सभी जानते हैं कि माधुरी दीक्षित को डांस से अत्यधिक प्रेम है। उन्होंने अपनी बातचीत में कहा कि जब उनका मी टाइम होता है, तब भी वह डांस को ही एन्जॉय करती हैं। उन्हें डांस से बेहद प्यार है और वह ताउम्र एक्टिंग और डांसिंग करते रहना चाहती हैं।

माधुरी कहती हैं कि उनकी फिटनेस की भी यही वजह है कि उन्होंने हमेशा डांस को अपनी जिंदगी में शामिल रखा है। जब वह अमेरिका में रहती थीं तब भी वो अपनी क्लासिकल डांस की प्रैक्टिस मिस नहीं करती थीं। हमसे बातचीत के दौरान उन्होंने अपनी पेरेंटिंग और अपनी डांस एकेडमी के बारे में भी बात की।

Read More: सोनू के टीटू की स्वीटी यानि इशिता राज की फिटनेस का फंडा जानें

Madhuri Dixit talking about her secret of fitness and beauty ()

घर पर रह कर ऐसे रहें फिट

फिटनेस को लेकर माधुरी कहती हैं कि वह अपनी ऑनलाइन डांसिंग एकेडमी से खुश हैं। चूंकि उन्हें काफी अच्छा response मिल रहा है। वह कहती हैं कि वह इसके माध्यम से सिर्फ यह कोशिश नहीं कर रही हैं कि किसी को हार्ड ट्रेनिंग दी जाए, बल्कि उनकी कोशिश है कि वह लोगों को और अपने व्युअर्स को आसान डांसिंग स्टेप्स भी सिखाएं। अगर वर्कआउट करने बाहर नहीं जा पा रहे हैं तो इस डांसिंग अकेडमी से वो आराम से घर में रहते हुए भी फिट रह सकते हैं।

Read More: सनी लियोनी जैसा चमकता चेहरा और सेक्सी फिगर चाहिए तो जरूर अजमाएं ये टिप्स

Madhuri Dixit talking about her secret of fitness and beauty ()

यह है माधुरी की खूबसूरती का राज़

माधुरी ने हमसे अपनी खूबसूरती का राज़ भी शेयर  किया और कहा कि आपको हमेशा खुश रहना जरूरी है, तभी आप दिल से खुद को फ्रेश रखने में कामयाब हो सकते हैं। साथ ही माधुरी ने यह भी कहा कि वह अच्छे और हेल्दी खाने पर खासतौर से काम करती हैं, वक़्त पर खाना, अच्छा खाना, योग और डांस को वह अपनी खूबसूरती का क्रेडिट देती हैं।

Madhuri Dixit talking about her secret of fitness and beauty ()

म्यूज़िक में हैं माधुरी के बच्चों का इन्ट्रेस्ट

माधुरी अपनी पेरेंटिंग के बारे में कहती हैं कि वह अपने बच्चों पर कभी भी अपना काम या अपनी पसंद थोपती नहीं हैं। उन्हें लगता है कि किसी को भी ऐसा करना भी नहीं चाहिए। यह पूछे जाने पर कि क्या उनके बच्चों को डांसिंग में दिलचस्पी है? वह कहती हैं कि उनके बच्चे को म्यूज़िक में काफी दिलचस्पी है। गाने को लेकर भी वह कभी-कभी दिलचस्पी दिखाते हैं। माधुरी कहती हैं कि उन्हें इस बात की बेहद ख़ुशी है ही कि उनके बच्चे म्यूज़िक में दिलचस्पी ले रहे हैं, वह कहती हैं कि दोनों तबला और पियानो बजाते हैं। एक वेस्टर्न आर्ट है तो एक इंडियन और मुझे उनके इस टैलेंट पर नाज़ है।

पैरेंटिंग को लेकर माधुरी कहती हैं कि वह इस बात में बिलीव नहीं करती हैं कि आपकी रूचि भी आपके पेरेंट्स की रूचि की तरह हो। ज़रूरी नहीं जो आपको पसंद आए वो आपके बच्चों को भी अच्छा लगे, यह समझना बेहद ज़रूरी है। बच्चों की पसंद न पसंद उनकी उम्र के साथ आती है तो जो वह कहें उन्हें ध्यान में रखते हुए और उनका इन्ट्रेस्ट देखते हुए आपको बच्चों को आगे बढ़ने के लिए प्रोत्साहित करना चाहिए।