देश और दुनिया के सबसे अमीर इंसान के बारे में तो आप जानते ही होंगे। मुकेश अंबानी और जेफ बेजोस लंबे समय से इस तख्त पर बैठे हुए हैं, लेकिन अगर आपसे पूछा जाए कि दुनिया की देश और दुनिया की सबसे अमीर महिला कौन है तो क्या आप जवाब दे पाएंगे? असल में हम सावित्री जिंदल और फ्रेंकोइस बेटनकोर्ट मेयर्स (फ्रेंच एक्सेंट में फ्रांकोआ बेटनकोर्ट मेयर्स - Françoise Bettencourt Meyers) के बारे में इतना नहीं जानते हैं।

अगर दुनिया की सबसे अमीर महिला  फ्रेंकोइस बेटनकोर्ट मेयर्स के बारे में बात करें तो हममें से कई लोग तो उनका नाम भी नहीं जानते हैं, लेकिन मैं आपको बता दूं कि दुनिया के 10 सबसे अमीर इंसानों में सिर्फ एक ही महिला हैं और वो हैं फ्रेंकोइस। तो चलिए आज इस अरबपति महिला के बारे में आपको कुछ बातें बताते हैं।

कौन हैं फ्रेंकोइस बेटनकोर्ट मेयर्स?

आपने कॉस्मेटिक ब्रांड लॉरियल (L'Oreal) के बारे में तो सुना ही होगा। फ्रेंकोइस L'Oreal के फाउंडर यूजीन श्यूलर की नवासी हैं। यूजीन के बाद उनकी संपत्ती पर फ्रेंकोइस की मां का हक हुआ और 2017 में उनकी मां लिलियन के निधन के बाद  56.8 बिलियन डॉलर की संपत्ति फ्रेंकोइस के नाम हो गई। वो उसी समय दुनिया की सबसे अमीर महिला बन गई थी और अब वो और ज्यादा अमीर हो गई हैं।

Françoise Bettencourt Meyers net worth

फ्रेंकोइस को ये संपत्ती उनकी मां के एक करीबी दोस्त से लीगल लड़ाई के बाद मिली थी और उन्होंने उसके बाद से ही कंपनी के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर और एक लेखिका के तौर पर वो बहुत अच्छे से अपनी जिम्मेदारी निभा रही हैं।

इसे जरूर पढ़ें- ये हैं भारत की सबसे अमीर महिलाएं, अरबों रुपए है इनकी संपत्ति

मुकेश अंबानी से बहुत अमीर हैं फ्रेंकोइस-

फोर्ब्स के 2021 के शुरुआती डेटा के मुताबिक भारत के सबसे अमीर इंसान मुकेश अंबानी की कुल संपत्ति 92 बिलियन डॉलर थी और फ्रेंकोइस की 95.9 बिलियन डॉलर (4 लाख करोड़ रुपए से ज्यादा) । इसके अलावा, 2021 के पहले 6 महीने में ही फ्रेंकोइस ने 20.1 बिलियन डॉलर का मुनाफा भी कमाया था। वो अब 100 बिलियन डॉलर के करीब पहुंच सकती हैं। (फोर्ब्स की 100 सबसे अमीर भारतीय)

richest women of world

धर्म से बहुत जुड़ी हुई हैं फ्रेंकोइस- 

फ्रेंकोइस को उनकी मां से कैथोलिक धर्म के हिसाब से पाला है और फ्रेंकोइस खुद भी धर्म से बहुत जुड़ाव महसूस करती हैं। वो कई बाइबल कमेंटेटरीज को लिख चुकी हैं। 

इसे जरूर पढ़ें- ये हैं भारत की 5 सबसे अमीर महिलाएं, जानिए क्या है इनका नेट वर्थ 

उनकी लव स्टोरी में हुआ था विवाद- 

कट्टर कैथोलिक होने के बाद भी फ्रेंकोइस ने जीन पियरे मेयर्स (Jean-Pierre Meyers) से शादी की जो एक यहूदी थे। उन दोनों ने अपने बच्चों जीन विक्टर और निकोलस को भी यहूदी धर्म के हिसाब से ही पाला। क्योंकि फ्रेंकोइस के दादा और लॉरियल कंपनी के फाउंडर यूजीन के जर्मन सरकार (हिटलर के जमाने की) से रिश्तों को लेकर उन पर मुकदमा चल रहा था। हिटलर के जमाने में यहूदियों पर काफी अत्याचार किए जाते थे और इसलिए वो चर्चा में रही थीं, लेकिन आखिर लंबी लड़ाई के बाद फ्रेंकोइस ने कंपनी के 33% शेयर्स पर मालिकाना हक हासिल कर लिया। 

फ्रेंकोइस बेहद सुलझी हुई और सरल महिला हैं। उनकी तस्वीरों में हमेशा स्टाइलिश स्कार्फ के साथ-साथ ट्रेंडी कोट और चशमे दिखेंगे। फ्रेंकोइस कंपनी को आगे बढ़ाने के लिए बहुत कुछ करती हैं और वो आत्मविश्वास से भरी दिखती हैं। 

अगर आपको ये स्टोरी अच्छी लगी है तो इसे शेयर जरूर करें। ऐसी ही अन्य स्टोरी पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी से।