टमाटर के बिना लगभग हर भारतीय व्यंजन अधूरा है क्योंकि हर दूसरी सब्जी में टमाटर का इस्तेमाल होता ही है। इसलिए, बहुत-से लोग टमाटर अपने घर के गार्डन में ही उगाना पसंद करते हैं। हालांकि, इसके पौधों को गमलों, घर या खेतों में लगाना बहुत ही आसान है। लेकिन, पौधा लगाने के बाद उसकी समय-समय पर देखभाल करना थोड़ा मुश्किल हो जाता है। अगर पौधे की सही समय पर देखभाल नहीं की जाती है, तो वह खराब होने लग जाते हैं या टमाटर नहीं आते हैं।

साथ ही, अगर टमाटर के पौधे की ठीक से देखभाल नहीं की जाती, तो वह सूखने लग जाते हैं और पौधे के पत्ते भी पीले होने लग जाते हैं। हालांकि, सबसे ज़्यादा लोगों को पत्तों का सूखना और पीला होना जैसी समस्या का सामना करना पड़ता है। अगर आपके टमाटर के पौधे में भी यह समस्या उत्पन्न हो गई है, तो उससे निपटने के लिए आप इस लेख में बताए गए टिप्स को फॉलो कर सकते हैं लेकिन उससे पहले जानते हैं कि आखिर पत्तियां पीली क्यों होने लगती हैं।

आखिर क्यों होती हैं टमाटर की पत्तियां पीली? 

tomato plant

टमाटर के पौधे बिल्कुल हमारी हेल्थ की तरह होते हैं, जिन्हें समय-समय पर पोषक तत्वों की जरूरत होती है। अगर समय पर उन्हें पोषक तत्व नहीं मिलते, तो टमाटर के पौधों में कई तरह की परेशानियां, बीमारियां आदि होने लग जाती हैं। इसलिए पौधे को पोषक तत्व मिलना जरूरी है। लेकिन अगर हम बात करें पीले पत्तों की समस्या की, तो आपको बता दें कि अधिकांश टमाटर के पौधे की पीली पत्तियां इन कारणों से होती हैं, जैसे.. 

  • पौधों की नमी (पानी की मात्रा) 
  • बीज की बेहतरीन शुरुआत ना होना 
  • मिट्टी का पीएच
  • पोषक तत्वों की कमी
  • धूप की मात्रा 
  • संक्रमण का होना 

इसके अलावा भी पीली पत्तियां कई कारणों से हो सकती हैं। (सूखे पत्तों से बनायी जा सकती है पौधों के लिए खाद, जानें तरीका) टमाटर के पौधे की पत्तियां पीली इसलिए भी होती हैं क्योंकि पत्तियों की लाइफ इतनी ही होती है और वह सूख कर गिर जाती हैं और नई पत्तियां आना शुरू हो जाती हैं। 

इन बातों का रखें ध्यान 

अगर आपके टमाटर के पौधे की पत्तियां ज्यादा पीली हो रही हैं तो आप नीचे बताए गए टिप्स को फॉलो करें। 

पोषक तत्व पर दें ध्यान 

How to fix yellow leaves from tomato plant

टमाटर के पौधे की ग्रोथ पूर्ण रूप से तभी होती है ,जब उसे नियमित रूप से सभी पोषक तत्व मिलते हैं। अगर उन्हें सही पोषक तत्व नहीं मिलते, तो वह सूखने लग जाते हैं और उनकी सही ग्रोथ नहीं होती है। इसलिए जरूरी है पौधे की समय-समय पर देखरेख की जाए ताकि पौधा सूखे नहीं और उसे सभी पोषक तत्व मिलते रहें। 

इसलिए पौधे में से सभी पोषक तत्व की कमी को दूर करने के लिए आप नीम खली का इस्तेमाल कर सकती हैं। क्योंकि इसमें मैग्नीशियम-सल्फेट नाइट्रोजन, फास्फोरस और सल्फर सहित प्रमुख खनिजों आदि तत्व भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं, जो पौधे के सेल को तेजी को बढ़ाने में मददगार है। 

पौधे में नमी का सामान्य ना होना

how to remove yellow leaves from tomato plant in hindi ()

टमाटर के पौधे में नमी की उचित मात्रा का ध्यान रखना बहुत आवश्यक है। क्योंकि पानी की मात्रा पौधे की प्रकृति पर निर्भर करती है। अगर आप पौधों को रोज पानी डालते हैं, तो इस बात का ध्यान रखें कि बहुत अधिक पानी पत्तियों के लिए उतना ही हानिकारक हो सकता है। जब मिट्टी अच्छी तरह से नहीं बहती है, तो पानी की अधिकता से मिट्टी में जलभराव हो जाता है। साथ ही, जड़ प्रणाली सचमुच डूब सकती है और ऑक्सीजन के बिना जड़ें मरने लगती हैं। इसलिए पौधों के हिसाब से उन्हें पानी दें। 

इसे ज़रूर पढ़ें-Garden Tips: घर पर आप भी आसानी से उगा सकती हैं रसीले टमाटर, जानिए कैसे

पौधे पर कीटों को ना लगने दें

कई बार टमाटर के पौधे में कीटों की वजह से भी पत्तियां पीली, सिकुड़ने, धब्बे लगने आदि जैसी परेशानियां होने लग जाती हैं। इसलिए आप कोशिश करें कि पौधे में घोंघे और स्लग को निर्जलित करने और मारने के लिए सादे नमक का उपयोग करने के बजाय, एप्सम साल्ट का इस्तेमाल करें। इसके लिए, आप एक कप एप्सम सॉल्ट को पांच गैलन पानी में मिलाएं और पत्ते पर स्प्रे करें। पौधों में इसके नियमित रूप से स्प्रे करने पर कीटों की समस्या दूर हो जाएगी।  

बीजों की अच्छी शुरुआत ना होना 

tomato planting benefits

एक अच्छे प्लांट के लिए जरूरी है बीजों की ग्रोथ पूर्ण रूप से हो। क्योंकि अगर बीजों की ग्रोथ ठीक से नहीं होती, तो पौधों को कई दिक्कतों का सामना करना पड़ता है -जैसे पत्ते सूख जाते हैं और उसमें टमाटर या फूल नहीं आ पाते हैं। इसलिए बीजों को एक बेहतर शुरुआत देने के लिए आप नीम खली का इस्तेमाल कर सकती हैं। क्योंकि इसमें मौजूद मैग्नीशियम पौधों की कोशिका को मजबूत करके और वृद्धि के लिए ऊर्जा प्रदान करके बीज के अंकुरण को बढ़ाता है।

इसे ज़रूर पढ़ें- घर में लगा रहे हैं टमाटर का प्लांट तो मिट्टी तैयार करते समय इन बातों का रखें ध्यान 

धूप का रखें ध्यान 

टमाटर का पौधा प्रकाश यानि धूप की कमी से भी पीला हो सकते हैं। (ये अद्भुत फायदा पाने के लिए सर्दियों में रोजाना सिर्फ 15 मिनट धूप लें) आमतौर पर टमाटर का पौधा उस तरफ से पीले होते हैं, जो प्रकाश स्रोत से दूर होते हैं। इसलिए आप इस बात का भी ध्यान रखें पौधे को उसकी ऊर्जा, प्रकृति के हिसाब से स्थान निर्धारित करें।

इसके अलावा, टमाटर के पौधे की पत्तियां पीली संक्रामक होने के कारण भी हो सकती हैं। अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।

Image Credit- (@Freepik and Google)