दोस्तों का स्थान हर व्यक्ति की जिंदगी में बहुत अलग और खास होता है। आपका पति चाहे कितना भी केयरिंग और फ्रेंक क्यों न हो, लेकिन दोस्तों की जगह कोई नहीं ले सकता है।  यह तो थी दोस्ती की बात, लेकिन अगर आप शादीशुदा हैं तो आपको यह भी पता होना चाहिए अब आप बेचलर नहीं रही हैं और आप पर आपके पति और ससुराल के अन्य लोगों की भी जिम्मेदारियां हैं। दोस्तों के साथ हैंगआउट करना और घूमना-फिरना अच्छी बात है लेकिन आपको अपनी शादीशुदा जिंदगी को भी इसके साथ बैलेंस करना आना चाहिए। कुछ लड़कियां अपने स्कूल-कॉलेज की फ्रेंड्स के चक्कर में या नौकरी-बिजनेस से जुड़े कलीग्स के साथ अपने घर-परिवार को हाशिए पर रख देती हैं। जिसका नतीजा यह होता है कि थोड़े समय के लिए तो यह सब चलता है लेकिन इससे बाद आपकी शादीशुदा जिंदगी प्रभावित होने लगती है और हस्बैंड-वाइफ के बीच में गलतफहमियां बढ़ने लगती हैं। इसलिए आपको दोस्तों को कभी भी अपनी शादीशुदा जिंदगी पर हावी नहीं होने देना चाहिए।

इसे भी पढ़ें: ऑफिस के किसी साथी से हो गया है प्यार तो इन 5 बातों का जरूर रखें ध्यान

दोस्ती अपनी जगह है और पति अपनी जगह

never compare your husband with friends  inside four

यह सच है कि दोस्ती का रिश्ता बहुत बड़ा होता है लेकिन यह भी सच है कि पति से बढ़कर कुछ भी नहीं है। अगर आपको यह महसूस होने लगे कि आपके दोस्तों की वजह से हस्बैंड के साथ आपकी बहस हो रही है या आपके बीच में दूरियां बढ़ रही हैं तो सावधान हो जाएं। क्योंकि शादी के बाद अपने हस्बैंड को खुश रखना और उन्हें कम्फर्ट रखना आपकी सबसे बड़ी जिम्मेदारी होती है। हालांकि यह नियम पूरी तरह से पुरुषों पर भी लागू होता है।

पहले अपना समय देखें

never compare your husband with friends  inside three

अगर आप और अपने हस्बैंड दोनों वर्किंग हैं तो जाहिर सी बात है कि आपको साथ में वक्त बिताने के लिए सिर्फ वीकेंड ही मिलता होगा। ऐसे में अगर आपके फ्रेंड्स वीकेंड में पार्टी करने का या गेटटूगेदर होने का प्लान बनाएं तो एकदम से हां न बोलें। बल्कि पहले अपने पति से पूछें कि उन्होंने कुछ प्लान तो नहीं किया है या आपको जाना चाहिए या नहीं? इस तरह आप दोनों में एक दूसरे के लिए प्रति इज्जत भी बढ़ेगी और प्यार भी बढ़ेगा।

इसे भी पढ़ें: पार्टनर के साथ लड़ाई भी मजबूत बना सकती है आपका रिश्ता

बेस्ट फ्रेंड को उसकी लिमिट बताएं

never compare your husband with friends  inside two

अगर कोई लड़का आपका बेस्ट फ्रेंड है तो शादी के बाद उसके साथ उसी तरह का रिश्ता रखें जिससे आपके पति को कोई दिक्कत न हो। भले ही आप अपनी जगह बिल्कुल ठीक हैं, आपकी दोस्ती एकदम प्योर है और आपके पति भी आपकी दोस्ती को समझते हैं लेकिन फिर भी अपने दोस्त को उसकी लिमिट जरूर बताएं। उसे अपने दांपत्य में जरूरत से ज्यादा दखलअंदाजी करने और आपको कभी भी कॉल करने की या मिलने की छूट न दें।

हर बात दोस्तों को न बताएं

never compare your husband with friends  inside one

आपकी दोस्ती बहुत गहरी है और आज तक आपने अपने दोस्तों को अपनी हर बात बताई हो, लेकिन शादी के बाद हर बात उनके साथ अपनी पर्सनल बातें शेयर करना ठीक नहीं है। कुछ बातें ऐसी भी होती हैं जो सिर्फ पति-पत्नी के बीच में रहनी चाहिए। इसलिए दोस्तों को हर बात बताने की गलती न करें।