गर्भावस्था किसी भी महिला के लिए जितना खुशी का मौका होता है, उतना ही कठिन समय भी होता है। दरअसल, इस समय महिला के शरीर में कई बदलाव होते हैं और उनके साथ सामजस्य बनाना उनके लिए काफी मुश्किल हो जाता है। प्रेग्नेंसी पीरियड में महिला को अपना ख्याल तो रखना ही होता है, साथ ही विशेष रूप से इस बात पर भी फोकस करना होता है कि उसके द्वारा गर्भस्थ शिशु को किसी तरह का नुकसान ना हो। ऐसे में उसे अपने साथ-साथ गर्भ में पल रहे बच्चे के कंफर्ट का भी ख्याल रखना होता है। जैसे-जैसे गर्भ में बच्चा बढ़ने लगता है, तो महिला को सबसे अधिक समस्या सोने में होती हैं, क्योंकि बिस्तर पर लेटने के बाद करवट लेना या फिर कंफर्ट तरीके से सोना उसके लिए काफी मुश्किल होता है।  एक अच्छी नींद ना लेने का विपरीत प्रभाव मां और बच्चे दोनों पर ही पड़ता है। अगर आपको भी गर्भावस्था में इसी समस्या का सामना करना पड़ रहा है तो ऐसे में आप प्रेग्नेंसी पिलो की मदद ले सकती हैं। तो चलिए आज हम आपको प्रेग्नेंसी पिलो और इससे मिलने वाले फायदों के बारे में बता रहे हैं-

जानिए क्या है मैटरनिटी पिलो

pillow for pregnant lady

मैटरनिटी पिलो जिसे प्रेग्नेंसी पिलो भी कहा जाता है, एक ऐसा तकिया होता है जिसे विशेष रूप से गर्भावस्था के दौरान शरीर की बदलती आकृति को ध्यान में रखकर डिजाइन किया जाता है। इस तकिए का शेप व साइज सामान्य तकिए से काफी अलग होती है, जिससे गर्भवती स्त्री को अधिक आरामदायक नींद लेने में मदद मिलती है। यह तकिया गर्भवती महिला के पूरे शरीर को समर्थन प्रदान करते हैं, जिसके कारण यह सामान्य तकियों की तुलना में अधिक लंबे होते हैं। गर्भावस्था के दौरान मैटरनिटी पिलो सोने को अधिक आरामदायक बनाता है। गर्भावस्था के विभिन्न चरणों में इसका इस्तेमाल बेहद फायदेमंद माना जाता है, जब सामान्य स्थिति में सोना प्रेग्नेंट महिला के लिए एक चुनौती बन जाता है।

दर्द से मिलती है राहत

pain relife

जैसे-जैसे गर्भावस्था आगे बढ़ती है, उसके साथ-साथ महिला के शरीर का वजन बढ़ता है, जिसके कारण पीठ, कूल्हों और पैरों पर दबाव बढ़ने लगता है। ऐसे में महिला को शरीर के विभिन्न हिस्सों में दर्द की शिकायत होती है। ऐसे में शरीर के इन अंगों को आराम देना महत्वपूर्ण है, और यह तभी संभव है जब आप अच्छी तरह से सो पाएं। प्रेग्नेंसी पिलो इन हिस्सों को सहारा और आराम प्रदान करता है, जिससे आपको दर्द से भी काफी हद तक राहत मिलती है।

बेहतर ब्लड सर्कुलेशन

blood curculation

करवट लेकर सोने से रक्त संचार बढ़ता है और गर्भवती महिलाओं को इस तरह सोने की सलाह भी दी जाती है। लेकिन बढ़ते पेट के कारण करवट लेकर सोना इतना भी आसान नहीं होता। ऐसे में अगर मैटरनिटी पिलो की मदद ली जाए तो महिला के लिए करवट लेकर सोना आसान हो जाता है, क्योंकि यह आपके पेट को एक सपोर्ट प्रदान करता है। साथ ही करवट लेकर सोने से शरीर में रक्त के संचार को भी बढ़ावा मिलता है।

इसे ज़रूर पढ़ें-शेफाली शाह को एयर होस्टेस के इंटरव्यू में किया गया था रिजेक्ट, जानें उनकी अनसुनी कहानियां

आरामदायक नींद

sleep

यह प्रेग्नेंसी पिलो का एक बेहतरीन लाभ है। दूसरी तिमाही के मध्य में जब महिला के पेट का आकार बढ़ने लगता है तो उसे सोने में काफी कठिनाई होती है और पर्याप्त नींद ना मिल पाने के कारण महिला को थकान व चिड़चिड़ापन ही नहीं होता, बल्कि इसका विपरीत असर उसके गर्भस्थ शिशु पर भी पड़ता है। ऐसे में प्रेग्नेंसी पिलो की मदद लेना यकीनन आपके लिए लाभदायक होगा, क्योंकि इसकी मदद से गर्भवती महिला एक अच्छी नींद ले पाती है और वह खुद को अधिक रिफ्रेश और तनावमुक्त महसूस करती है।

Recommended Video

डिलीवरी के बाद भी मददगार

dilivry

मैटरनिटी पिलो का एक लाभ यह भी है कि आप इसे गर्भावस्था में तो इस्तेमाल कर ही सकती है, साथ ही डिलीवरी के बाद भी यह महिला की मदद करेगा, क्योंकि यह आपको स्तनपान के दौरान अपने बच्चे को सही पोजिशन में रखने में मदद करेगा। ऐसे में बच्चे के लिए स्तनपान करना अधिक आसान व आरामदायक होगा।  

इसे ज़रूर पढ़ें- 40 की उम्र के बाद नींद हो गई है कम, तो ये टिप्‍स आजमाएं

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit- Freepik