कंगना रनोट की आने वाली फिल्म 'मेंटल है क्या' ट्रेलर रिलीज से पहले ही विवादों में फंस गई है। फिल्म के पोस्टर्स को लेकर विवाद शूरू हो गया है। हाल ही में दीपिका पादुकोण की संस्था 'द लिव लव लाइफ फाउंडेशन' ने कंगना और राजकुमार राव की फिल्म 'मेंटल है क्या' के पोस्टर की आलोचना की। वहीं, फिल्म 'मेंटल है क्या' को लेकर सवाल उठाए जाने को लेकर कंगना रनोट की बहन रंगोली चंदेल ने दीपिका पादुकोण और उनकी फाउंडेशन को जबाव देने से पीछे नहीं रहीं। रंगोली ने ट्वीट कर फिल्म 'मेंटल है क्या' पर चल रहे विवादों पर जवाब दिया है। बता दें कि इससे पहले 'इंडियन मेडिकल एसोसिएशन' भी इस फिल्म के पोस्टर्स पर सवाल उठा चुका है। IMA ने फिल्म के पोस्टर्स और नाम हटाने की अपील की थी। वहीं, अब दीपिका के फाउंडेशन ने इस फिल्‍म की कड़ी आलोचना की है। इस मामले पर अभी तक कंगना की तरफ से कोई बयान नहीं आया है।

deepika rangoli inside

इसे जरूर पढ़ें: 'गली बॉय' में आलिया की एक्टिंग को लेकर कंगना कह गईं ये बड़ी बात, जानें क्‍या कहा

दीपिका और रंगोली के बीच विवाद तब शुरू हुआ जब दीपिका के फाउंडेशन ने ट्वीट करते हुए लिखा, 'अब हमें दिमागी बीमारी से जूझ रहे लोगों को लेकर इस तरह की भाषा का इस्तेमाल करना बंद कर देना चाहिए। ऐसा करना सिर्फ रूढ़ीवादी सोच को दर्शाता है।' भारत में मानसिक रोग को वैसे ही गलत रूप में देखा जाता है, ऐसे में जरूरत है कि ऐसे विषयों को बड़ी सावधानी और गंभीरता से लिया जाए और जिम्मेदारी के साथ पेश किया जाए।

Recommended Video

वहीं इस ट्वीट पर कंगना की बहन रंगोली ने जवाब देते हुए फिल्म की तरफ से सफाई दी है और इस संस्थान पर अपनी नाराजगी जताई है। रंगोली ने ट्वीट करते हुए लिखा हैं 'कंगना रनोट को तीन राष्ट्रीय पुरस्कार मिले हैं और वो भारत में महिला आंदोलन को आगे बढ़ाने वाली प्रमुख ताकत है। वो इतनी परिपक्व हैं कि अपनी जिम्मेदारी समझ सकें। हम फिल्म की कहानी का खुलासा नहीं कर सकते, लेकिन हमने फिल्म को संजीदगी से बनाया।

रंगोली ने आगे लिखा, 'मैं इतना ही कह सकती हूं कि मणिकर्णिका के लिए स्कूल के बच्चों के लिए खास स्क्रीनिंग रखी थी और मेंटल है क्या के लिए भी हम आपके लिए ऐसा करेंगे। यह एक थ्रिलर फिल्म है जिस वजह से हम इसके किरदारों या कहानी के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं दे सकते हैं, लेकिन पब्लिक को यह फिल्म दिखाने के लिए हम जरूरत के सभी सर्टिफिकेट जरूर हासिल करेंगे। प्लीज कर्णी सेना न बनें और निष्कर्ष पर न कूदें। मुझे यकीन है कि आपको यह फिल्म जरूर पसंद आएगी।'

deepika rangoli inside

रंगोली ने दीपिका को अपने निशाने पर लेते हुए कहा 'मुझे महसूस होता है कि मेंटल है क्या में जिस तरह से कंगना ने इस मुद्दे को लेकर जागरुकता लाने की कोशिश और इस स्थिति को पेश किया है उसे देख आप दीपिका पादुकोण को हटाकर कंगना रनौत को अपना ब्रैंड ऐंबैसडर बना देंगे।'

रंगोली ने आगे विनती करते हुए कहा कि सभी इस फिल्म को अपने प्यार और सपॉर्ट दें। इसके बाद उन्होंने दीपिका के डिप्रेशन वाले फेज को हाइलाइट करते हुए कहा 'और वैसे भी दीपिका पादुकोण कई साल पहले ब्रेक अप होने के कारण डिप्रेशन में गई थीं, अब उनकी शादी हो चुकी है और वह एक खुशहाल शादीशुदा जीवन जी रही हैं।'

deepika rangoli inside

इससे पहले 'इंडियन मेडिकल एसोसिएशन' और 'इंडियन साइकियाट्रिक सोसाइटी' (आईपीएस) ने निर्माताओं से फिल्म का शीर्षक बदलने और पोस्टर को वापस लेने की अपील की थी। आईएमए एक बयान जारी कर कहा था कि टाइटल में जो 'मेंटल' नामक शब्द है और जो कहने का अंदाज है, वह मानसिक रोग की परेशानियां झेल रहे लोगों की हंसी उड़ाता है और उनका अपमान करता है। 'इंडियन साइकायट्रिक सोसायटी' ने टाइटल और पोस्टर्स में जिस तरह से मानसिक रोग से पीड़ित किरदारों को पेश किया गया है उसे लेकर आपत्ति दर्ज करवाई थी और इसे लेकर केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड को चिट्ठी भी लिखी थी।

deepika rangoli inside

इसे जरूर पढ़ें: कंगना की बहन रंगोली ने सोनी राजदान और रणदीप को दिया जबाव

रंगली ने एक के बाद एक कई ट्वीट कर दीपिका पादुकोण की संस्था को ये सारी बातें कही है। रंगोली ने यहां तक कह डाला कि आप 'मेंटल है क्या' देखने के बाद दीपिका को हटाकर कंगना को ही संस्था की ब्रैंड एम्बेसडर बना लेंगे। बता दें कि इससे पहले कई और मुद्दों पर भी रंगोली अपनी बहन कंगना के लिए खड़ी दिखाई दी हैं। हाल ही में कंगना पर हो रहे बयानबाजी पर रंगोली ने रणदीप हुड्डा और सोनी राजदान को ट्वीटर के जरिए कड़ा जबाव दिया था।

Photo courtesy- instagram.com(@rangoli_r_chandel, @team_kangana_ranaut, @deepikapadukone)