दुनिया में हर बच्चा अलग होता है और उसका स्वभाव भी। जहां कुछ बच्चे बेहद चंचल होते हैं और झट से दोस्त बना लेते हैं। वहीं कुछ बच्चों का स्वभाव बेहद शर्मीला होता है। ऐसे बच्चों के घर में अगर कोई मेहमान आ जाए तो वह भागकर अपने कमरे में चले जाते हैं और मेहमान के सामने आने से भी बचते हैं। अगर उन्हें किसी के सामने आना भी पड़ता है, तो वह कुछ भी नहीं बोलते, बस चुपचाप एक जगह पर ही बैठे रहते हैं। ऐसे बच्चों को स्कूल में भी परेशानी होती है, क्योंकि वह ना तो अपने कोई दोस्त बना पाते हैं और सवालों के जवाब मालूम होने के बाद भी उनकी हिम्मत नहीं होती कि वह सीट से खड़े होकर रिप्लाई करें।

बच्चों का यह स्वभाव वैसे तो सामान्य ही माना जाता है, लेकिन वास्तव में इस स्वभाव के कारण उन्हें काफी परेशानी हो सकती है। इतना ही नहीं, बच्चों के इस स्वभाव के चलते मम्मी भी अक्सर परेशान होती हैं। उन्हें समझ ही नहीं आता कि वह बच्चों की झिझक व शर्म को कैसे दूर करें। अगर आप भी ऐसे ही बच्चे की मां हैं तो आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है। आप कुछ आसान टिप्स अपनाकर बच्चे की Shyness को बेहद आसानी से दूर कर सकती हैं-

इसे भी पढ़ें: इन आसान टिप्स की मदद से करें सिंगल चाइल्ड की बेहतरीन परवरिश

करें बात

how to make kids overcome shyness

अगर आपको ऐसा लगता है कि बच्चा बहुत अधिक शर्माता है तो इससे बिल्कुल भी हल्के में ना लें। उसकी झिझक को दूर करने का सबसे अच्छा तरीका है कि आप उससे पहले प्यार से बात करें और यह जानने की कोशिश करें कि वह किसी के भी सामने खुद को एक्सप्रेस क्यों नहीं कर पाता। हो सकता है कि उसके साथ स्कूल या फिर कहीं बाहर गलत व्यवहार हुआ हो और इसलिए अब वह चुप हो गया हो। इसके अलावा, कुछ बच्चे नेचुरली काफी शर्मीले होते हैं। ऐसे में बातचीत के जरिए उसके मन में चल रही उथल-पुथल को जानने का प्रयास करें (बनाएं बच्चे के साथ स्ट्रांग बॉन्डिंग) क्योंकि इसके बाद ही आप समस्या का समाधान कर पाएंगी।

Recommended Video

स्टेज परफार्मेंस

how to make kids overcome shyness

अगर बच्चा स्वभाव से शर्मीला है तो यह जरूरी है कि उसके मन की झिझक को सबसे पहले दूर किया जाए। इसके लिए आप घर में ही एक स्टेज परफार्मेंस प्लॉन करें। जिसमें घर के सभी सदस्य बारी-बारी स्टेज पर आकर कुछ भी बोलें। इसी क्रम में आप बच्चे को भी स्टेज पर परफार्म करने के लिए कहें।

हो सकता है कि शुरूआत में वह मना करे या फिर तरह-तरह के बहाने बनाए। लेकिन उस समय गुस्सा होने के स्थान पर आप उसे प्यार से समझाएं। घर में आप अक्सर इस तरह की एक्टिविटी रखें। इससे ना सिर्फ बच्चे की झिझक दूर होगी, बल्कि उसका आत्मविश्वास भी बढ़ेगा।

खेलें खेल

how to make kids overcome shyness

बच्चों में किसी भी अच्छी आदत को शुमार करने या फिर उनके व्यवहार को सुधारने का एक अच्छा तरीका है कि आप उन्हें खेल के जरिए समझाएं। उनकी शाईनेस को दूर करके उनका सेल्फ कॉन्फिडेंस बूस्ट अप करने के लिए आप उनके साथ गेम खेलें। गेमिंग के दौरान कुछ ऐसी एक्टिविटी रखें, जिसमें उसे दूसरों के साथ दोस्ती करनी हो या फिर रोल प्ले करना हो। इस तरह के गेम बच्चे के मन की झिझक दूर करके दूसरों के साथ इंटरेक्शन करने का मौका देते हैं।

इसे भी पढ़ें: पेरेंटिंग के ये 5 इफेक्टिव टिप्स जो करेंगे आपके बच्चे का बेहतर विकास

अगर आपको यह लेख अच्छा लगा हो तो इसे शेयर जरूर करें व इसी तरह के अन्य लेख पढ़ने के लिए जुड़ी रहें आपकी अपनी वेबसाइट हरजिन्दगी के साथ।