हम सभी अपने बच्चों को, उनके जीवन के शुरुआती दिनों से ही यह सिखाते हैं कि झूठ बोलना बुरा है। और मम्मी-पापा से तो कभी भी झूठ नहीं बोलना चाहिए। हालांकि, इसका मतलब यह नहीं है कि जिस बच्चे को हमेशा ईमानदारी से पढ़ाया जाता है, वह अपने जीवन में कभी झूठ नहीं बोलेगा। एक सच यह भी है कि सभी बच्चे समय-समय पर अपने माता-पिता से झूठ बोलते ही हैं। कभी-कभी वे जो पाना चाहते हैं उसे पाने के लिए ऐसा करते हैं। तो कभी-कभी अपने मम्मी-पापा के गुस्से से बचने के लिए ऐसा करते हैं।

हालांकि कई बार वह ऐसा भी होता है कि उनके मन में काफी कुछ चल रहा होता है और वह अपने पैरेंट्स से उसे शेयर नहीं करना चाहते और इसलिए वह उनसे झूठ बोलते हैं। वजह चाहे जो भी हो, लेकिन हर बच्चा अपने जीवन में अपने माता-पिता से कभी ना कभी झूठ बोलता ही है। आपने भी यकीनन अपने बचपन में पैरेंट्स से झूठ बोला होगा। तो चलिए आज हम आपको कुछ ऐसे ही झूठ के बारे में बता रहे हैं। जिन्हें सुनकर कभी आपको हंसी आ जाती है तो कभी गुस्सा-

इसे भी पढ़ें: बचपन में ही दें बच्चों को ये 5 सीख, कभी गलत संगत में नहीं पड़ेगा आपका लाडला

उसने शुरू किया

some  lies that kids tell their parents inside

जिस घर में दो बच्चे हों, वहां पर भाई-बहनों के बीच लड़ाई ना हो, ऐसा तो हो ही नहीं सकता। टीवी के रिमोट से लेकर खिलौनों तक के लिए बच्चे आपस में लड़ बैठते हैं। लेकिन जब मम्मी कमरे में आती है और सच जानना चाहती है, तो हमेशा दोनों बच्चों के मुंह से यही निकलता है कि पहले इसने शुरू किया था। हालांकि सच्चाई दोनों को ही पता होती है, बस मम्मी की डांट से बचने के लिए वह झूठ बोल देते हैं। (बच्चे को सिखाएं पैसे बचाने का हुनर)

Recommended Video

नहीं मम्मा, मैंने नहीं किया

lies that kids tell their parents inside

अगर आप कहीं बाहर से आती हैं और आप देखती हैं कि घर में कुछ गड़बड़ है। मसलन, आपका पसंदीदा वास टूटा हुआ है या फिर घर की दीवार पर कलर्स या पेंसिल से कुछ लिखा गया है या फिर किचन में मौजूद कुकीज और चॉकलेट गायब हैं। और फिर आपको पता चलता है कि बच्चे ने ऐसा किया है। लेकिन जब आप उनसे पूछती हैं तो यकीनन उनका यही जवाब होगा कि नहीं मम्मा, मैंने नहीं किया। खासतौर से, अगर उनका कोई भाई या बहन है तो हो सकता है कि वह उन गलतियों के लिए अपने भाई-बहन को दोषी ठहराएं। अगर वह ऐसा नहीं करते हैं तो भी वह कोई ना कोई बहाना बनाने की कोशिश करेंगे।

इसे भी पढ़ें: Parenting Tips:इन आसान टिप्स की मदद से करें सिंगल चाइल्ड की बेहतरीन परवरिश


होमवर्क मिला ही नहीं 

lies that kids their parents inside

इन दिनों तो ऑनलाइन क्लॉस चल रही हैं और इसलिए पैरेंट्स को बच्चों की हर स्कूल एक्टिविटी के बारे में पता है। लेकिन जब बच्चे स्कूल जाते थे, तब अक्सर अपने काम से बचने, अपना फेवरिट टीवी सीरियल देखने या फिर मस्ती के लिए वह कोई ना कोई बहाना खोजते थे। हो सकता है कि आपने उनसे होमवर्क के बारे में पूछा हो तो अक्सर वह कह देते थे कि उन्हें होमवर्क मिला ही नहीं। इतना ही नहीं, कभी-कभी नंबर कम आने पर बच्चे अपने टेस्ट या रिपोर्ट कार्ड को लेकर भी झूठ बोल देते हैं। (सेंसिटिव बच्चे को इन 5 तरीकों से रखें अनुशासित)

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit:(@freepik)