10 जून 2021 का दिन हिन्दू धर्म को मानने वालों के लिए विशेष है। खासतौर पर जो लोग शनि देव के भक्‍त हैं, उनके लिए यह बेहद महत्वपूर्ण दिन है क्‍योंकि इस दिन सूर्य ग्रहण और शनि अमावस्‍या एक साथ पड़ रहे हैं। शनि अमावस्‍या को शनि जयंती के नाम से भी जाना जाता है। इस दिन भगवान शनि देव का अवतरण हुआ था। धार्मिक मान्‍यताओं के अनुसार ज्‍येष्‍ठ माह की अमावस्‍या को हर वर्ष शनि जयंती मनाई जाती है। इस वर्ष इसी तिथि पर सूर्य ग्रहण भी पड़ रहा है। 

भोपाल के पंडित एवं ज्‍योतिषाचार्य विनोद सोनी पोद्दार कहते हैं, 'साल का पहला सूर्य ग्रहण भारत में आंशिक रूप से दिखाई देगा। एक तरह से देखा जाए तो भारत में यह सूर्य ग्रहण नजर ही नहीं आएगा। इसलिए धार्मिक तौर पर इसका कोई महत्‍व ही नहीं है।मगर इस दिन शनि अमावस्‍या भी है, जो महत्‍वपूर्ण भी है और राशियों पर इसका प्रभाव भी पड़ेगा।'

shani amavasya remedies

सूर्य ग्रहण का समय 

भारतीय समयानुसार यह ग्रहण 1 बजकर 42 मिनट से शुरू होगा और शाम 6 बजकर 41 मिनट पर समाप्‍त होगा। 5 घंटे के इस सूर्य ग्रहण को उत्‍तर-पूर्व अमेरिका, यूरोप, एशिया, अटलांटिक महासागर के उत्‍तरी भाग में आंशिक रूप से देखा जाएगा। ग्रीनलैंड, उत्‍तरी कनाडा और रूस में यह पूर्ण रूप में नजर आएगा। पंडित जी कहते हैं, 'भारत में यह ग्रहण नजर नहीं आ रहा है, इसलिए इस ग्रहण से पहले सूतक नहीं लगेगा। भगवान की पूजा भी की जा सकती हैं। मगर इस दिन शनि अमावस्‍या भी है, जिसका असर राशियों पर पड़ेगा।'

इसे जरूर पढ़ें: Astro Tips: शनिवार को न करें ये 5 काम, जीवन में बनी रहेगी सुख-शांति

shani dev jayanti

शनि अमावस्‍या का राशियों पर असर- 

मेष- आर्थिक हानि और वाद-विवाद हो सकता है, इसलिए अपनी वाणी पर नियंत्रण रखें। 

वृष- अपने स्‍वास्‍थ्‍य का ध्‍यान रखें, साथ ही अपने करियर और कार्यक्षेत्र में सावधानी बरतें। 

मिथुन- व्‍यर्थ में पैसे न खर्च करें। आर्थिक तंगी महसूस हो सकती है। राशि पर शनि की ढैय्या है। शनिदेव की पूजा करें। 

कर्क- आपको अपने विरोधियों से सतर्क रहने की जरूरत है। किसी भी वाद-विवाद में न पड़ें। 

सिंह- आपके लिए यह शनि अमावस्‍या शुभ है। आर्थिक लाभ हो सकता है। नकारात्‍मक विचार मन में न लाएं। 

कन्‍या- किसी को भी धन उधार देने से बचें और अपने स्‍वास्‍थ्‍य का ध्‍यान रखें। 

तुला- किसी भी कार्य को सोच-समझ कर करें। मानसिक तनाव से दूर रहें और किसी गरीब की सहायता करें। राशि पर शनि की ढैय्या है। शनिदेव की पूजा करें। 

वृश्चिक- अपने मन पर काबू रखने का समय है। सेहत पर ध्‍यान दें और नकारात्‍मक विचारों को मन से दूर करें। 

धनु- करियर में सफलता मिल सकती है। व्‍यर्थ का धन खर्च न करें। आपको आर्थिक लाभ हो सकता है। राशि पर शनि की साढ़ेसाती है। शनि देव को प्रसन्‍न रखने के लिए उनकी पूजा करें। 

मकर- किसी पर भी अत्‍यधिक भरोसा न करें। अपनी सेहता का ध्‍यान रखें। राशि पर शनि की साढ़ेसाती है। शनि देव को तेल का दीपक जलाएं। 

कुंभ- अपने क्रोध पर नियंत्रण रखें नहीं तो विरोधियों का सामना करना मुश्किल हो सकता है। कार्यक्षेत्र में सतर्क रहें। राशि पर शनि की साढ़ेसाती है। शनिदे व की पूजा करें। 

मीन- आत्‍मविश्‍वास में वृद्धि होगी। जीवनसाथी का सहयोग प्राप्‍त होगा। 

 solar eclipse

शनि अमावस्‍या पर शनि देव की पूजा का शुभ मुहूर्त 

पूजा का शुभ मुहूर्त  09 जून 2021 दोपहर 01 बजकर 57 मिनट से आरंभ हो कर 10 जून 2021 शाम 04 बजकर 22 मिनट तक रहेगा। 

Recommended Video

शनि देव को प्रसन्‍न करने के उपाय- 

  • शनि अमावस्‍या के दिन शनि देव की प्रिय चीजों का दान करें। जैसे- काला कंबल, सरसों का तेल, काली उड़द की दाल, काला कपड़ा, काला छाता आदि। 
  • शनि देव के 10 नामों कृष्ण, रौद्रान्तक, कोणस्थ, पिंगल, यम, सौरि, पिप्पलाद, शनैश्चर और मंद आदि को पुकारें। 
  • शनि देव को काले चने का भोग चढ़ाएं। 
  • काले तिल के तेल का दीपक जलाएं और शनि दोष से मुक्ति पाने के लिए प्रार्थना करें। 
  • बंदर, कुत्‍ता, मछलियों को काला चना खिलाएं। 

यह जानकारी आपको अच्‍छी लगी हो तो इसे शेयर और लाइक जरूर करें साथ ही इसी तरह और भी आर्टिकल पढ़ने के लिए जुड़ी रहें हरजिंदगी से। 

 Image Credit: Freepik