• ENG
  • Login
  • Search
  • Close
    चाहिए कुछ ख़ास?
    Search

Sarva Pitru Amavasya 2022: पितृपक्ष की अमावस्या पर इस 1 चीज के बिना अधूरा है आपका दान

इस लेख में हम आपको बताएंगे कि पितृपक्ष की अमावस्या पर ऐसी कौन सी 1 चीज होती है जिसके बिना पिंडदान अधूरा माना जाता है।  
author-profile
Published -22 Sep 2022, 16:14 ISTUpdated -22 Sep 2022, 16:33 IST
Next
Article
why to donate sesame seeds in pitru paksha amavasya

हिंदू धर्म में पितृपक्ष का बहुत ज्यादा महत्व होता है। हर साल पितृपक्ष भाद्रपद मास के शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा तिथि की शुरुआत में पितृपक्ष शुरू होता है और अश्विन मास की अमावस्या को समाप्त होता है। पितृपक्ष में पूजा पूरे विधि-विधान के साथ करी जाती है। ऐसा माना जाता है कि हमारे पूर्वज पितृपक्ष के दिनों में पृथ्वी पर आते हैं।

हिन्दू धर्म के अनुसार पितृपक्ष में पितरों की संतुष्टि के लिए कई तरह से दान किया जाता है और ऐसा करने से उनका आशीर्वाद मिलता है और साथ ही घर से पितृ दोष भी दूर होता है लेकिन आपको यह बता दें कि एक चीज ऐसी भी है जिसके बिना पितृपक्ष की अमावस्या पर किया गया दान अधूरा माना जाता है।

आइए जानते हैं कि ज्योतिर्विद पं रमेश भोजराज द्विवेदी जी के अनुसार पितृपक्ष की सर्व अमावस्या पर किस एक चीज के बिना अधूरा माना जाता है पितृपक्ष की अमावस्या पर किया गया दान। 

किन चीजों का किया जाता है दान?

what to donate in pinddaan

कई सारी चीजों का दान पितृपक्ष की अमावस्या में करना फलदायी माना जाता है। जैसे वस्त्रों का दान करने से राहु और केतु का दोष कम होता है इसलिए ब्राह्मण को दान देने के लिए वस्त्र खरीदे जाते हैं।

आपको बता दें कि कई तरह के वस्त्र ब्राह्मणों को दिए जाते हैं जैसे कुर्ता, धोती और गमछा भी दिया जाता है। ऐसा माना जाता है कि हमारे पूर्वज ब्राह्मणों के रूप में वस्त्रों की कामना करते हैं इसलिए वस्त्रों का दान करने का बहुत महत्व होता है। 

आपको बता दें कि लोग गुड़ या फिर घी का भी दान करते हैं। हिन्दू धर्म की मान्यताओं के अनुसार पितृपक्ष में अगर घी या फिर गुड़ का दान करा जाता है तो उससे पितरों का आशीर्वाद मिलता है।

इसके साथ ही परिवार में सुख-शांति बनी रहती है। कई लोग अन्न का भी दान करते है। अगर बात करें नमक का दान करने की तो उसका भी बहुत अधिक महत्व होता है क्योंकि इससे नकारात्मक ऊर्जा कम होती है। 

आपको बता दें कि कई लोग जरूरतमंद लोगों को जूते या फिर चप्पलों का दान भी करते हैं। ऐसी मान्यता है कि इससे परिवार में खुशहाली बनी रहती है। इसके अलावा सबसे महत्वपूर्ण दान जो हिन्दू धर्म की मान्यताओं के अनुसार माना जाता है वह होता है काले तिल का दान इससे भी कई सारे लाभ प्राप्त होते हैं।

आपको बता दें कि कुछ लोग सोने या चांदी का भी दान करते हैं क्योंकि इस दान को करने से मानसिक तनाव भी कम हो जाता है।

भूमि दान भी पितृपक्ष की अमावस्या पर किया जाता है जिसे बहुत फलदायी माना जाता है। 

इसे जरूर पढ़ें: Shradh 2022: पितृपक्ष के दौरान पूर्वजों की तस्वीर का टूटना देता है ये संके

क्यों सबसे महत्वपूर्ण होता है काले तिल का दान?

आपको बता दें कि पितृ पक्ष में अमावस्या पर काले तिल का दान करना बहुत जरूरी माना जाता है। हिन्दू धर्म की मान्यताओं के अनुसार काले तिल का दान करने से पितरों की आत्मा तृप्त होती है। ज्योतिर्विद पं रमेश भोजराज द्विवेदी जी के अनुसार पितृपक्ष की सर्व अमावस्या पर इस 1 चीज के बिना किया गया दान अधूरा माना जाता है। काला तिल दान करने से कई बाधाओं से मुक्ति मिलती है।

आपको बता दें कि काले तिल के दान से ग्रह और नक्षत्र की शुभता भी बढ़ती है। इसके साथ ही व्यक्ति के जीवन में आने वाले संकट दूर हो जाते हैं।

अगर कोई व्यक्ति हर पितृपक्ष की सर्व अमावस्या पर इसका दान करता है तो उसे और उसके परिवार वालों को पितरों का आशीर्वाद प्राप्त होता है। इसके साथ ही काले तिल का दान करने से उस व्यक्ति को कई सारे लाभ भी मिलते हैं। 

इसे जरूर पढ़ें: Pitru Paksha 2022 : आपके घर में हो रही हैं ऐसी घटनाएं तो समझें मृत पूर्वज हैं नाराज

यदि आप इस सभी चीजों का दान करते हैं इससे आपके और आपके परिवार पर पितरों का आशीष बना रहता है। 

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकीअपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।  

 

Image Credit- herzindagi

बेहतर अनुभव करने के लिए HerZindagi मोबाइल ऐप डाउनलोड करें

Her Zindagi
Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।