएगी।

crowning earrings of siushmita sen

इसे जरूर पढ़ें- सुष्मिता सेन ने शेयर किए Day और Night के मेकअप टिप्स, वीडियो में दिखाया कैसे करनी है शुरुआत

पर ऐसा नहीं हुआ। सुष्मिता को इस बात पर बहुत गुस्सा आया और उन्होंने अपने पिता से रोते हुए कहा था कि वो सिर्फ मिस यूनिवर्स के लिए ही जाना चाहती हैं क्योंकि इसपर उनका हक है। इसके बाद उनके पिता ने तत्कालीन यूनियन मिनिस्टर राजेश पायलट से गुजारिश की और सुष्मिता की मदद की। उनके पिता ने किस तरह ये काम किया था ये उन्हें नहीं पता। आगे तो हम सब ही जानते हैं कि आखिर मिस यूनिवर्स कॉम्पटीशन किसने जीता।

Recommended Video

मिस यूनिवर्स फिनाले से पहले सुष्मिता के साथ हुई ये ट्रैजडी-

सुष्मिता सेन के साथ मिस यूनिवर्स के फिनाले से पहले एक ट्रैजडी हुई थी। दरअसल, फिनाले से पहले उनके इयररिंग्स खो गए थे। उस समय सुष्मिता सेन डिनर टेबल पर लगभग रोते हुए बैठी हुई थीं। उस वक्त मिस फिलिपीन्स शार्लीन गोंज़ाल्स उनके पास आईं और खुद के बारे में बताया। उन्होंने पूछा कि क्या दिक्कत है और सुष्मिता के सामने अपने सारे इयररिंग्स रखकर बोलीं कि जो भी आपको चाहिए वो ले लीजिए। सुष्मिता ने पूछा कि वो (शार्लीन) कौन सा पहनने वाली हैं वो (सुष्मिता) उसे नहीं चुनेंगी, लेकिन शार्लीन ने कहा कि, ये मेरा देश है मैं तो कुछ भी अरेंज कर सकती हूं। आप चुन लो।

 
 
 
View this post on Instagram

A post shared by Vagabomb (@vagagram) onMay 24, 2020 at 8:39am PDT



इवेंट के बाद सुष्मिता ने जब शार्लीन को वो इयररिंग्स वापस देने चाहे तो शार्लीन ने ये कहकर मना कर दिया कि इन्हें पहन कर सुष्मिता कॉम्पटीशन जीती हैं ये तो उनके पास ही रहने चाहिए। फिलिपीन्स की तरफ से ये गिफ्ट है सुष्मिता के लिए। शार्लीन की ये बात सुष्मिता को अब तक याद है।



इसे जरूर पढ़ें- 26 साल पहले देश की पहली 'मिस यूनिवर्स' बनी थीं सुष्मिता सेन, देखें पुरानी तस्‍वीरें और वीडियो

यकीनन सुष्मिता सेन के साथ जो हुआ वो किसी के साथ भी हो सकता था, लेकिन जिस तरह से शार्लीन ने उनकी मदद की वो तारीफ के काबिल था। सुष्मिता सेन का मिस यूनिवर्स कॉम्पटीशन जीतना कई लोगों के लिए एक मिसाल था। वो लड़की जिसने सरोजनी के कपड़े से सिला हुआ गाउन मिस इंडिया के लिए पहना था। वो लड़की जिसने हर मुश्किल का सामना किया और अपनी काबिलियत से मिस यूनिवर्स बन गई, जो अभी भी कई लोगों के लिए प्रेरणा है वो लड़की हमारे दिलों में हमेशा जगह बनाए रखेगी।

अगर आपको ये स्टोरी पसंद आई हो तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हर जिंदगी से।

All Photo Credit: Sushmita sen Fanpage/ Rediff