आज के समय में लोगों की सोच पहले की अपेक्षा काफी हद तक बदल गई है और अक्सर वह पुरानी चीजों व तरीकों को यूजलेस समझते हैं। लेकिन ऐसा नहीं है। कहा जाता है ओल्ड इज गोल्ड। जिस तरह हर नई चीज सिर्फ अच्छी नहीं है, ठीक उसी तरह हर पुरानी चीज या सोच में बुराई नहीं है।

बस जरूरत है मॉडर्न और ओल्ड तरीकों में बैलेंस करने का। अगर आप पुराने समय की अच्छी चीजों को चुनकर उसे अपने मॉडर्न लाइफस्टाइल में शामिल करती हैं तो इससे जिन्दगी काफी खुशहाल हो जाती है।

मसलन, पुराने समय में बचत करने की और हेल्दी लाइफस्टाइल जीने की आदत लोगों की जिन्दगी को बेहतर बनाती थी। इसी तरह पुराने समय की कुछ आदतों को अगर आज के समय में अपनाया जाए तो आप सिर्फ अपनी लाइफ ही नहीं, बल्कि रिश्तों को भी काफी हद तक सुधार सकती हैं और मॉडर्न लाइफ के कारण आने वाली रिलेशनशिप प्रॉब्लम्स को आसानी से दूर सकती हैं। जानिए इन ओल्ड फैशन टिप्स के बारे में-

इसे जरूर पढ़ें: एक्स पार्टनर से माफी मांगने के लिए अपनाएं ये तरीके, इस तरह अपने झगड़े को करें खत्म

happy relation life and woman

टेक्नोलॉजी नहीं 

आपने देखा होगा कि जब पुराने समय में कपल्स मिलते थे, तब ना तो उनके बीच फोन होता था और ना ही लैपटॉप। ऐसे में वह कम वक्त में भी अपने रिश्ते को भरपूर जीते थे। लेकिन आज के समय में कपल्स के बीच किसी चीज का संकट है तो वह है समय। अधिकतर जोड़ों को यही शिकायत रहती है कि वह बिजी लाइफस्टाइल के कारण अपने रिश्ते को समय नहीं दे पाते। ऐसे में आप इस ओल्ड फैशन टिप को अपनाएं। यकीन मानिए, इसके बाद आपको कभी भी अपने रिश्ते में समय की कमी नहीं खलेगी।

दें फूल

कुछ समय पहले तक जब भी कपल्स आपस में मिलते थे तो लड़का अधिकतर लड़की के लिए फूल लेकर जाता था। हो सकता है कि आज के समय में आपको यह तरीका ओल्ड फैशन लगता हो। लेकिन यकीन मानिए, इससे आपके पार्टनर के चेहरे पर बड़ी सी मुस्कान छा जाती है। यह पार्टनर के प्रति अपना प्यार व केयर दिखाने का एक बेहतरीन तरीका है।

इसे जरूर पढ़ें: इन संकेतों से पहचानें कि आपको अपना सच्चा साथी मिल गया है

tips to strengthen your relationship

ना करें कॉल

पुराने जमाने में हर किसी के पास फोन नहीं होता था। ऐसे में कपल्स एक-दूसरे को कॉल या मैसेज नहीं कर पाते थे और जब वह शाम को मिलते थे, तो उनके पास एक-दूसरे से बात करने और बताने के लिए बहुत कुछ होता था। आप भी इस तरीके को अपनाकर देखें। एक दिन आप अपने पार्टनर को कॉल या मैसेज ना करें। बल्कि घर लौटने के बाद उनके साथ बैठकर ढेर सारी बातें करें। एक-दूसरे के साथ बैठकर और एक-दूसरे की आंखों में देखकर बातें करने का जो मजा है, वो आपको कॉल या मैसेज में कभी नहीं मिल सकता। इतना ही नहीं, इस तरीके से कपल्स के बीच में प्यार भी बहुत अधिक बढ़ता है।

लिखें लैटर या करें वॉक

आज के जमाने में शायद ही कोई कपल हो जो अपने पार्टनर के लिए लैटर लिखना चाहे। वैसे भी जब हम कॉल पर सारी बातें कर सकते हैं या फिर जरूरी मैसेज फोन के जरिए भेज सकते हैं तो यकीनन ऐसे में लैटर लिखना बेमानी सा लगता है। लेकिन वास्तव में ऐसा नहीं है। लैटर लिखने और उसे पढ़ने का अपना ही एक अलग अहसास है। कभी शायद आपने नोटिस किया हो कि पार्टनर के लिए लैटर लिखते समय हम अपनी उन सभी फीलिंग्स को भी बयां कर देते हैं, जो मन के किसी कोने में छिपी होती हैं और जिन्हें आपने कॉल या मैसेज में कभी नहीं कहा। इसे लिखने में जितनी खुशी मिलती है, पढ़ने वाला व्यक्ति भी उन फीलिंग्स को उतनी ही गहराई से महसूस करता है। इसके अलावा, आप पार्टनर के साथ शाम को पार्क में एक वॉक भी ले सकती हैं। आज भी आपको पार्टनर में ओल्ड कपल्स एक साथ वॉक करते हुए दिख जाएंगे। यह तरीका भले ही पुराना हो, लेकिन आपके रिश्ते को नरिश करता है।

 

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।