Close
चाहिए कुछ ख़ास?
Search

    इस जनजाति के लोग परिवार में ही बनाते हैं फिजिकल रिलेशन, भाई बहन की करवा दी जाती है शादी

    इंडोनेशिया की एक जनजाति में इनब्रीडिंग ट्रेडिशन की इजाजत है। जानिए इस जनजाति के बारे में। 
    author-profile
    Updated at - 2022-10-23,08:00 IST
    Next
    Article
    How polahi tribe is famous

    दुनियाभर में कई ट्राइब्स मौजूद हैं और हर जनजाति के अपने अलग नियम और कायदे-कानून होते हैं। दुनिया के हर देश में इस तरह की जनजातियां मिल जाएंगी और कुछ जनजातियों की मान्यताएं तो इतनी अजीब हैं कि आपको शायद उनके बारे में जानकर हैरानी होगी। ऐसी ही एक जनजाति है इंडोनेशिया की पोलाही ट्राइब जहां इनब्रीडिंग या इनसेस्ट का कल्चर है। इनब्रीडिंग का मतलब होता है कि एक ही परिवार के लोग आपस में संबंध भी स्थापित करें और संतान भी पैदा करें। 

    पोलाही जनजाति पर कई तरह की रिसर्च हुई हैं और इन्हें लेकर बाकायदा स्टडीज पब्लिश हुई हैं। इनकी इनब्रीडिंग को स्टडी करने के लिए दुनिया भर के वैज्ञानिक सामने आते हैं। ऐसी ही इंटरनेशनल जर्नल ऑफ मल्टीकल्चरल एंड मल्टी रिलीजियस अंडरस्टैंडिंग की एक स्टडी 'Polahi Tribe inbreeding Culture in Gorontalo' में इस जनजाति के बारे में काफी डिटेल्स दी गई हैं। 

    मां-बेटे, पिता-बेटी, भाई-बहन के बीच बनते हैं संबंध

    यह जनजाति अपने कबीले के रिवाजों को लेकर बहुत ही रूढ़ीवादी है। इंडोनेशिया के गोरोन्तालो प्रांत (Gorontalo Province) के पहाड़ों और जंगलों में ये जनजाति रहती है। यहां के लोग सदियों से यही प्रथा निभाते आ रहे हैं। 

    polahi tribe of indonesia

    मां-बेटे, पिता-बेटी, भाई-बहन जैसे सगे रिश्तों के साथ मामा, मौसा, बुआ जैसे परिवारों के साथ भी इनसेस्ट होता है। इस जनजाति के लोगों को लेकर बहुत ज्यादा रिसर्च की गई है। 

    इसे जरूर पढ़ें- जानें भारत के अलग-अलग जनजातियों में लिव-इन रिलेशनशिप की अजीबो-गरीब परंपरा

    यहां रिसर्च के आधार पर कुछ बातें सामने आई हैं जैसे-

    • पोलाही ट्राइब डच कोलोनियल एरा में भगौड़ी जनजाति मानी जाती थी। (जानें राजस्थान की गरासिया जनजाति के बारे में)
    • पोलाही प्रजाति के बीच अब इनब्रीडिंग एक टैबू नहीं है और इस कारण भाई-बहन या मां-बेटे के बीच घर में ही अगर प्यार हो जाता है तो वो लोग साथ रह सकते हैं। 
    • पोलाही जनजाति के बीच एक रिवाज है जिसमें उस कबीले का मुखिया नए जोड़े को नदी में पवित्र स्नान करवाता है और मंत्रों के उच्चारण के बीच इनकी शादी होती है। 
    • पोलाही में अगर परिवार के दो सदस्य एक दूसरे से प्यार करते हैं तो उन्हें परिवार या गांव के मुखिया से इजाजत लेनी होती है। 
    • कई रिसर्च ये बताती हैं कि पोलाही जनजाति में लोगों में ज्यादा हेल्थ इशूज नहीं हैं जो आमतौर पर इनसेस्ट में देखी जाती है, लेकिन इनमें अक्ल की कमी देखी गई है। 

    इसे जरूर पढ़ें- इस जनजाति की महिलाएं जीवन में नहाती हैं सिर्फ एक बार, जानें उनकी फ्रेशनेस का राज  

    आखिर क्यों इनब्रीडिंग को दुनिया भर में किया जाता है बैन? 

    कई देश ऐसे हैं जिनमें इनब्रीडिंग को बैन किया गया है। हालांकि, कई मुस्लिम देशों में सेकंड कजन्स में शादी देखी जाती है, लेकिन फिर भी अधिकतर सगे रिश्तों में इसे बैन किया गया है। इसका कारण ये है कि इस तरह के रिश्तों से कई तरह के मानसिक विकार जैसे एंग्जाइटी, मंद बुद्धी, साइकोलॉजिकल समस्याएं आदि होती हैं और साथ ही साथ शारीरिक समस्याएं जैसे जन्म से ही शरीर में किसी चीज़ की कमी, ऑटिज्म आदि हो सकते हैं।  

    indonesia polahi tribe

    दुनिया भर की रिसर्च में इसी तरह की बातें सामने आई हैं कि इनब्रीडिंग को लेकर बहुत ज्यादा परेशानी होती है। कई देशों में तो बाकायदा इसे लेकर सख्त कानून बनाए गए हैं जिनमें इस तरह की शादियों को गैर-कानूनी माना जाता है। खुद इंडोनेशिया में भी इस तरह का कानून है, लेकिन पोलाही जनजाति के लोगों के रिवाज अपने-आप में अलग हैं। ये अब रिवाज से ज्यादा नॉर्मल प्रथा बन गया है जहां लोगों को आपस में प्यार भी होने लगा है।  

    इस प्रजाति के लोग सामान्य जीवन जीते हैं और बाहरी दुनिया के पास होने के बाद भी अलग और कटे-कटे रहते हैं। इन्हें जंगल का गार्डियन यानी रक्षक भी माना जाता है। इस प्रजाति के लोगों के जीवन के आधार पर कई लेख आपको इंटरनेट पर मिल जाएंगे।  

    अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी है तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।  

    Image Credit: Shutterstock/ Katomed

     

    बेहतर अनुभव करने के लिए HerZindagi मोबाइल ऐप डाउनलोड करें

    Her Zindagi
    Disclaimer

    आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है, लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए, compliant_gro@jagrannewmedia.com पर हमसे संपर्क करें।